World Cancer Day 2022: महिलाओं में कैंसर होने पर दिखते हैं ये शुरुआती लक्षण, न करें नजरअंदाज

महिलाओं में कैंसर होने पर कुछ शुरुआती लक्षण नजर आते हैं। ऐसे में आपको इन्हें बिल्कुल भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। चलिए जानते हैं इनके बारे में

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: May 31, 2021Updated at: Feb 03, 2022
World Cancer Day 2022: महिलाओं में कैंसर होने पर दिखते हैं ये शुरुआती लक्षण, न करें नजरअंदाज

जब शरीर में कोई बीमारी जन्म लेती है, तो आने से पहले अपना संकेत जरूर देती है। जब महिलाओं में कैंसर सेल्स की ग्रोथ होती है, तो इस स्थिति में भी कुछ ऐसे शुरुआती लक्षण या संकेत नजर आते हैं, जिन्हें हम अकसर सामान्य मानकर नजरअंदाज कर देते हैं जिससे बाद में समस्या बढ़ जाती है। आज 04 फरवरी 2022 को विश्व कैंसर दिवस (World Cancer Day) के मौके पर जानते हैं महिलाओं में कैंसर के बारे में जरूरी बातें। कैंसर के लक्षणों को शुरुआत में ही पकड़ लिया जाए, तो इस पर जीत हासिल की जा सकती है। ऐसे में आज हम आपको कैंसर के कुछ ऐसे शुरुआती लक्षणों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें कभी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। वॉर्कहार्ट हॉस्पिटल, मुंबई सेंट्रल के कंसल्टेंट ऑल्कोलॉजिस्ट डॉक्टर प्रीतम जैन (Consultant Oncologist Dr Pritam Jain Wockhardt Hospital, Mumbai Central) से जानते हैं महिलाओं में दिखने वाले कैंसर के शुरुआती लक्षणों के बारे में-

cancer

डॉक्टर प्रीतम जैन बताते हैं कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं में कैंसर होने की संभावना ज्यादा होती है। महिलाओं में स्तन कैंसर होना सबसे सामान्य है। इसके बाद सर्वाइकल और ओवेरियन कैंसर होने की संभावना अधिक रहती है। अगर आपको कोई भी असामान्य लक्षण नजर आते हैं, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

महिलाओं में कैंसर के शुरुआती लक्षण (Early symptoms of cancer in Women)

गर्दन में सूजन (Swelling in Neck)

अगर आपको गर्दन में सूजन हो रही है, तो आपको सतर्क होने की जरूरत होती है। क्योंकि यह ब्रेस्ट कैंसर का शुरुआती लक्षण हो सकता है। दुनियाभर में महिलाओं को सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाला कैंसर ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) ही है। यह कैंसर किसी भी उम्र की महिलाओं को हो सकता है। भारत में ज्यादातर युवा महिलाएं इस बीमारी से पीड़ित हैं। गर्दन में सूजन होना भी ब्रेस्ट कैंसर का एक लक्षण हो सकता है। इसके अलावा ब्रेस्ट कैंसर होने पर स्तनों या बगल में गांठ, निप्पल डिस्चार्ज, भूख न लगना, हड्डियों में दर्द रहना, सांस लेने में कठिनाई होना और पेट में दर्द भी ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। इतना ही नहीं गर्दन में सूजन होना लंग कैंसर (Lung Cancer) का भी एक लक्षण होता है। साथ ही छाती में दर्द होना, बलगम निकलना और सांस लेने में तकलीफ भी लंग कैंसर के लक्षण हैं। 

इसे भी पढ़ें - पित्त की थैली में कैंसर के लक्षण, कारण और बचाव के टिप्स

शारीरिक संबंध बनाने के दौरान दर्द (Pain During Physical Relationship)

वैसे तो शारीरिक संबंध बनाने के दौरान दर्द होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। लेकिन यह सर्वाइकल कैंसर (Cervical Cancer) होने का शुरुआती लक्षण भी हो सकता है। यह ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं को होने वाला सबसे आम कैंसर है। इस कैंसर में महिलाओं को शुरुआत में शारीरिक संबंध बनाने के दौरान दर्द होने के साथ ही योनि स्त्राव और मेनोपॉज के बाद ब्लीडिंग जैसे लक्षण भी नजर आते हैं। ऐसे में इन लक्षणों को कतई भी नजरअंदाज न करें और शुरुआत में दिखते ही डॉक्टर से संपर्क करें। अगर शुरुआत में लक्षणों पर ध्यान दिया जाता है, तो कैंसर को ठीक किया जा सकता है। 

cancer

हर समय पेशाब आने का अहसास होना (Feeling of Urinating all Time)

बार-बार पेशाब आना डायबिटीज (Diabetes) का एक लक्षण होता है। लेकिन कई मामलों में यह कैंसर का भी संकेत हो सकता है। यह लक्षण ज्यादातर ओेवेरियन कैंसर (Ovarian Cancer) का होता है। इसके साथ ही ओेवेरियन कैंसर होने पर पेल्विक एरिया या पेट में दर्द, पेट में सूजन-फैलाव और योनि स्त्राव भी इसके संकेत हो सकते हैं। लेकिन शुरुआत में बार-बार पेशाब आना इसका लक्षण हो सकता है। अगर आपको ये लक्षण दिखाई दे, तो तुंरत डॉक्टर से कंसल्ट करें। 

इसे भी पढ़ें - ट्रिपल निगेटिव ब्रेस्ट कैंसर क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

मेनोपॉज के बाद ब्लीडिंग होना (Bleeding After Menopause)

मेनोपॉज के बाद ब्लीडिंग होना बिल्कुल भी सामान्य नहीं है। ऐसे में अगर आपको खुद में ये लक्षण दिखाई दे, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। कई बार ऐसा होना गर्भाशय के कैंसर (Uterine Cancer) का शुरुआती लक्षण हो सकता है। इसके साथ योनि स्त्राव, पेट दर्द और पेल्विक एरिया में दर्द, दबाव भी इसका लक्षण होता है।

महिलाओं में कई तरह के कैंसर होते हैं। ऐसे में अकसर उनके शरीर में कुछ ऐसे लक्षण नजर आते हैं, जो कैंसर होने का संकेत हो सकते हैं। किसी भी लक्षण को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। कैंसर के शुरुआती लक्षण दिखते ही तुरंत डॉक्टर से संपर्क कर अपना इलाज करवाएं। 

Read More Articles on Cancer in Hindi

Disclaimer