न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट्स और दवाओं में होते हैं कई अंतर, लेने से पहले जरूर जानें इनके बारे में

दवाओं और न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स में कई अंतर होते हैं, इनका सेवन करने से पहले आपको इनके बारे में जरूर जान लेना चाहिए।

 
Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Sep 06, 2021 17:37 IST
न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट्स और दवाओं में होते हैं कई अंतर, लेने से पहले जरूर जानें इनके बारे में

इंसान अपने जीवन में दवाओं का सेवन जरूर करता है। कौन सी दवा का सेवन कब और कैसे करना है इसके बारे में हमें चिकित्सक से जानकारी मिलती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि डॉक्टर्स हमें जिन टैबलेट या कैप्सूल का सेवन करने की सलाह देते हैं वह सभी ड्रग्स यानी कि दवा ही नहीं होती है। इनमें से कुछ कैप्सूल या टैबलेट न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट्स भी हो सकते हैं। ड्रग्स और न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट एक जैसे नहीं होते हैं। इनमें कई सारे अंतर होते हैं। आपको भी ड्रग्स यानी दवाओं और न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट के बीच इन अंतर (Difference Between Nutritional Supplements and Medicines) को जान लेना चाहिए। क्योंकि जानकारी के अभाव में तमाम लोग इनका सेवन करते समय कई गलतियां कर बैठते हैं। आइये जानते हैं ड्रग्स और न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स के बीच के अंतर के बारे में और इनके सेवन से जुड़ी सावधानियों के बारे में।

न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स क्या होते हैं? (What is Nutritional Supplement?)

Difference-between-nutritional-supplements-and-medicines

(image source - freepik.com)

हम सभी जानते हैं कि शरीर को पर्याप्त उर्जा और पोषक तत्वों के लिए भोजन की आवश्यकता होती है। जब आपको किसी कारणवश भोजन से पर्याप्त और शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं तो आपको न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स का सहारा लेना पड़ता है। आपमें से बहुत से लोगों ने मल्टीविटामिन और अन्य न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स का सेवन किया होगा। न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स का सेवन शरीर में आवश्यक विटामिन, फाइबर समेत कई अन्य पोषक तत्वों की सप्लाई करता है। कई बार आपको मल्टीविटामिन और मिनरल्स के सप्लीमेंट्स लेने की सलाह चिकित्सक देते हैं लेकिन कई बार ऐसा होता है कि आप खुद से ही विज्ञापनों से झांसे में आकर इसका सेवन करने लग जाते हैं। लेकिन इनका सेवन करने से पहले चिकित्सक की सलाह जरूर लेनी चाहिए। न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स फूड एंड ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) द्वारा विनियमित नहीं होते हैं। ये प्रोडक्ट्स इन्हें बनाने वाली कंपनी द्वारा विनियमित किये जाते हैं और इसकी टेस्टिंग भी कंपनी खुद करती है। न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स में मिनरल्स, विटामिन समेत कई अन्य पदार्थ शामिल हो सकते हैं। ये अलग-अलग आकार जैस कि कैप्सूल, टैबलेट, तरल पदार्थ और पाउडर आदि में आते हैं।

इसे भी पढ़ें : बहुत दिनों तक घर के अंदर रहने से भी शरीर और सेहत पर पड़ते हैं ये 5 नकारात्मक प्रभाव

Difference-between-nutritional-supplements-and-medicines

(image source - freepik.com)

ड्रग्स यानी दवाएं क्या होती हैं? (What is Medicines?)

आपमें से सभी लोग कभी न कभी बीमार हुए होंगे। बीमारी में जब आप डॉक्टर के पास इलाज के लिए जाते हैं तो डॉक्टर आपकी जांच करने के बाद कुछ दवाएं एक पर्ची पर लिखकर देता है। ये दवाएं किसी फार्मेसी पर आपको पर्चा दिखाने पर मिलती हैं। इन दवाओं का सेवन करने के बाद आप बीमारी से निजात पाते हैं। इन्हें फूड एंड ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा विनियमित किया जाता है। ड्रग्स यानी दवाओं का परीक्षण एफडीए खुद करता है और इसके बाद ही इसे इस्तेमाल के लिए भेजा जाता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक ड्रग्स वे पदार्थ हैं जिनका इस्तेमाल शारीरिक प्रणाली को ठीक करने और शरीर से बीमारियों को दूर करने में किया जाता है। बिना क्लिनिकल ट्रायल के किसी भी मरीज को कोई भी दवा दी जा सकती है।

ड्रग्स और न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स से जुड़ी इन बातों का हमेशा रखें ध्यान (Caution Tips Before Consumption Nutritional Supplements and Medicines)

  • दवाएं फूड एंड ड्रग्स एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा विनियमित की जाती है। इनकी पैकेजिंग और ट्रायल भी एफडीए के देखरेख में की जाती है।
  • दवाओं में फैक्ट्स लेबल होता है जो दवाओं के बारे में पूरी जानकारी देते हैं कि इनमें कौन-कौन सी चीजें मौजूद हैं।
  • न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स को एफडीए के अप्रूवल की आवश्यकता नहीं होती है।
  • न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट का ट्रायल भी इन्हें बनाने वाली कंपनियां भी खुद करती हैं।
  • सप्लीमेंट्स का सेवन कभी-कभी असुरक्षित हो सकता है। हालांकि खुद से किसी भी दवा का सेवन करना भी असुरक्षित होता है।
  • ओवर-द-काउंटर दवा खरीदने के बाद इनके लेबल को अच्छी तरह से जरूर पढना चाहिए।
Difference-between-nutritional-supplements-and-medicines
(image source - freepik.com)

इसे भी पढ़ें : एलर्जी टेस्ट क्या है और कब करवाना चाहिए? जानें इस टेस्ट की प्रक्रिया और जरूरी बातें

न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट्स और दवाओं का सेवन खुद से करना नुकसानदायक हो सकता है। इनके सेवन से पहले चिकित्सक या एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें। हमें उम्मीद हैं कि दवा और न्यूट्रीशिनल सप्लीमेंट को लेकर दी गयी ये जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर इस विषय पर आपको कोई सवाल हैं तो उसे कमेंट बॉक्स में लिखकर हमें भेज सकते हैं।

(main image source - freepik.com)

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer