Doctor Verified

डेंगू और टाइफाइड के लक्षणों में अंतर: डॉक्टर से जानें इनके लक्षण और बचाव के टिप्स

डेंगू और टाइफाइड की समस्या में दिखने वाले ज्यादातर लक्षण एक जैसे होते हैं, जानें डेंगू और टाइफाइड के लक्षणों में अंतर और इससे बचाव के टिप्स।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: May 19, 2022Updated at: May 19, 2022
डेंगू और टाइफाइड के लक्षणों में अंतर: डॉक्टर से जानें इनके लक्षण और बचाव के टिप्स

मौसम में बदलाव और मच्छरों का प्रकोप बढ़ने से डेंगू, टाइफाइड और मलेरिया जैसी मच्छरजनित बीमारियों के मामले बढ़ने लगते हैं। इस समय देश के कुछ राज्यों में डेंगू के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। डेंगू से पीड़ित मरीजों को टाइफाइड की समस्या भी देखी जा रही है। समय पर इलाज न मिलने पर यह बीमारियां बहुत गंभीर हो जाती हैं और कई बार इलाज के अभाव में मरीज की मौत भी हो जाती है। दरअसल डेंगू और टाइफाइड (Typhoid and Dengue in Hindi) के बुखार में मरीजों में दिखने वाले लक्षण एक जैसे ही दिखते हैं। अक्सर लोग डेंगू और टाइफाइड की समस्या में अंतर पहचान नहीं पाते हैं। डेंगू की बीमारी एडीज नामक मच्छरों के काटने से फैलती है वहीं टाइफाइड की समस्या में मरीज के ब्लड स्ट्रीम में बैक्टीरियल इन्फेक्शन होता है और इसकी वजह से टाइफाइड का बुखार शुरू होता है। टाइफाइड के बुखार में मरीज को सालमोनेला टाइफी नामक बैक्टीरिया का इन्फेक्शन होता है। डेंगू औरटाइफाइड की बीमारी में दिखने वाले लक्षण आमतौर पर एक जैसे ही होते हैं। इस समस्या में बुखार, शरीर में दर्द, सर्दी-जुकाम और भूख न लगने की समस्या देखी जाती है। डेंगू और टाइफाइड दोनों ही बीमारी में लापरवाही जानलेवा हो सकती है। आइये एक्सपर्ट डॉक्टर से जानते हैं डेंगू और टाइफाइड की बीमारी और इनके लक्षणों में अंतर।

डेंगू और टाइफाइड के लक्षणों में अंतर (Difference Between Typhoid and Dengue Symptoms in Hindi)

डेंगू और टाइफाइड की समस्या में दिखने वाले लक्षण लगभग एक जैसे ही होती हैं। ऐसे में अक्सर मरीज इन दोनों समस्याओं के बीच अंतर नहीं कर पाते हैं। बाबू ईश्वर शरण हॉस्पिटल के सीनियर फिजिशियन डॉ अलोक कुमार के मुताबिक डेंगू का बुखार होने पर मरीजों में खास तरह का लक्षण दिखाई देता है। डेंगू का बुखार होने पर मरीज की आंखों में भी तेज दर्द होता है। वहीं अगर टाइफाइड की समस्या है आपको कुछ लक्षण डेंगू की तरह से ही दिखाई देते हैं लेकिन इन दोनों बीमारियों में बड़ा अंतर होता है, आइये जानते हैं। 

इसे भी पढ़ें : Dengue, Malaria और Flu के लक्षण: जानें ये संक्रमण कैसे हैं ये एक दूसरे से अलग

Typhoid-and-Dengue-Symptoms-Prevention

डेंगू के लक्षण (Dengue Symptoms in Hindi)

डेंगू की समस्या में मरीज को बुखार आने के साथ-साथ हाथ और पैर में गंभीर दर्द की शिकायत भी रहती है। इसके अलावा डेंगू के मच्छरों के काटने के 7 दिन बाद भी ये लक्षण दिखने शुरू हो सकते हैं। डेंगू की समस्या में मरीज में दिखने वाले प्रमुख लक्षण इस प्रकार से हैं।

  • तेज बुखार।
  • सिर दर्द।
  • मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द।
  • शरीर पर लाल रंग के चकत्ते।
  • आंख में तेज दर्द।
  • उल्टी और मतली की समस्या।
  • हड्डियों में दर्द।
  • प्लेटलेट्स कम होना।

टाइफाइड के लक्षण ( Typhoid Symptoms in Hindi)

  • सिर और पेट में गंभीर दर्द। 
  • ठंड लगने के साथ तेज बुखार। 
  • शरीर कमजोर होना। 
  • भूख कम लगने की समस्या। 
  • स्किन पर गहरे रंग के रैशेज। 
  • उल्टी, दस्त और मतली। 
  • बुखार 102 डिग्री ज्यादा रहना।
  • पेट में खराबी और कब्ज रहना।

डेंगू और टाइफाइड से बचाव के टिप्स (Typhoid and Dengue Preventions in Hindi)

डेंगू और टाइफाइड के लक्षण दिखने पर मरीज को सबसे पहले डॉक्टर के सलाह के बाद अपनी जांच करानी चाहिए। जांच के बाद डॉक्टर से इसका इलाज सही समय पर लेना चाहिए। इलाज के दौरान आपको डॉक्टर कुछ चीजों से परहेज करने की सलाह दे सकते हैं। आपको उसका ध्यान जरूर रखना चाहिए। डेंगू और टाइफाइड की समस्या में आपका प्लेटलेट काउंट तेजी से कम होने लगता है इसलिए आपको डाइट का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इस दौरान आपको साफ पानी और हेल्दी डाइट का सेवन करना चाहिए। डेंगू और टाइफाइड की समस्या से बचने के कुछ जरूरी टिप्स इस प्रकार से हैं।

  • डेंगू और टाइफाइड की समस्या में तली-भुनी चीजें और अधिक मसालेदार भोजन से बचना चाहिए। 
  • इस दौरान आपको चाय, सिगरेट और कॉफी आदि का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • शरीर को डिहाइड्रेशन से बचाने के लिए आपको तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए।
  • इस समस्या में साफ पानी पीना चाहिए, आप चाहें तो पानी को उबालकर रख लें और फिर इसका इस्तेमाल करें।
  • बुखार तेज होने पर ठंडे पानी की पत्तियों का इस्तेमाल करें।
  • मच्छरों से बचने के लिए पूरी बांह के कपड़े पहने।
  • आसपास मच्छरों को पनपने न दें।
  • लक्षण गंभीर होने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

डेंगू और टाइफाइड की समस्या में दिखने वाले लक्षण भले ही एक जैसे होते हैं लेकिन ये दोनों समस्याएं अलग होती हैं। डेंगू बुखार से पीड़ित मरीज को समस्या बढ़ने पर टाइफाइड हो सकता है। डेंगू और टाइफाइड के लक्षण दिखने पर सबसे पहले आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। सही समय पर इसका इलाज न होने पर आपको कई समस्याएं हो सकती हैं। 

(All Image Source - Freepik.com)

 
Disclaimer