डायबिटीज होने पर आपकी डाइट ही है आपकी दवा, जानें क्या खाएं और क्या नहीं

मौजूदा वक्त में डायबिटीज यानी की मधुमेह से ज्यादा लोग पीड़ित है। दरअसल बाहर का खाना खाने की लत और उसके बाद चाय या कॉफी के कपों में वृद्धि डायबिटीज का सबसे बड़ा कारण है। विश्व में भारत डायबिटीज के मामले में पहले पायदान पर है। 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Jun 13, 2019Updated at: Jun 13, 2019
डायबिटीज होने पर आपकी डाइट ही है आपकी दवा, जानें क्या खाएं और क्या नहीं

डायबिटीज यानी की मधुमेह एक ऐसी बीमारी हैं, जिससे मौजूदा वक्त में सबसे ज्यादा लोग पीड़ित है। मौजूदा दौर में परुष और महिलाएं दोनों ही अपने काम को लेकर टेंशन और अधिकतर वक्त ऑफिस के कामों में बीताते हैं। इस दौरान न केवल उनका स्वास्थ्य प्रभावित होता है बल्कि वह कई बीमारियों से भी घिर जाते हैं। दरअसल बाहर का खाना खाने की लत और उसके बाद चाय या कॉफी के कपों में वृद्धि डायबिटीज का सबसे बड़ा कारण है। विश्व में भारत डायबिटीज के मामले में पहले पायदान पर है।

डायबिटीज खून में शुगर (चीनी/शर्करा) की मात्रा बढ़ जाने से होता है। पहले यह बीमारी उम्र के साथ बढ़ती थी लेकिन अब डायबिटीज जीवनशैली जनित बीमारी का रूप ले चुकी है। अब केवल उम्रदराज ही नहीं बल्कि बच्चे और युवा भी इस बीमारी का शिकार हो रहे हैं। डायबिटीज होने पर अक्सर हमारे दिमाग में पहली चीज ये आती है कि ऐसा क्या खाएं, जिससे यह बीमारी ज्यादा गंभीर रूप न ले। अगर आप भी इस बीमारी के शिकार हैं तो हम आपको ये बताने जा रहे हैं कि डायबिटीज होने पर आपके लिए क्या खाना बेहतर रहेगा और आपको किन चीजों को अपनी डाइट से हटा देना चाहिए।

डायबिटीज होने पर क्‍या खाएं

  • डायबिटिज के मरीजों को अपनी डाइट में छिलके सहित गेहूं की रोटी, जई आदि जैसे ज्यादा फाइबर युक्त भोजनल और कार्बोहाइड्रेट शामिल करने चाहिए क्योंकि यह रक्त प्रवाह में धीरे-धीरे मिलते हैं।
  • डायबिटीज के मरीजों को सब्जियों में करेला, मेथी, सहजन (ड्रमस्टिक), पालक, तुरई, शलजम, बैगन, परवल, लौकी, मूली, फूलगोभी, ब्रोकली, टमाटर, बंदगोभी, सोयाबीन की मंगौड़ी, जौ, बंगाली चना, पुदीना, हल्दी, काला चना, दालचीनी भी शामिल करना चाहिए।
  • इसके अलावा उन्हें फलीदार सब्जियां जैसे बीन्स, सैम फली, शिमला मिर्च, हरी पत्तेदार सब्जियों का भी सेवन करना चाहिए क्योंकि इनमें शुगर की मात्रा कम और फाइबर और अन्य विटामिन भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।
  • इसके साथ ही इन सब्जियों से बने पतले सूप का जितना चाहें उतना सेवन करें उतना बेहतर होता है क्योंकि इसे आसानी से पचाया जा सकता है।

इसे भी पढ़ेंः पेट दर्द नजरअंदाज करना पड़ सकता है भारी, भूल कर भी न करें ये गलतियां

डायबिटीज होने पर क्‍या न खाएं?

  • डायबिटिज के मरीजों को अपनी डाइट से घी और नारियल का तेल आदि चिकनाई युक्त चीजों को बाहर कर देना चाहिए। इस बीमारी से ग्रस्त लोगों को पूरी, कचौड़ी, समोसा, पकौड़े आदि जैसे तले हुए भोजन से भी बचना चाहिए, क्योंकि इससे होने वाला फैट आपके शरीर में असंतुलन पैदा करता है।
  • इसके साथ ही गुड़, शक्कर, मिश्री, चीनी, शर्बत, मुरब्बा, शहद, पिज्जा, बर्गर, क्रीम रोल,आइसक्रीम और कोल्ड ड्रिंक का इस्तेमाल डायबिटीज के मरीजों को बिल्कुल नहीं करना चाहिए, क्योंकि इनमें शुगर की मात्रा अधिक होती है।
  • अगर आप भी मधुमेह के रोगी है तो कुछ फलों का सेवन आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है। आप अपने डॉक्टर की सलाह लेकर ही फलों का सेवन करें।
  • चावल और आलू का सेवन अधिक करने से बचें क्योंकि चावलों में मौजूद अधिक मात्रा में स्टार्च शरीर के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।
  • डायबिटीज के मरीजों के लिए संतुलित आहार बेहद जरूरी है, क्योंकि इससे हमारे शरीर में मौजूद ब्लड शुगर का स्तर भी नियंत्रित होता है। अपने खाने में जरा-सी लापरवाही आपके लिए घातक सिद्ध हो सकती है।

इसे भी पढ़ेंः लगातार पीठ में दर्द रहना ट्यूमर का हो सकता है संकेत, एक्सपर्ट से जानें बचाव के तरीके

कुछ जरूरी टिप्स 

  • शारीरिक गतिविधियों पर अधिक जोर दें।
  • रोजाना कम से कम दो से तीन किलोमीटर तक पैदल चलें।
  • हो सके तो सुबह-शाम नियमित रूप से पार्क में जाकर नंग पैर टहलें।

Read More Articles On Other Diseases in Hindi

Disclaimer