क्या डायबिटीज के मरीज देसी घी खा सकते हैं? जानें डायटीशियन से

डायब‍िटीज के मरीजों के ल‍िए देसी घी का सेवन सेफ होता है या नहीं, इसके बारे में जानने के ल‍िए पढ़ें पूरा लेख

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Sep 23, 2021
क्या डायबिटीज के मरीज देसी घी खा सकते हैं? जानें डायटीशियन से

भारत‍ीय खाने में हम घी का सेवन लगभग हर द‍िन करते हैं, घी से खाने का स्‍वाद बढ़ जाात है पर जब आपको बीमारी हो तो ये सवाल उठता है क‍ि क‍िन चीजों से परहेज करें और क‍िनका सेवन करें। इसी तरह डायब‍िटीज रोग‍ियों को भी ये डर रहता है क‍ि उनके ल‍िए घी का सेवन फायदेमंद होता है या नहीं। देसी घी की बात करें तो उसमें स्‍वस्‍थ फैट होता है जो आपके खाने में मौजूद पोषक तत्‍वों को नष्‍ट नहीं होने देता। इस प्रक्र‍िया के कारण ब्‍लड शुगर लेवल कंट्रोल होता है पर घी का ज्यादा सेवन आपके ल‍िए हान‍िकारक भी हो सकता है। इस लेख में हम इस पर चर्चा करेंगे क‍ि डायब‍िटीज रोग‍ी को देसी घी का सेवन करना चाह‍िए या नहीं। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के वेलनेस डाइट क्‍लीन‍िक की डायटीश‍ियन डॉ स्‍म‍िता सिंह से बात की।

ghee in diabetes

(image source:redcowdairy)

क्‍या डायब‍िटीज के मरीज देसी घी खा सकते हैं? (Can diabetic patient can consume ghee)

हां डायब‍िटीज के मरीज देसी घी का सेवन कर सकते हैं पर क‍िसी भी चीज का ज्‍यादा सेवन आपके ल‍िए हान‍िकारक हो सकता है पर सीम‍ित मात्रा में घी का सेवन करें तो डायब‍िटीज पर इसका कोई असर नहीं पड़ता। घी खाने से गट हार्मोन की फंग्‍शन‍िंग बेहतर होती है और गट हार्मोन, इंसुलिन हार्मोन को बेहतर करता है ज‍िससे डायब‍िटीज कंट्रोल रहती है। आप अगर देसी घी का इस्‍तेमाल करें तो कोलेस्‍ट्रॉल लेवल भी कंट्रोल रहेगा। कई डायट‍ीश‍ियन के मुताब‍िक, देसी घी का इस्‍तेमाल फायदेमंद होता है, वहीं कुकिंग ऑयल हमारी सेहत को नुकसान पहुंचाता है। डायब‍िटीज के मरीज खानपान को लेकर परेशान रहते हैं पर ब्‍लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के ल‍िए आप तेल की जगह देसी घी का इस्‍तेमाल करें।

इसे भी पढ़ें- भैंस का घी या गाय का घी, कौन है ज्यादा फायदेमंद? जानें न्यूट्रीशनिस्ट से

हाई ब्‍लड शुगर में भी घी खा सकते हैं? (Can you consume ghee in high sugar)

घी में फैटी एस‍िड मौजूद होता है जो हाई ब्‍लड शुगर को कंट्रोल करने का काम करता है पर आपको इस बात का खास खयाल रखना है क‍ि गाय का घी ही खाएं। पाचन तंत्र के ल‍िए भी घी फायदेमंद होता है। आप रोजाना घी की सही मात्रा लें तो कब्‍ज की समस्‍या से छुटकारा पा सकते हैं।

क्‍या घी डायब‍िटीज कंट्रोल करता है? (Ghee controls diabetes or not)

ghee consumption

(image source:shopify.com)

घी में व‍िटामि‍न के की मात्रा मौजूद होती है और उसमें एंटी-ऑक्‍सीडेंट्स भी होते हैं जो क‍ि आपकी रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करते हैं। इम्‍यून‍िटी बढ़ने से डायब‍िटीज का खतरा कम होता है और घी का सेवन करने से डायब‍िटीज भी कंट्रोल में रहती है। अगर आप डायब‍िटीज के मरीज हैं तो आपको द‍िल की बीमारी होने की आशंका ज्‍यादा होगी पर देसी घी में ल‍िनोलेइक एस‍िड होता है ज‍िससे द‍िल से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

इसे भी पढ़ें- A2 घी के सेवन से बूस्‍ट होती है इम्‍यूनिटी, रोगों का हो जाता है नाश, जानिए क्‍या है 'ए2 घी'

डायब‍िटीज रोगी घी का इस्‍तेमाल कैसे करें? (How to use ghee in diabetes)

अगर आपको डायब‍िटीज है या डायब‍िटीज के लक्षण नजर आ रहे हैं तो कुक‍िंग ऑयल का सेवन पूरी तरह से बंद कर दें। पराठे बनाने के ल‍िए आप तेल की जगह आधा चम्‍मच घी का इस्‍तेमाल करें। पराठे को हेल्‍दी बनाने का तरीका ढूंढ रहे हैं तो आप पराठा सूखा सेक लें और उस पर आधा चम्‍मच घी डाल दें। वहीं सब्‍जी को पकाने के ल‍िए आप घी का इस्‍तेमाल करें। हालांक‍ि एक्‍सट्रा फैट लेने से भी बचना चाह‍िए जैसे कुछ लोग दाल में एक्‍सट्रा घी ऊपर से डालकर खाते हैं पर आप डायब‍िटीज के मरीज हैं तो ऐसा करने से बचें। 

बेशक देसी घी हमारी सेहत के ल‍िए फायदेमंद होता है पर इसका ज्‍यादा सेवन न करें, आपको एक द‍िन में दो चम्‍मच से ज्‍यादा घी का सेवन नहीं करना चाह‍िए।

(main image source:health.clevelandclinic,hearstapps)

Read more on Healthy Diet in Hindi 

Disclaimer