Aldosterone Hormone And Hypertension: एल्डोस्टेरोन हार्मोन की अधिकता बन सकती है हाई ब्‍लड प्रेशर का कारण

Aldosterone Hormone And Hypertension: अधिवृक्क ग्रंथियों द्वारा स्रावित एल्डोस्टेरोन हार्मोन हाइपरटेंशन या हाई ब्‍लड प्रेशर का कारण बन सकता है।

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: May 28, 2020Updated at: May 28, 2020
Aldosterone Hormone And Hypertension: एल्डोस्टेरोन हार्मोन की अधिकता बन सकती है हाई ब्‍लड प्रेशर का कारण

हाइपरटेंशन या हाई ब्‍लड प्रेशर दुनिया भर में सबसे आम और गंभीर स्वास्थ्य स्थितियों में से एक है। जिस दर के साथ हाई ब्‍लड प्रेशर के मामले बढ़ रहे हैं, वह हम सभी के लिए चिंता का विषय है। कुछ साल पहले हाई ब्‍लड प्रेशर केवल वृद्ध लोगों की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं में गिना जाता था। लेकिन अब युवा भी अनियमित ब्‍लड प्रेशर की समस्‍या से पीडि़त हैं और इससे निपट रहे हैं। हालांकि, हाई ब्‍लड प्रेशर के लिए जीवन शैली को दोषी ठहराया जाना मुख्य बिंदु है, लेकिन कुछ आंतरिक कारक भी हैं, जो हाई ब्‍लड प्रेशर की समस्‍या का कारण हो सकते हैं। उन्‍हीं समस्‍याओं में से एक एल्डोस्टेरोन हार्मोन है। शायद आपने पहले इस हार्मोन का नाम न सुना हो, अधिकांश लोगों के लिए यह एक नया शब्द हो सकता है क्योंकि यह अन्य हार्मोनों के विपरीत कम से कम सुना जाता है। लेकिन यदि आप अपने स्वास्थ्य से प्यार करते हैं, तो आपको शरीर पर एल्डोस्टेरोन हार्मोन के प्रभाव और एल्डोस्टेरोन हार्मोन डिसऑर्डर के बारे में पता होना चाहिए।

एल्डोस्टेरोन हार्मोन क्या है?

Aldosterone Hormone And Hypertension

एड्रेनालाईन रश क्या है और यह शरीर को क्या प्रभाव डालता है, इस बारे में तो आपने सुना होगा। अधिवृक्क ग्रंथियां इस एल्डोस्टेरोन हार्मोन के उत्पादन के कारण होती हैं। यह एक स्टेरॉयड हार्मोन है, जो अधिवृक्क ग्रंथियों की बाहरी परत द्वारा स्रावित होता है। जबकि एड्रेनालाईन रश एक सकारात्मक प्रभाव है। एल्डोस्टेरोन हार्मोन का नकारात्मक प्रभाव हृदय को मिलता है। यह मानव शरीर में हाई ब्‍लड प्रेशर का एक सामान्य, लेकिन अनजाना कारण है। जब शरीर में इस हार्मोन की अधिकता होती है, तो यह हाई ब्‍लड प्रेशर का कारण बनता है। 

इसे भी पढ़ें: नीदं में गड़बड़ी बन सकती है स्‍ट्रोक सर्वाइवरों के लिए कार्डियो-सेरेब्रोवास्कुलर का जोखिम का कारक

एल्डोस्टेरोन हार्मोन बन सकता है हाई ब्‍लड प्रेशर का कारण 

एल्डोस्टेरोन हार्मोन लार ग्रंथियों, गुर्दे और पसीने की ग्रंथियों को सोडियम में परिवर्तित करने के लिए जाना जाता है। एल्डोस्टेरोन हार्मोन के अधिक उत्पादन की स्थिति को एल्डोस्टेरोनिज़म कहा जाता है, जो हृदय स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है। ऐसा इसलिए, क्योंकि यह हाई ब्‍लड प्रेशर का कारण बनता है। ऐसा चार मेडिकल इंस्‍टीट्यूट- अलबामा विश्वविद्यालय, ब्रिघम और महिला अस्पताल, यूटा विश्वविद्यालय और वर्जीनिया विश्वविद्यालय द्वारा किए गए एक संयुक्त शोध द्वारा पाया गया है। इसके अलावा, न्‍यूट्रिशनिस्‍ट का कहना है कि तरबूज खाने से हाई ब्‍लड प्रेशर को कम किया जा सकता है । 

Excess Of Aldosterone Hormone Can Cause Hypertension

क्‍या कहती है रिसर्च? 

यह शोध एनल्स ऑफ इंटरनल मेडिसिन में प्रकाशित हुआ। शोधकर्ताओं ने सामान्य ब्‍लड प्रेशर, हाई ब्‍लड प्रेशर स्‍टेज 1, हाई ब्‍लड प्रेशर स्‍टेज 2 और प्रतिरोधी हाइपरटेंशन जैसे सभी ब्‍लड प्रेशर स्‍टेज और लेवल के साथ विभिन्न रोगियों का अध्ययन किया, ताकि एल्डोस्टेरोन उत्पादन और एल्डोस्टेरोनिज़्म के स्तर की जांच की जा सके।

इसे भी पढ़ें: बच्‍चों की ब्रेन एक्टिविटी से पता चलती है उनकी याददाश्‍त क्षमता, शोध में हुआ खुलासा

अध्‍ययन के निष्कर्षों की जांच करने पर, शोधकर्ताओं में से एक ने शोध के बाद कहा: "प्राथमिक एल्डोस्टेरोनिज़्म को पारंपरिक रूप से हाई ब्‍लड प्रेशर का एक असामान्य कारण माना जाता है। हालांकि, इस अध्ययन के निष्कर्षों से पता चलता है कि यह पहले से पहचाने जाने की तुलना में बहुत अधिक सामान्य है।"

इससे पता चलता है कि एल्डोस्टेरोन हार्मोन का अतिउत्पादन हृदय स्वास्थ्य के लिए खतरा है। सामान्य दवाएं ही हैं, जो स्थिति को प्रभावी ढंग से नियंत्रित कर सकती हैं और हाई ब्‍लड प्रेशर के जोखिम को रोक सकती हैं।

Read More Article on Health News In Hindi

Disclaimer