नहीं बढ़ रहे बच्चों के बाल तो अपनाएं ये 5 टिप्स, तेजी से होगा हेयर ग्रोथ

अगर आपके बच्चे के भी बाल उम्र के साथ नहीं बढ़ रहे हैं तो इन टिप्स को अपना सकते हैं। यहां जानें इनके बारे में। 

 
Kunal Mishra
Written by: Kunal MishraPublished at: Jul 21, 2021Updated at: Jul 21, 2021
नहीं बढ़ रहे बच्चों के बाल तो अपनाएं ये 5 टिप्स, तेजी से होगा हेयर ग्रोथ

बाल टूटने, झड़ने या फिर बालों का विकास नहीं होने की समस्या केवल बड़ों के साथ ही नहीं बल्कि बच्चो में भी यह समस्या देखी जाती है। कई बार बच्चों की उम्र तो तेजी से बढ़ती है, लेकिन उनके बालों की लंबाई ज्यों की त्यों रहती है। जबकि उम्र बढ़ने के साथ-साथ बच्चों के बालों का विकास होना भी उतना ही जरूरी होता है। शारीरिक विकास होने के साथ बालों का विकास रुक जाए तो माता-पिता का चिंतित होना लाजमी है। अगर आपके बच्चे के साथ भी ऐसी समस्या है तो यह लेख आपके काम आ सकता है। इस लेख के माध्यम से हम आपको बच्चों के बाल बढ़ाने के कुछ तरीकों के बारे में बताएंगे। कई बार बच्चों के बालों की ओर ठीक तरह से ध्यान नहीं देने या फिर लापरवाही करने आदि से भी बालों की ग्रोथ रुक जाती है। इसलिए बच्चों के बालों को मामूली समझकर या फिर यह समझकर कि उनके बाल उम्र के साथ प्राकृतिक रूप से बढ़ जाएंगे, ऐसी गलतियां बच्चों के बालों के विकास में बाधा बन सकती हैं। चलिए जानते हैं बच्चों के बाल बढ़ाने के कुछ तरीकों के बारे में। 

coconutoil

1. नारियल का तेल लगाएं

नारियल का तेल बालों के विकास के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। नारियल का तेल बच्चों के हेयर फॉलिकल्स पर सीबम को जमने से रोकता है। इसमें विटामिन ई की मात्रा पाई जाती है, जो बच्चों के बाल को बढ़ाते हैं। इस तेल में फैटी एसिड की भी मात्रा पाई जाती है, जो बाल बढ़ाने में सहायक होते हैं। यह तेल बच्चों में प्रोटीन लॉस की आपूर्ति करता है। इसके लिए बच्चों के स्कैल्प पर इस तेल से मसाज करें। इससे स्कैल्प का ब्लड सर्कुलेशन भी अच्छा होता है। 

इसे भी पढ़ें - अपने बच्चे में इन 8 तरीकों से बढ़ाएं आत्मविश्वास

2. शैंपू करें

बच्चों के बालों की ग्रोथ के लिए रोजाना शैंपू करना काफी असरदार माना जाता है। ऐसा करने से उनका स्कैल्प साफ रहता है और उसमें गंदगी जमा नहीं होती है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि जिस शैंपू का आप इस्तेमाल कर रहे हैं वह केवल बच्चों के लिए ही बना हो। क्योंकि उनमें इनग्रीडिएंट्स की मात्रा शून्य होती है। शैंपू करने से बच्चे के स्कैल्प का पीएच लेवल संतुलित रहने के साथ ही स्कैल्प हाइड्रेट भी रहता है। इसलिए डॉक्टर की सलाहनुसार बच्चों को शैंपू करें। 

3. एलोवेरा लगाएं

बच्चों के बालों को एलोवेरा से धोने से बालों की समस्याएं कम होने के साथ ही बालो का विकास भी तेजी से होता है। इससे भी बच्चों के स्कैल्प का पीएच स्तर संतुलित रहता है। एलोवेरा में फैटी एसिड और एमीनो एसिड की मात्रा पाई जाती है, जो बच्चों के हेयर फॉलिकल्स को हेल्दी रखता है। इसके लिए आप बच्चों के बाल को एलोवेरा जेल से धो सकते हैं। वहीं शैंपू और हेयर कंडीशनर में एलोवेरा की थोड़ी सी मात्रा मिलाकर भी बच्चों के बाल को धो सकते हैं। 

इसे भी पढें - बच्चों को चावल का पानी पिलाने से होते हैं ये 5 फायदे, जानें बनाने का सही तरीका

4. कंघी करें

बच्चों के बालों की कंघी करने से भी बाल बढ़ते हैं। बालों की ग्रोथ के लिए नियमित तौर पर कंघी करना काफी फायदेमंद होता है। इससे उनके स्कैल्प में ब्लड सर्कुलेशन सुचारू रूप से होता है। लेकिन इसके लिए आपको बच्चों की कंघी सही तरीके से करनी होगी। उलझे बालों में तेजी से कंघी करने से बच्चे के बाल टूट भी सकते हैं। इसलिए नहलाने के बाद बच्चों के बालों में हल्के हाथों से कंघी करें। साथ ही समय समय पर बालों को कटवाते भी रहें। ऐसा करने से एक तरह से बच्चों के स्कैल्प की मसाज भी होती है। 

dairyproducts

5 डेयरी प्रोडक्ट्स खिलाएं

बच्चों को डेयरी प्रोडक्टस खिलाने से भी बाल मजबूत और बालों का विकास होता है। बालों के विकास के लिए उन्हें पोषण मिलते रहना भी बेहद जरूरी होता है। वहीं डेयरी प्रोडक्टस जैसे दूध, पनीर और मिल्क शेक आदि से बच्चों में अच्छी खासी मात्रा में विटामिन, कैल्शियम और प्रोटीन आदि जैसे पोषक तत्व पहुंचते हैं, जो बालों के विकास में अहम भूमिका निभाते हैं। डेयरी प्रोडक्ट्स में बायोटिन (विटामिन बी 7) और ओमेगा 6 फैटी एसिड पाए जाते हैं, जो बच्चों के बालों के विकास में अहम भूमिका निभाते हैं।

बच्चों के बालों की ग्रोथ के लिए आप लेख में दी गई टिप्स को अपना सकते हैं। इससे उनके बालों की ग्रोथ तेजी से होगी। 

Read more Articles on Parenting Tips in Hindi 

Disclaimer