Lockdown 3.0 : क्‍या सचमुच शराब पीने या क्‍लोरीन के छिड़काव से नहीं होता कोरोनावायरस? जानें क्‍या कहता है WHO

कोरोना वायरस इन दिनों सबसे गंभीर स्‍वास्‍थ्‍य मुद्दा बना है, जिसको लेकर कई मिथक भी राउंड कर रहे हैं। जैसे, शराब पीने से कोरोना वायरस से बचाव होता है।

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Mar 11, 2020Updated at: May 06, 2020
Lockdown 3.0 : क्‍या सचमुच शराब पीने या क्‍लोरीन के छिड़काव से नहीं होता कोरोनावायरस? जानें क्‍या कहता है WHO

इन दिनों कोरोना वायरस का प्रकोप इतना अधिक बढ़ गया है कि जिसके चलते हमारे आसपास कई मिथक राउंड कर रहे हैं और हम उन पर विश्‍वास कर रहे हैं। कई देशों में इसका खौफ बना हुआ है और भारत में भी लगातार कोरोना वायरस का आंकड़ा बढ़ता चला जा रहा है। एक तरफ देश की सरकार और डॉक्‍टर इस कोरोना वायरस महामारी से बच निकलने का राश्‍ता तलाश रहे हैं, तो वहीं स्थिति ऐसी भी है कि सोशल मीडिया या इंटरनेट वर्ल्‍ड पर इससे जुड़ी कई अफवाहें भी फैल रही हैं।  कोरोना से जुड़ी हर सच और जूठ बातें हवा की तरह फैल रही है और लोग बिना कुछ जाने समझे उन पर यकीन भी कर रहे हैं। इन्‍हीं मिथकों में से एक यह है कि शराब पीने से घातक वायरस मर सकता है या फिर शराब पीने वालों को कोरोना वायरस का खतरा नहीं है। जबकि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस मिथक का भंडाफोड़ किया है और क्‍या सच है यह बताया है। 

Alcohol Not Protect Against Coronavirus

क्‍या शराब पीने से कोरोना वायरस से बचाव होता है? 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, 'जिन लोगों को लगता है कि कोरोना वायरस से सुरक्षित रहने और घातक वायरस से बचाव के लिए शराब पीना सही है, वह सरासर गलत है। WHO कहता है, '' नहीं, शराब पीने से आपको नोवल कोरोना वायरस से सुरक्षा नहीं मिलती है। अल्कोहल का सेवन हमेशा मॉडरेशन में करना चाहिए और जो लोग शराब नहीं पीते हैं, उन्हें कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के प्रयास में शराब पीना शुरू नहीं करना चाहिए।"

इसके अलावा, शरीर पीने, शराब या क्लोरीन का छिड़काव करने से भी शरीर में पहले से ही प्रवेश किए गए वायरस को नहीं मारा जा सकता। 

ग्‍लोबल हेल्‍थ एजेंसी के अनुसार, ऐसे पदार्थों का छिड़काव कपड़े या आंखों और मुंह के लिए हानिकारक हो सकता है। डब्ल्यूएचओ ने कहा है, "ध्यान रखें कि शराब और क्लोरीन दोनों कीटाणुनाशक लिए उपयोगी हो सकते हैं, लेकिन उन्हें उपयुक्त सिफारिशों के तहत ही उपयोग करने की आवश्यकता है।''

संगठन के अनुसार, नए कोरोनोवायरस के खिलाफ खुद को बचाने के लिए सबसे प्रभावी तरीका अल्‍कोहल बेस्‍ड हैंड सैनिटाइजर से हाथों को साफ करना या साबुन और पानी से हाथ धोना। 

इसे भी पढें: कोरोनावायरस के कहर से बचाने में मददगार है एल्‍कोहॉल बेस्‍ड सैनिटाइजर, जानें कैसे बनाएं 

Corona virus Lockdown 3.0

क्‍या पानी पीने से भी कम हो सकता है कोरोना वायरस का खतरा? 

शराब पीने के अलावा और भी कई ऐसे मिथक हैं, जिन पर लोग विश्‍वास कर रहे हैं, जिसमें- गर्म पानी से नहाना कोरोना वायरस से बचाता है या फिर ज्‍यादा से ज्‍यादा पानी पीना भी कोरोना वायरस से बचा सकता है। जबकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने यह भी खुलासा किया है कि गर्म पानी से नहाने से नए कोरोनोवायरस रोग की रोकथाम नहीं होती है। इसके अलावा पानी पीना आपके शरीर को हाइड्रेट रखता है और समग्र स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छा है, लेकिन यह कोरोना वायरस के संक्रमण को नहीं रोकता। 

कोरोनावायरस से बचाव के टिप्‍स: 

1. कोरोना वायरस से बचाव के लिए सबसे जरूरी बात, जो WHO और सभी हेल्‍थ एक्‍सपर्ट भी बताते हैं, वह है अपने हाथों को नियमित रूप से धोएं। इसके अलावा, अल्कोहल-बेस्‍ड सैनिटाइज़र का उपयोग करें। 

2. मैट्रो, बस या ऑटो में कहीं भी ट्रैवल के समय किसी भी चीज को पकड़ने या छूने से बचें। यदि आप कही भी किसी हैंडल को पकड़ते हैं, तो मुंह पर हाथ लगाने से बचें और सैनिटाइजर का इस्‍तेमाल करें। 

3. खांसने और छींकने के समय, अपने मुंह और नाक को कोहनी से ढकें या एक टिश्‍यु का इस्‍तेमाल करें और उसे तुरंत बंद डस्‍टबिन में डाल दें। 

इसे भी पढें: आपकी इन 5 गलतियों से बढ़ सकता है कोरोना वायरस का खतरा

4. बुखार, खांसी-जुखाम और सांस लेने में तकलीफ होने वाले किसी भी व्यक्ति के निकट संपर्क से बचें। लगभग 1 फीट की दूरी बनाए रखें। 

5. टी ज़ोन को छूने से बचें, यानि बार-बार अपने नाक, आंख और मुंह पर हाथ लगाने से बचें और भीड़भाड़ वाली जगह पर न जाएं। यदि जरूरी है, तो मास्‍क लगाना न भूलें। 

6. इसके अलावा, यदि आप खुद भी किसी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या से पीडि़त हैं या फिर आपको बुखार, खांसी और सांस लेने में कठिनाई हो रही है, तो जल्द डॉक्‍टर को दिखाएं और अपनी ट्रैवल हिस्‍ट्री भी बताएं।  

Read More Article On Other Diseases In Hindi

Disclaimer