Coronavirus: आपकी इन 5 गलतियों से बढ़ सकता है कोरोना वायरस का खतरा

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप मे यह समझना जरूरी है कि आप इन गलतियों को करने से बचें, जो कि वायरस के खतरे को बढ़ा सकती हैं। 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Mar 06, 2020Updated at: Mar 06, 2020
Coronavirus: आपकी इन 5 गलतियों से बढ़ सकता है कोरोना वायरस का खतरा

इस समय देशभर में कोरोना वायरस सबसे बड़ी समस्या बना है। कोरोना वायरस के कहर के चलते सरकार से लेकर हेल्‍थ एक्‍सपर्ट सभी, हर व्‍यक्ति को सावधानी और सतर्कता बरतने की सलाह दे रहे हैं। कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए सबसे जरूरी है, कि आपको इसके सामान्‍य लक्षण और इससे बचाव के तरीके मालूम हों। लेकिन इसके अलावा, यह भी जरूरी है कि आप इन 5 गलतियों को करने से बचें, जो कि कोरोना वायरस के खतरे को बढ़ा सकती हैं। आइए यहां जानएि, वे गलतियां क्‍या हैं। 

अगर आप बीमार हैं, तो लोगों से मिलना-जुलना बदं कर दें 

सबसे पहले और जरूरी बात कि जैसे आपको COVID-19 या कोरोना वायरस लक्षण महसूस हों, तो आप लोगों से मिलना-जुलना बदं कर दें। जब तक कि आप COVID-19 टेस्‍ट न करवा लें और नेगेटिव रिजल्‍ट न आए। कोरोना वायरस के लक्षणों में हल्के बुखार, खांसी या गले में खराश और सांस लेने में तकलीफ शामिल हैं। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (CDC) भी इस बात की सिफारिश करता है। ऐसे लक्षणों के दिखते डॉक्‍टर से मिलें और ट्रीटमेंट लें। 

डॉक्‍टर के बजाय अफवाहों पर विश्‍वास करना 

इन दिनों सोशल मीडिया और यहां तक कि कुछ साइटें भी गलत अफवाहों को बढ़ावा दे रहे हैं। ऐसे में आप कोशिश करें कि अफवाहों पर विश्‍वास न करें और न ही उन्‍हें आगे बढ़ावा दें, बल्कि डॉक्‍टर या हेल्‍थ एक्‍सपर्ट की बात पर ही विश्‍वास करें। 

घरेलू उपारों की तलाश

यदि आप बीमार हैं, तो ऐसे समय में कोशिश करें कि घरेलू उपाचारों के बजाय डॉक्‍टर को दिखाएं। हालांकि, कुछ वैकल्पिक उपचार आपकी प्रतिरक्षा को मजबूत करने में मदद जरूर कर सकते हैं, लेकिन ऐसा नहीं है कि आपको वायरस से बचा सके। इसलिए नुस्‍खों के पीछे भागने के बजाय वैज्ञानिक रूप से समर्थित हेल्‍थ ट्रीटमेंट लें। क्‍योंकि घरेलू नुस्‍खों के भरोसे बैठना बीमारी को बढ़ावा दे सकते हैं। 

इसे भी पढें: बेमौसम बरसात आपको बना सकती है कई बीमारियों का शिकार, कोरोना वायरस और सामान्य फ्लू में न हों कंफ्यूज

साफ-सफाई की आदतें न अपनाना 

Coronavirus Prevention Tips

कोरोना वायरस हो या कोई अन्‍य वायरस, हर बीमारी से बचने के लिए सबसे जरूरी है, साफ-सफाई रखना। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (CDC) ने भी कोरोना वायरस से बचाव के तरीकों में साफ-सफाई पर ध्‍यान देने को महत्‍वपूर्ण बताया है। आप यहां दी गई कुछ आदतों को अपना सकते हैं: 

  • ऐसे लोगों से सीमित दूरी बनाए और संपर्क से बचना, जो बीमार हैं।
  • अपने टी ज़ोन को छूने से बचना यानि अपनी आँखें, नाक और मुँह नहीं छूना।
  • अगर आप बीमार हैं, तो घर पर रहें।
  • खांसी या छींक को कवर करें और एक टिश्‍यु का इस्‍तेमाल कर उसे तुरंत कूड़े में फेंक दें। इसके अलावा कोहनी से भी आप मुंह को कवर करके खांस सकते हैं। 
  • लोगों से हाथ मिलाने से बचें। हाथ मिलाने के बलाय नमस्‍ते कर हैलो, हाय और अभिवादन करें।  
  • नियमित रूप से घरेलू सफाई स्प्रे या वाइप्स का उपयोग करके वस्तुओं और सतहों को बार-बार साफ करना।
  • यदि COVID-19 के लक्षण दिख रहे हैं, या यदि आप स्वास्थ्य देखभाल कर्मी हैं तो फेस मास्क पहनना बहुत जरूरी है। 
  • कम से कम 20 सेकंड के लिए अपने हाथों को साबुन और पानी से धोएं। इसके अलावा, घर से बाहर अल्कोहल बेस्‍ड हैंड सैनिटाइज़र का उपयोग करें, जिसमें कम से कम 60% अल्कोहल हो। 

फेस मास्क या रेस्पिरेटर्स

यदि आपको लगता है कि केवल मास्‍क पहनने से वायरस से बचा जा सकता है, जो यह सरासर गलत है। क्‍योंकि कोरोना वायरस आपके नाक, मुंह और आंखो से भी प्रवेश करता है। इसलिए भीड़ भाड़ वाली जगहों में न केवल मास्‍क, बल्कि आंखों की की रक्षा की भी जरूरत है। इसके अलावा, सर्जिकल या कोई भी नार्मल मास्‍क इससे बचाव नहीं कर सकता, इसके लिए N95 मास्‍क सुरक्षा की पेशकश कर सकता है। लेकिन ऐसा नहीं है कि आप मास्‍क के पीछे दौड़ने लगें। 

Read More Article On Other Diseases In Hindi 

Disclaimer