खाने के बाद आती है तेज नींद और महसूस होती है थकान? जानें इसके कारण और समस्या दूर करने के उपाय

आपमें से बहुत से लोग ऐसे होंगे जिन्हें खाने के बाद आलस, नींद और थकान महसूस होती होगी, जानें इसके कारण और बचाव के टिप्स।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Sep 13, 2021Updated at: Sep 13, 2021
खाने के बाद आती है तेज नींद और महसूस होती है थकान? जानें इसके कारण और समस्या दूर करने के उपाय

आपमें से बहुत से लोग ऐसे होंगे जिन्हें खानपान खाने के बाद नींद आने लगती होगी या आलस महसूस होता होगा। इसकी वजह से आपका कामकाज और सेहत दोनों प्रभावित हो सकते हैं। दरअसल या समस्या ज्यादातर उन लोगों में होती है जिनका पाचन पैटर्न और नींद का पैटर्न सही नहीं है। कुछ ऐसे भी लोग होंगे जिन्हें दोपहर के खाने के बाद तेजी से नींद और सुस्ती आने लगती होगी। इस मुद्दे को लेकर हुई तमाम शोध और अध्ययन इस बात का इशारा करते हैं कि इसके पीछे एक प्राकृतिक प्रतिक्रिया है लेकिन कई लोगों का यह मानना है कि इसमें आपके खानपान और लाइफस्टाइल का भी बड़ा रोल हो सकता है। दरअसल खाने के बाद नींद और थकान आने की एक सबसे बड़ी वजह नींद का पूरा न होना या नींद से जुड़े डिसऑर्डर से ग्रसित होना भी होता है। तो आइये जानते हैं भोजान के बाद नींद और सुस्ती आने के कारण और इसके बचाव के बारे में।

क्यों आती है खाने के बाद नींद और सुस्ती? (Causes of Feel Tired and Sleepy After Meals)

ज्यादातर लोगों में यह देखा गया है कि उन्हें दोपहर के खाने के बाद नींद और आलस अधिक आता है। वहीं ऐसे बहुत कम लोग है जिन्हें हमेशा खाने के बाद नींद आना और आलस महसूस होता है। इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। भोजन के बाद नींद और थकान इस बात पर निर्भर करती है कि आपने कब, कितना और क्या खाया। कुछ एक्सपर्ट्स का मानना है कि भोजन के बाद नींद आना शरीर के अंदर होने वाले डाइजेशन प्रोसेस के दौरान केमिकल रासायनिक चेंज की वजह से होता है और इसके अलावा नींद न आना या पर्याप्त नींद न लेना भी इसका एक प्रमुख कारण होता है। सामान्यतः भोजन के बाद नींद और आलस महसूस करने के कुछ प्रमुख कारण इस प्रकार से हैं।

Tired-and-Sleepy-After-Meals-Causes-Prevention

(image source - freepik.com)

इसे भी पढ़ें : बच्चों में शारीरिक-मानसिक विकास से जुड़ी गंभीर बीमारी है 'डेवलपमेंटल डिसऑर्डर', जानें इसके लक्षण, कारण और इलाज

1. हॉर्मोन की वजह से

दरअसल जब आप भोजन करते हैं तो इसके पाचन तंत्र में पहुंचते ही यह एनर्जी यानी ग्लूकोज में बदल जाता है। खाने को एनर्जी में बदलने की इस प्रक्रिया में कोलेलिस्टोकिनिन, ग्लूकाजन और एमाइलिन जैसे हॉर्मोन रिलीज होते हैं जिसकी वजह से आपको नींद या आलस महसूस हो सकता है। ये हॉर्मोन आपके दिमाग को झपकी लेने या नींद का संकेत देने का काम करते हैं।

इसे भी पढ़ें : तनाव और मानसिक समस्याओं से जूझ रहे लोगों के लिए फायदेमंद है फॉरेस्ट बाथिंग (Forest Bathing), जानें इसके लाभ

2. आपके भोजन की वजह से

जब आप हाई प्रोटीन और कार्ब्स से भरपूर भोजन करते हैं तो इसकी वजह से भी आपको भोजन के बाद नींद आने की समस्या हो सकती है। उदहारण के लिए जब आप पालक, सोया, अंडा या चावल आदि का सेवन करते हैं तो इसकी वजह से शरीर में नींद को रेग्युलेट करने वाला सेरोटोनिन बढ़ जाता है। जिसकी वजह से आपको नींद या आलस महसूस होता है।

Tired-and-Sleepy-After-Meals-Causes-Prevention

(image source - freepik.com)

3. नींद न पूरी होने की स्थिति में 

अगर आप नींद से जुड़ी किसी समस्या के शिकार हैं या आप रोजाना पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं तो आपको दोपहर के भोजन के बाद नींद और आलस जरूर महसूस होगा। जब आप नियमित रूप से पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं तो इसकी वजह से आपके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता है जिसकी वजह से दोपहर में भोजन करते ही आपका दिमाग शरीर को नींद का संकेत देता है।

इसे भी पढ़ें : आधी-अधूरी नींद (स्लीप डेब्ट) का आपके मन और शरीर दोनों पर पड़ता है बुरा असर, डॉक्टर से जानें बचाव के तरीके

4. शारीरिक गतिविधि न करने पर

दोपहर में भोजन के बाद नींद और आलस या हमेशा भोजन के बाद नींद और आलस ऐसे व्यक्तियों को अधिक हो सकता है जो शारीरिक गतिविधियों पर कम ध्यान देते हैं। शारीरिक रूप से एक्टिव रहने से आपके शरीर की एनर्जी बढ़ती है और शरीर फ्रेश रहता है। जब आप शारीरिक गतिविधि में कम ध्यान देते हैं तो इसकी वजह से आपकी नींद भी प्रभावित हो सकती है और भोजन के बाद नींद या आलस भी महसूस हो सकता है।

खाने के बाद नींद आने की समस्या से कैसे बचें? (How To Prevent Feel Tired and Sleepy After Meals?)

खाने के बाद नींद और थकान या आलस की समस्या से बचने के लिए आप इन बातों का ध्यान रख सकते हैं।

  • रात को पर्याप्त नींद लें।
  • नींद लेने समय रोज समान रखें।
  • शारीरिक गतिविधि जैसे योग या एक्सरसाइज जरूर करें।
  • खुद को हमेशा हाइड्रेटेड रखें।
  • भोजन के साथ शराब का सेवन न करें।
  • एक साथ अधिक भोजन करने के थोड़ा-थोड़ा करके कई बार खाएं।
  • मानसिक सेहत का ध्यान रखें।
  • डिप्रेशन, तनाव आदि से बचने के लिए ध्यान और योग का सहारा लें।

हमें उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपको यह समस्या लगतार होती है तो इसके निदान के लिए आप डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। इसके अलावा इस विषय से जुदा कोई सवाल अगर आप हमसे पूछना चाहते हैं तो उसे कमेंट बॉक्स में लिखकर भेज सकते हैं।

(main image source - freepik.com)

Read More Articles on Mind and Body in Hindi

Disclaimer