खुजली, चकत्ते और त्वचा पर सफेद पपड़ी हैं सोरायसिस और एक्जिमा दोनों का लक्षण, फिर दोनों में क्या है अंतर?

अगर आप भी अपनी त्वचा पर लालिमा, चकत्ते और खुजली को महसूस कर रहे हैं तो जान लें कहीं सोरायसिस या एक्जिमा का खतरा तो नहीं, जानें क्या है दोनों में अंतर।

Vishal Singh
Written by: Vishal SinghUpdated at: Jan 18, 2021 17:58 IST
खुजली, चकत्ते और त्वचा पर सफेद पपड़ी हैं सोरायसिस और एक्जिमा दोनों का लक्षण, फिर दोनों में क्या है अंतर?

त्वचा संबंधित की बीमारियों और स्थितियों से लोग अक्सर परेशान नजर आते हैं, जिसके लिए कभी घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करते हैं तो कभी बाजार में मिलने वाले ब्यूटी प्रोडक्ट् का। लेकिन फिर भी कई लोगों को इसका कोई असर देखने को नहीं मिलता है। ऐसे ही सोरायसिस और एक्जिमा दोनों त्वचा संबंधित एक बड़ी बीमारियां हैं। जिसके कारण अक्सर लोग काफी परेशान रहते हैं और इसके लिए अलग-अलग तरह के तरीके अपनाते रहते हैं। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें इन दोनों ही त्वचा संबंधित बीमारियों में क्या अंतर है इस बारे में जानकारी नहीं है। जी हां, कई लोगों को सोरायसिस और एक्जिमा के बीच का अंतर नहीं पता है जिसके कारण लोग इसे पहचानने में काफी पीछे रह जाते हैं। हालांकि दोनों ही बीमारियों में त्वचा में तेज खुजली, लालिमा और खरोंच जैसी चीजें नजर आती हैं। लेकिन फिर भी दोनों में काफी अंतर पाया जाता है, लेकिन इसके लिए आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि इस विषय पर हमने बात की अभीव्रित एस्थेटिक्स क्लिनिक में मौजूद त्वचा विशेषज्ञ डॉक्टर जतिन मित्तल से। 

SKIN PROBLEM

एक्जिमा और सोरायसिस के बीच अंतर (Difference Between Eczema And Psoriasis In Hindi)

एक्सपर्ट जतिन मित्तल बताते हैं कि एक्जिमा आपकी त्वचा को शुरुआती दौर में बिलकुल सामान्य लक्षण दिखा सकता है लेकिन जब आप इसे नजरंदाज करते रहते हैं तो ये आपकी त्वचा को पपड़ीदार, खुजली पैदा करना और लालिमा जैसे चीजें दिखाने लगता है। जिसको बार-बार खुजली करने से या रगड़ने से ये आपकी त्वचा में सूजन भी पैदा कर सकता है। वही, सोरायसिस त्वचा रोग के कारण आपकी त्वचा में बुरी तरह से लालिमा या लाल पैच दिखने लगते हैं इस दौरान आपको बहुत ज्यादा त्वचा खुरदरी और सूजन के साथ दिखाई दे सकती है। इतना ही नहीं जिस हिस्से में आपको ये समस्या होगी उसके आसपास आपको दर्द महसूस होगा। 

एक्जिमा और सोरायसिस का कहां होता है खतरा

एक्जिमा आपके शरीर के अंदरूनी हिस्सों में हो सकती है, जैसे कोहनी, घुटनों के पीछे वाला हिस्सा, गर्दन, कलाई और टखनों। ये कुछ लोग या बच्चों के चेहरे और हाथ पर भी हो सकते हैं। इस दौरान आपको जलन, खुजली और लालिमा के कारण सूजन भी दिखाई दे सकती है। इसके अलावा सोरायसिस भी आपके शरीर के कई हिस्सों में हो सकता है, जिसके कारण आपको कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। सोरायसिस आपको कोहनी, घुटनों, खोपड़ी और चेहरा, पीठ, हथेलियां और तलवों में होने का खतरा रहता है। 

सोरायसिस क्या है (What Is Psoriasis)

एक्सपर्ट के मुताबिक, सोरायसिस एक ऑटोइम्यून बीमारी है जो त्वचा की कोशिकाओं का बहुत तेजी से उत्पादन करता है। इस स्थिति के कारण आपकी त्वचा में लालिमा, सूजन और खुजली देखने को मिलती है। एक्सपर्ट बताते हैं कि सोरायसिस का अभी कोई खास या विशेष इलाज नहीं है, लेकिन कुछ दवाओं की मदद से इस स्थिति को कंट्रोल और लक्षणों को कम किया जाता है। 

SKIN PROBLEM

एक्जिमा क्या है (What Is Eczema)

एक्जिमा किसी एलर्जी के कारण होता है, जो आपके कपड़ों, साबुन, जानवरों और खानपान के कारण हो सकता है। एक्जिमा त्वचा रोग लोगों के बीच एक आम समस्या के रूप में हमारे सामने है ये बच्चे से लेकर बड़े किसी को भी आसानी से हो सकता है। इसके कारण आपको त्वचा पर तेज खुजली, लालिमा और सूजन के साथ पपड़ीदार त्वचा दिखाई दे सकती है। एक्सपर्ट जतिन मित्तल बताते हैं कि एक्जिमा रोग को इलाज की मदद से दूर किया जा सकता है, लेकिन जरूरी है कि आप इसे समय पर पहचानें और तुरंत डॉक्टर से इस बारे में संपर्क करें। 

इसे भी पढ़ें: प्रियंका चोपड़ा की तरह चाहती हैं खूबसूरत आइब्रोज, तो एक्सपर्ट से जानें पलकों को मोटी-घनी बनाने के घरेलू उपाय

सूखी त्वचा पर सोरायसिस

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि सोरायसिस एक त्वचा संबंधित बीमारी है जिसका सबसे ज्यादा असर ये भी हो सकता है कि किस तरह की त्वचा पर सोरायसिस का खतरा हो सकता है। सोरायसिस सूखी त्वचा पर आसानी से कब्जा कर लेती है जिसके कारण त्वचा पपड़ीदार या लालिमा के साथ नजर आने लगती है। 

सूखी त्वचा पर एक्जिमा

एक्जिमा में अक्सर त्वचा के बहुत शुष्क पैच शामिल होते हैं। एक्जिमा के कारण आपकी त्वचा काफी नाजुक हो जाती है जिसके कारण आपकी त्वचा फट जाती है। यही वजह है कि जिन लोगों की त्वचा शुष्क नहीं भी होती है उन लोगों की त्वचा फटने लगती है और उसमें खुरदरापन दिखने लगता है। जिसके कारण अक्सर खुजली और सूजन देखने को मिलती है। 

SKIN PROBLEM

क्या है सोरायसिस का इलाज (Treatment For Psoriasis)

एक्सपर्ट जतिन मित्तल का कहना है कि सोरायसिस एक ऐसी समस्या है जिसका इलाज किसी भी रूप में विशेष नहीं है। इसलिए डॉक्टर और एक्सपर्ट हमेशा सोरायसिस के इलाज के लिए लोगों के लक्षणों को कम करने की कोशिश करते हैं। वहीं, जब कुछ समय तक सोरायसिस पैच में सुधार नहीं आता तो इस दौरान आपको संबंधित इलाज के साथ जांच कराने की जरूरत हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें: अनचाहे बालों को हटाने का सबसे आसान घरेलू नुस्खा है कुसुमा का तेल और ठनका (Thanaka) पाउडर, ऐसे करें प्रयोग

क्या है एक्जिमा का इलाज (Treatment Of Eczema)

एक्जिमा लोगों के बीच एक आम बीमारी है जिसका इलाज आसानी से त्वचा विशेषज्ञ या डॉक्टर कर सकते हैं। इसके लिए कई तरह की क्रीमें बाजार में उपलब्ध है जिसकी मदद से आसानी से एक्जिमा की समस्या को दूर कर सकते हैं। आपको बता दें कि एक्जिमा के लिए एंटीबायोटिक दवाओं का इस्तेमाल किया जाता है जो इसमें मौजूद बैक्टीरिया-वायरस को खत्म करने का काम करते हैं और आपकी त्वचा को स्वस्थ रखने का काम करता है।  

बचाव

  • त्वचा शुष्क होने के कारण ही कई तरह के संक्रमण और बैक्टीरिया आपको अपना शिकार बना लेते हैं। वहीं, एक्सपर्ट का कहना है कि आपको अपनी त्वचा में हमेशा नमी बनाए रखनी चाहिए। इससे आपकी त्वचा किसी भी प्रकार के संक्रमण या बैक्टीरिया से लड़ने में कामयाब रहती है और फटने से रोकती है। 
  • किसी भी ब्यूटी प्रोडक्ट्स के बारे में जानकारी नहीं होने पर उसका इस्तेमाल न करें। इससे आपकी त्वचा को काफी नुकसान हो सकता है, इससे बेहतर है कि आप किसी एक्सपर्ट की सलाह के बाद ही इन ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें। 
  • त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी है कि आप रोजाना अपनी डाइट में पौष्टिक आहारों को शामिल करें जिससे आपकी त्वचा लंबे समय तक स्वस्थ और बीमारियों से दूर रह सके। अध्ययन ने आहार और त्वचा संबंधित रोग सोरायसिस के बीच एक कड़ी नहीं दिखाई है, लेकिन विशेषज्ञ सलाह देते हैं कि लोगोंक को इससे बचावे के लिए एक अच्छी तरह से संतुलित आहार लेना चाहिए जिसमें बहुत सारे फलों और सब्जियों शामिल हों।
  • सोरायसिस जैसी बीमारी से बचाव के लिए जरूरी है कि आप अल्कोहल या शराब का सेवन कितना करते हैं इसका ध्यान रखना बहुत जरूरी है। कु दवाओं के कारण आपकी त्वचा काफी नाजुक हो जाती है जिसके बाद शराब का सेवन करने से वो जल्दी आपको प्रतिक्रिया दिखा सकती है। 
  • ठंड में अक्सर हवा के कारण आपकी त्वचा काफी सूखने लगती है और त्वचा से नमी गायब हो जाती है, इसके कारण आपकी त्वचा को अलग-अलग प्रकार के संक्रमण और बैक्टीरिया का खतरा बढ़ने लगता है। इसके लिए जरूरी है कि आप ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करें।
  • त्वचा को स्वस्थ रखने और बीमारियों से दूर रखने के लिए जरूरी है कि आप अपनी त्वचा में नमी बनाए रखें इसके लिए सबसे बेहतरीन तरीका है कि आप रोजाना पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं जिसकी मदद से आप खुद को कई गंभीर बीमारियों से दूर रख सकते हैं। 

(इस लेख में दी गई जानकारी अभीव्रित एस्थेटिक्स क्लिनिक में मौजूद त्वचा विशेषज्ञ डॉक्टर जतिन मित्तल से बातचीत पर आधारित है)।

Read more articles on Skin-Care in Hindi

Disclaimer