Doctor Verified

गैस के कारण पीठ में दर्द की समस्या को कैसे ठीक करें? डॉक्टर से जानें इसके लक्षण, कारण और बचाव के टिप्स

Gas in Back: पेट, सीने के साथ ही पीठ में भी गैस बन सकती है। इस दौरान पीठ में तेज दर्द महसूस हो सकता है। जानें पीठ में गैसे के लक्षण, कारण और बचाव

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Mar 28, 2022Updated at: Mar 28, 2022
गैस के कारण पीठ में दर्द की समस्या को कैसे ठीक करें? डॉक्टर से जानें इसके लक्षण, कारण और बचाव के टिप्स

Gas in Back Symptoms in Hindi:  मांसपेशियों में तनाव, मांसपेशियों में ऐंठन, चोट, खराब शारीरिक मुद्रा में बैठना, मोटापा और अधिक वजन पीठ में दर्द के मुख्य कारण होते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं पीठ में गैस बनने पर भी दर्द महसूस हो सकता है। जी हां, जिस तरह पेट, सीने में गैस बनती है उसी तरह पीठ में भी गैस बन सकती है। पीठ में दर्द दर्द गैस बनने के कारण (Gas in Back Causes in Hindi) भी हो सकता है। इस दौरान व्यक्ति को उल्टी, जी मिचलने जैसी समस्याएं भी हो सकती है। लेकिन सही लाइफस्टाइल की मदद से पीठ के गैस (Gas in Back in Hindi) को आसानी से निकाला जा सकता है। चलिए कामिनेनी अस्पताल, हैदराबाद के वरिष्ठ सामान्य चिकित्सक और मधुमेह विशेषज्ञ डॉ. मुक्शीथ कादरी (Dr.Muqshith Quadri, Senior General Physician & Diabetologist, Kamineni Hospitals, Hyderabad) से विस्तार से जानते हैं पीठ में गैस के लक्षण, कारण और बचाव-

back pain

पीठ में गैस के लक्षण (Gas in Back Symptoms in Hindi)

जिस तरह पेट या सीने में गैस बनने पर दर्द महसूस होता है, ठीक उसी तरह पीठ में गैस बनने पर भी दर्द महसूस होता है। पीठ में गैस बनने पर भी कई लक्षण नजर आते हैं। जानें पीठ में गैस के लक्षण (Gas in Back Symptoms)- 

  • पीठ में दर्द होना
  • पीठ दर्द के साथ जी मिचलाना
  • उल्टी
  • पेट और पीठ की मांसपेशियों में दर्द होना
  • पीठ में खिंचाव महसूस होना
  • पेट का दर्द पीठ तक पहुंचना

पीठ में गैस के कारण (Gas in Back Causes in Hindi)

जब हम खाना खाते हैं और यह अच्छी तरह से पचता नहीं है, तो गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में गैस बन सकती है। यह गैस शरीर के किसी भी हिस्से में बन सकती है। पेट की सूजन और आंतों की गैस ऊपरी शरीर में हल्के से लेकर गंभीर समस्याओं का कारण बन सकती है। गैस तेज दर्द पैदा कर सकती है। गैस होने पर पूरा पेट भरा हुआ महसूस होता है, पेट में भारीपन का अहसास हो सकता है। यह गैस पीठ तक फैल सकता है, जिससे पीठ दर्द और सूजन हो सकती है। पेट के वायरस जैसी छोटी गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याएं भी तीव्र गैस दर्द का कारण बन सकती हैं। ब्लोटिंग, जो गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में गैस भरने से होती है, पीठ दर्द से जुड़े मामलों का कारण बनता है।

back pain

इसे भी पढ़ें - खाना खाने के बाद पेट में दर्द और गैस की होती है समस्या? डॉक्टर से जानें इसका कारण और उपाय

पीठ में गैस से बचाव के उपाय (Back Gas Pain Prevention in Hindi)

पीठ में गैस बनने पर आप कुछ बचाव टिप्स को भी फॉलो कर सकते हैं। इससे आपके शरीर में पाचन में सुधार होगा। आप पेट में दर्द, पीठ में दर्द, पेट में भारीपन आदि से बचेंगे। पीठ में गैस बनने पर ये उपाय आजमाएं-

  • गैस को रोककर न रखें। गैस निकलने दें।
  • मल त्याग भी सही से करें। मल त्याग होने पर गैस से राहत मिलती है
  • खाना धीरे-धीरे और चबा-चबाकर खाएं।
  • धूम्रपान से परहेज करें।
  • मैदा, जंक फूड आदि खाने से परहेज करें।
  • गैर-कार्बोनेटेड ड्रिंक्स पिएं। अपनी डाइट में फाइबर सही मात्रा में शामिल करें।

अगर आपको लंबे समय तक पीठ में दर्द (Back Pain Causes) महसूस हो तो इस लक्षण को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। पीठ में दर्द गैस के कारण से भी हो सकता है। अगर आपको कुछ दिनों में पीठ के दर्द में आराम ने मिले, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

Disclaimer