सुखी वैवाहिक जीवन के लिए पुरुष भी रखें इन 2 बातों का ख्याल

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 18, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • आजकल 'शिष्टाचार और 'एटीकेट्स' जैसे शब्द गायब होते जा रहे हैं। 
  • तलाक लेने वाले दंपतियों की संख्या आज जिस तेजी से बढ़ रही है।
  • पुरुषों को घर के काम में पत्नियों की मदद करनी चाहिए।

खुशहाल दांपत्य जीवन की सफलता में शिष्टाचार की भूमिका भी अहम होती है। इससे पार्टनर्स में एक-दूसरे के प्रति प्यार और सम्मान की भावना बढ़ती है। दो लोगों के बीच एक ऐसा खट्टा-मीठा रिश्ता है, जो जितना पुराना होता जाता है, उनके बीच प्यार और विश्वास की नींव उतनी ही गहरी होती जाती है। इस नींव की मजबूती तभी कायम रह सकती है, जब रिश्ते में एक-दूसरे के लिए आदर, सम्मान और शिष्टाचार की भावना हो। तलाक लेने वाले दंपतियों की संख्या आज जिस तेजी से बढ़ रही है, उसके पीछे एक मुख्य कारण यह भी है कि उनके दांपत्य जीवन से 'शिष्टाचार और 'एटीकेट्स' जैसे शब्द गायब होते जा रहे हैं। पति-पत्नी के बीच अशिष्ट भाषा का चलन तेजी से बढ़ रहा है, जो धीरे-धीरे उनके सुखी वैवाहिक जीवन को खोखला बना रहा है।

पति का सहयोग जरूरी

कुछ पतियों की आदत होती है कि घर के काम में पत्नियों की मदद नहीं करते, बल्कि उनके काम को और बढ़ा देते हैं। अगर आप घर के कामों में पत्नी की मदद नहीं कर सकते हैं, तो उनके कामों को और बढ़ाएं भी नहीं। यदि आप पत्नी की मदद करना चाहते हैं तो पहले उनसे पूछ लें कि आप किस तरह से उनकी मदद कर सकते हैं। ऐसा करने से आपका सम्मान कम नहीं होगा बल्कि आपके साथी को अच्छा लगेगा कि आप उन्हें सपोर्ट करना चाह रहे हैं। जहां तक हो सके, अपनी चीजों की देखभाल खुद करें। हर छोटे काम के लिए पत्नी को बोलने के बजाय कुछ काम खुद करें।

इसे भी पढ़ें : शादी के बंधन को मजबूत रखने का 10 बेस्‍ट फॉर्मूला

काम को न टालें

कुछ लोगों को काम टालने की आदत होती है। बेहतर होगा कि काम को टालने के बजाय पत्नी को पहले ही स्पष्ट रूप से बता दें कि आप उनकी मदद नहीं कर सकते। यदि आप काम टालते रहेंगे तो आपकी इस आदत से परेशान होकर वह धीरे-धीरे आप पर विश्वास खोने लगेंगी, जो दांपत्य जीवन के लिए ठीक नहीं है।

आदर देना न भूलें

पत्नी चाहे होममेकर हो या नौकरीपेशा, बातचीत के दौरान शिष्टता बनाए रखें। अधिकतर पतियों की यह आदत होती है कि वे अपनी पत्नी के साथ सही ढंग से बात नहीं करते। उन्हें यह नहीं भूलना चाहिए कि वह आपकी जीवनसाथी हैं। वह भी आपसे उतना ही सम्मान चाहती हैं, जितना आप उनसे चाहते हैं। यदि आप उनसे बेसिक मैनर्स, शिष्टाचार और आदर-सम्मान की उम्मीद रखते हैं तो वह भी आप से ऐसे ही व्यवहार की अपेक्षा रखती हैं।

इसे भी पढ़ें : अपनी गर्लफ्रेंड से 5 तरह के झूठ बोलते हैं पुरूष, जानें क्‍यों

स्पेशल फील कराएं

पत्नी के साथ बाहर जाते समय कुछ छोटी लेकिन महत्वपूर्ण शिष्टाचार संबंधी बातों का ध्यान जरूर रखें, जैसे शॉपिंग बैग्स उठाना, कार में बैठने से पहले उनके लिए दरवाजा खोलना, बाहर लंच या डिनर के समय चेयर ऑफर करना। समय-समय पर पत्नी को उपहार जरूर दें। जरूरी नहीं कि उपहार में डायमंड-गोल्ड की ज्यूलरी, डिजाइनर साडिय़ां या फिर कीमती सामान ही हो। इन छोटी-छोटी बातों से आप उन्हें स्पेशल फील करा सकते हैं। पत्नी की कुकिंग या ड्रेस सेंस की तारीफ जरूर करें।

पत्नी भी रखें खयाल

दांपत्य की गाड़ी दोनों पहियों के सहयोग से चलती है। इस रिश्ते को चलाने की जितनी जिम्मेदारी पति की है, उतनी ही पत्नी की भी है। ऐसे में उन्हें भी कुछ बातों का खयाल रखना जरूरी है। पत्नी को ध्यान रखना चाहिए कि वे बात-बात पर पति को न टोके। उनमें कमी न निकाले। पति को स्पेस दें। हर समय उन पर शक करने या जासूसी करने से दांपत्य जीवन खतरे में पड़ सकता है।

अपनी सहेलियों, पति के दोस्तों, ससुराल और मायके वालों के सामने पति की बुराई न करें। इससे न केवल पति की इमेज खराब होगी, बल्कि आपका इंप्रेशन भी खराब होगा। घर हो या बाहर, दोस्तों व रिश्तेदारों के सामने पति को सम्मान दें। उनकी कमियों के बारे में दूसरों से न बोलें, न ही ताने मारें। हर समय पति के सामने ससुराल व बच्चों की शिकायतों का रोना न रोएं। आपके ऐसे व्यवहार से परेशान होकर पति आपसे बचने की कोशिश करने लगेगा।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Relationship In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES2251 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर