टाइफाइड के इन लक्षणों को ना करें नजरअंदाज, राहत पाने के लिए आजमाएं ये 6 घरेलू उपचार

टाइफाइड दूषित खाना खाने या पानी पीने की वजह से होता है। जिसकी वजह से आंतें प्रभावित हो जाती हैं। इस कारण ठंड लगना और बुखार आम लक्षण हैं।

 
Monika Agarwal
घरेलू नुस्‍खWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jan 29, 2022Updated at: Jan 29, 2022
टाइफाइड के इन लक्षणों को ना करें नजरअंदाज,  राहत पाने के लिए आजमाएं ये 6 घरेलू उपचार

टाइफाइड बैक्टीरियल इनफेक्शन की वजह से होता है यह बैक्टीरियल इनफेक्शन होने का कारण सालमोनेला टायफी बैक्टीरिया है। यदि हाइजीन का ध्यान न रखा जाए और दूषित पानी या भोजन किया जाए तो यह संक्रमण जकड़ लेता है। कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल में जनरल फिजिशियन डॉ विनय भट्ट बताते हैं कि यह बैक्टीरियल इंफेक्शन आपके इंटेस्टिनल ट्रैक्ट को प्रभावित करता है। इसके बाद यह खून में पहुंच जाता है। यह इंटेस्टिनल फीवर के नाम से भी जाना जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि यह मुख्य रूप से आंतों को प्रभावित करता है। इस दौरान तेज बुखार और शरीर में दर्द होता है। साथ ही भूख भी कम लगती है। कुछ लोगों में स्किन रैश की भी समस्या हो जाती है। इससे आसानी से रिकवर हुआ जा सकता है। अगर आप टाइफाइड से संक्रमित हैं तो कुछ घरेलू उपचार से आप इस समस्या में आराम पा सकते हैं और आपको रिकवर होने में मदद मिल सकती है। पहले जानते हैं इसके लक्षणों के बारे में।

insideTyphoidsymptoms

टाइफाइड के लक्षण (Symptoms Of Typhoid)

  • सर्दी लगना और बुखार होना।
  • सिर दर्द होना।
  • पेट दर्द होना।
  • उल्टियां आना और जी मिचलाना।
  • भूख न लगना।
  • कमजोरी आना।
  • स्किन पर रैश होना।
  • नाक से खून निकलना।

टाइफाइड के उपचार के लिए घरेलू नुस्खे-Home Remedies for Typhoid

1. एप्पल साइडर विनेगर का सेवन करें : 

एप्पल साइड विनेगर आपके शरीर में pH बैलेंस मेंटेन करने में मदद करता है। यह शरीर से गर्मी निकालता है इसलिए तापमान भी कम होता है। डायरिया होने के कारण शरीर से मिनरल्स के लॉस की भरपाई एप्पल साइडर विनेगर कर देता है। पानी में एक चम्मच एप्पल साइडर विनेगर मिलाएं और उसे पी जाएं।

इसे भी पढ़ें : बैक्टीरियल इंफेक्शन से छुटकारा दिलाते हैं ये खास एसेंशियल ऑयल्स, जानें इनके इस्तेमाल का तरीका

2. फ्लूइड का सेवन अधिक करें : 

टाइफाइड के लक्षणों में अधिक उल्टियां हो सकती हैं जिससे शरीर में डिहाइड्रेशन हो सकता है। इस स्थिति से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थों का सेवन करते रहें। इससे आपके शरीर से समय समय पर टॉक्सिंस भी बाहर निकलते रहेंगे। पानी के अलावा आप जूस, नारियल पानी और सूप आदि का भी सेवन करते रहें।

3. टाइफाइड के दौरान लहसुन का सेवन

लहसुन में मौजूद एंटी माइक्रोबियल गुण टाइफाइड के बैक्टेरिया से लड़ कर उन्हें खत्म करने में सहायक होते हैं। लहसुन में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट्स रिकवरी को भी तेज करते हैं। यह इम्यूनिटी मजबूत करता है और आपके शरीर को डिटॉक्स करता है। सुबह उठ कर खाली पेट दो लहसुन की कलियां खाना भी फायदेमंद है। लेकिन गर्भवती महिलाओं और बच्चों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

insidelahsun

4. लौंग का सेवन टाइफाइड में

लौंग भी टाइफाइड के बैक्टेरिया से लड़ने में मदद करती हैं। लौंग से बनने वाले एसेंशियल ऑयल में ऐसे एंटी बैक्टीरिया गुण होते हैं जो बैक्टीरिया से लड़ते हैं। इससे उल्टियां आना और जी मिचलाना बंद होता है। पानी में लॉन्ग डाल कर उसे उबाल लें और छान कर रोजाना दो कप पी लें।

इसे भी पढ़ें : गले में सूजन और दर्द का कारण बन सकती है खराश, इन घरेलू उपाय से पाएं जल्द छुटकारा

5. टाइफाइड में लें तुलसी 

तुलसी को काफी पवित्र माना जाता है और इसके अंदर एंटी बायोटिक और एंटी माइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं। उबले हुए पानी में तुलसी के पत्ते डाल दें और रोजाना तीन से चार ऐसे ही पानी को पिएं। इससे इम्यूनिटी बढ़ती है और पेट को भी राहत मिलती है। आप 4 से 5 तुलसी के पत्तों का पेस्ट भी बना सकते हैं। इस पेस्ट में काली मिर्च और केसर भी मिला सकते हैं और हर मील के साथ उसका सेवन कर सकते हैं।

6. केला भी है लाभदायक

अगर ज्यादा बुखार आ रहा है तो केला खाने से बुखार ठीक हो जायेगा और डायरिया के मरीजों के लिए भी केला खाना लाभदायक होता है। केले में पेक्टिन नाम का सॉल्युबल फाइबर होता है जो आपकी आंतों की फ्लूइड अब्जॉर्ब करने की क्षमता को बढ़ाता है। इसमें मौजूद पोटेशियम खोए हुए इलेक्ट्रोलाइट को वापिस लाने में सहायता करता है। इसलिए केला खाना भी टाइफाइड में लाभदायक होता है।

टाइफाइड से रिकवर होने में काफी अधिक समय लग सकता है। लेकिन इन सब होम रेमेडीज का प्रयोग करके आप इस रिकवरी के समय को कम कर सकते हैं। टाइफाइड के दौरान त्रिफला चूर्ण और कोल्ड कंप्रेस का भी प्रयोग आराम देता है। आप चाहें तो रोजाना सुबह अनार भी खा सकते हैं।

Disclaimer