बाजार, खुली-गंदी जगह या गंदे पब्लिक टॉयलेट में पेशाब करने से हो सकती हैं ये 9 बीमारियां, जानें इनसे कैसे बचें

खुले में टॉयलेट करना पड़ सकता है भारी, जाने क्या-क्या बीमारी हो सकती है। बीमारी से कैसे बचाव कर सकते हैं। इस आर्टिकल में।

Satish Singh
Written by: Satish SinghUpdated at: Jul 30, 2021 13:57 IST
बाजार, खुली-गंदी जगह या गंदे पब्लिक टॉयलेट में पेशाब करने से हो सकती हैं ये 9 बीमारियां, जानें इनसे कैसे बचें

भारत में यूं तो कई अच्छाईयां हैं लेकिन कुछ बुरी आदतें भी हैं जो सिर्फ कुछ लोगों की आदतों में देखने को मिलता है। इन्हीं बुरी आदतों के कारण सभी लोगों को बदनाम होना पड़ता है। आपने यह महसूस किया होगा कि राह चलते कई लोग बाइक सड़क किनारे खड़ी कर टॉयलेट करने लगते हैं तो कई लोग बाजार में दीवारों के आगे टॉयलेट करने लगते हैं। यही वजह भी है कि यहां कि ज्यादातर दीवारों पर ‘यहां पेशाब करना मना है’ लिखा होता है। बावजूद लोग वहीं टॉयलेट करते हैं। कहीं उनमें से आप भी तो एक नहीं.... यदि नहीं हैं तो अच्छी बात है और अगर हैं तो इस आर्टिकल को पढ़ें। उसके बाद फिर कभी भी आप दीवार के आगे पेशाब करने की जुर्ररत नहीं करेंगे। एसबीआई जमशेदपुर के सीनियर कंसल्टेंट डॉ. उदय कुमार सिन्हा बताते हैं कि सार्वजनिक जगहों पर पेशाब करने से 9 प्रकार की बीमारियां हो सकती हैं। इनसे बचने के लिए पढ़ें यह आर्टिकल।

खुले में नहीं करना चाहिए टॉयलेट

लोगों को सार्वजनिक जगहों पर कभी भी टॉयलेट नहीं करना चाहिए या फिर वैसी जगह जहां ज्यादा गंदगी हो, लोग बार-बार टॉयलेट करते हैं उन जगहों पर टॉयलेट करने से परहेज करना चाहिए। क्योंकि वैसी जगहों पर टॉयलेट करने से कई प्रकार की बीमारियां हो सकती है। तो आइए आज के इस आर्टिकल में घर के बाहर टॉयलेट करने के नुकसान के बारे में बात करते हैं, वहीं जानने की कोशिश करते हैं कि सार्वजनिक जगहों पर टॉयलेट करने से किन-किन परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। क्या-क्या बीमारी हो सकती है। ऑफिस में हो या फिर सफर पर निकलें हो कॉमन बाथरूम का इस्तेमाल सही तरीके से कैसे करें इन तमाम विषयों पर हम एक्सपर्ट से बात कर समस्या से निजात पाने के उपायों के बारे में जानते हैं।

क्यों होती है यह बीमारी

महिलाओं की तुलना में पुरुष ज्यादा लापरवाह होते हैं। सामाजिक जिम्मेवारी के तहत ही सही उनको सिर्फ टॉयलेट में ही पेशाब करना चाहिए। लेकिन नामझी और ज्यादा पढ़े-लिखे न होने के कारण वो बाजार में, दीवार के आगे खड़े होकर बेशर्मों की तरह पेशाब करते हैं। एसबीआई जमशेदपुर के सीनियर कंसल्टेंट डॉ. उदय कुमार सिन्हा बताते हैं कि सार्वजनिक जगहों पर टॉयलेट करने से संक्रमण का काफी ज्यादा खतरा रहता है। यह पुरुष हो या फिर महिलाएं दोनों को ही ये बीमारी हो सकती है। इन बीमारियों में मच्छरों के काटने से मलेरिया, डेंगू, गोनोरिया, सिफलिस की बीमारी हो सकती है। इसके अलावा सामान्य बीमारियों में सेक्शुअल ट्रांसमिटेड डिजीज (एसटीडी) की बीमारी भी हो सकती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि संभव है कि एसटीडी से पीड़ित किसी व्यक्ति ने उस खास जगह पर पेशाब किया हो, उसके बाद यदि कोई और उसी जगह पर जाकर पेशाब करे तो उसे भी संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है और वो बीमार को सकता है। यही वजह है कि डॉक्टर लोगों को सतर्क रहने की सलाह देते हैं। इसके अलावा लोगों में यूरिनरी ट्रैक इंफेक्शन का खतरा भी रहता है, जिसमें उन्हें प्राइवेट पार्ट में बर्निंग सेनसेशन, इरीटेशन, स्किन इंफेक्शन जैसी बीमारी का होने का खतरा रहता है।  

Toilet In Public Place

इसे भी पढ़ें : बार-बार पेशाब लगने का कारण हो सकता है 'ओवर एक्टिव ब्लैडर', जानें इसके लक्षण और बचाव के उपाय

सार्वजनिक जगह पर पेशाब करने से हो सकती है ये बीमारी

  • गोनोरिया
  • सिफलिस
  • मच्छर के काटने से डेंगू और मलेरिया
  • सेक्शुअल ट्रांसमिटेड डिजीज होने का खतरा
  • यूरिनरी ट्रैक इंफेक्शन होने का खतरा
  • पेशाब में जलन
  • प्राइवेट पार्ट में खुजली
  • स्किन इंफेक्शन जैसी बीमारियां

सफर पर निकलने से पहले या ऑफिस में हो सकती है बीमारी

अक्सर आपने यह महसूस किया होगा कि जब भी आप सफर पर निकलते हैं तो चाहें रोड से सफर कर रहे हो या फिर ट्रेन से... पब्लिक टॉलेट गंदे ही मिलते हैं। डॉक्टर बताते हैं कि कोशिश यही होनी चाहिए कि कम से कम टॉयलेट करने के पहले और टॉयलेट करने के बाद में पानी डाल देना चाहिए। ठीक ऐसा हर व्यक्ति को करना चाहिए। इससे सफाई बनी रहेगी। ऑफिस में भी लोगों को इसी प्रकार की अच्छी आदतों को व्यवहार में शामिल करना होगा। ऐसा करने से लोग बीमारियों से बच सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : पुरुषों में प्रोस्टेट बढ़ने का लक्षण हैं पेशाब की समस्याएं, आयुर्वेदिक जूस से कम करें प्रोस्टेट का बढ़ना

यूरिनरी ट्रैक इंफेक्शन होने का खतरा

सार्वजनिक जगहों पर टॉयलेट करने से यदि वो संक्रमण से ग्रसित हो जाएं तो उन्हें टॉयलेट करने में जलन, स्किन इंफेक्शन सहित अन्य परेशानी जैसे बार-बार पेशाब का आना जैसी दिक्कतें हो सकती है। उस स्थिति में डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए। वैसे इनमें से कई बीमारियां इतनी अधिक खतरनाक हैं कि मरीज चाहकर भी घर पर नहीं रुक सकता है। उसे एक्सपर्ट की सलाह लेनी ही पड़ती है।

सार्वजनिक जगहों पर पेशाब करने से बचें

खुले में पेशाब करने से गंभीर प्रकार की बीमारी हो सकती है। इससे बचाव का एक उपाय तो यह है कि घर से कहीं निकलें तो पेशाब करके निकलें। दूसरा यह कि सार्वजनिक जगहों पर कोशिश करें कि टॉयलेट न करें। वॉशरूम का इस्तेमाल करते समय भी पानी से साफ कर लें फिर यूज करें और यूज करने के बाद भी पानी से धो दें। ऐसा हर किसी को करना चाहिए। ऐसा कर बीमारियों से बचाव संभव है।

Read more articles on Diseases on Other Diseases

Disclaimer