महिलाओं में ये 5 लक्षण हो सकते हैं वजाइनल कैंसर का संकेत, नजरअंदाज करने से बढ़ सकती है परेशानी

वजाइनल कैंसर के मामले कम सामने आते हैं, लेकिन इसके शुरुआती संकेत इतने सामान्य होते हैं कि ज्यादातर महिलाएं इन्हें नजरअंदाज कर देती हैं।

 

Monika Agarwal
कैंसरWritten by: Monika AgarwalPublished at: Aug 29, 2021
महिलाओं में ये 5 लक्षण हो सकते हैं वजाइनल कैंसर का संकेत, नजरअंदाज करने से बढ़ सकती है परेशानी

जब शरीर के किसी अंग की कोशिकाएं अचानक बढ़ने लगती हैं तो उसे कैंसर कहते हैं। इसे मुख्यता दो श्रेणियों में बांटा गया है बिनाइन कैंसर (कम घातक) और मैलिग्नैंट कैंसर (घातक)। कैंसर कई तरह के होते हैं इन्हीं में से एक है वजाइनल कैंसर (Vaginal Cancer) यानी महिलाओं के योनि में होने वाला कैंसर। मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल की सीनियर गाइनेकोलॉजिस्ट डॉक्टर रेखा गुप्ता के अनुसार वैसे तो वजाइनल कैंसर (Vaginal Cancer) बहुत कम देखने को मिलता है लेकिन अगर इसे समय पर ठीक न किया जाए तो यह जानलेवा हो सकता है। वजाइनल कैंसर (Vaginal Cancer) आमतौर पर मस्कुलर ट्यूब (Muscular Tube) में देखने होता है जो आपके यूटरस (गर्भाशय) को अन्य जेनिटल्स (बाहरी अंगों) से जोड़ती है। यह कैंसर बर्थ कैनाल में होने वाली सेल्स में भी हो सकता है। अगर आपकी वजाइना में यह कैंसर होता है तो आपको कुछ अजीब और अलग लक्षण देखने को मिलते हैं। जिन्हें आपको इग्नोर नहीं करना चाहिए। आपको तुरंत ही इन्हें डॉक्टर को दिखाना चाहिए। आइए जान लेते हैं इन कुछ संकेतों के बारे में।

वजाइना से असामान्य ब्लीडिंग या डिस्चार्ज (Unusual Discharge)

सर्वाइकल कैंसर सबसे पहले वजाइनल डिस्चार्ज या ब्लीडिंग के रूप में देखने को मिलता है। यह ब्लीडिंग मेंस्ट्रुअल ब्लीडिंग से अलग होती है और इस दौरान आपको लाल रंग का डिस्चार्ज भी देखने को मिल सकता है। जो किसी भी तरह से नॉर्मल नहीं होता। इसलिए इस स्थिति के दौरान आपको डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें - प्रेगनेंसी में रैस्पबेरी के पत्तियों की चाय पीने के फायदे और नुकसान

वजाइना में गांठ होना (Lumps Formation)

इस कैंसर का एक अन्य चिंताजनक लक्षण है वजाइना में गांठ का बनना। चाहे ब्रेस्ट कैंसर हो या फिर वजाइनल कैंसर, गांठ का बनना थोड़ा असामान्य होता है। कैंसर जब होता है तो आपकी स्किन में सेल्स की ग्रोथ हो कर एक गुच्छा बन जाता है। अगर आपको वजाइना में गांठ देखने को मिलती है तो हो सकता है यह ट्यूमर हो। इसलिए इस प्रकार का लक्षण देखने के तुरंत बाद आप को डॉक्टर को बता देना चाहिए।

पेशाब करते समय दर्द होना (Pain While Urination)

अगर आपको किसी प्रकार का इंफेक्शन नहीं है और आप हाइजीन भी बना कर रखती हैं। इसके बाद भी आपको पेशाब करते समय दर्द होता है तो हो सकता है यह वजाइना की कैंसर का ही एक संकेतिक लक्षण हो। इस लक्षण को देखने के बाद आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें - क्या गर्भवती महिलाओं के लिए बॉडी स्कैनर से गुजरना सुरक्षित है? जाने शिशु और मां पर कैसे पड़ता है असर

सेक्सुअल इंटरकोर्स के दौरान दर्द होना (Pain During Intercourse)

अगर आपको हमेशा सेक्सुअल इंटरकोर्स करते समय तेज दर्द होता है। तो यह भी वेजाइनल कैंसर का एक संकेत हो सकता है। यह सामान्य लक्षण नहीं होता है इसलिए इसको भी आपको अपनी गाइनी से एक बार डिस्कस कर लेना चाहिए।

वजाइना के रंग में बदलाव आना (Change In Vaginal Colour)

अगर आपकी वजाइना का रंग पहले से थोड़ा बहुत बदल जाता है तो यह भी वजाइनल कैंसर का एक संकेत हो सकता है। अगर आपको वजाइना के रंग में बदलाव होने के साथ साथ कुछ अन्य लक्षण जैसे गंदी स्मेल आना, सूजन आना आदि दिखते हैं तो यह इंफेक्शन भी हो सकता है इसलिए एक बार डॉक्टर को जरूर दिखा लें।

अगर आपको इनमें से कोई एक लक्षण भी दिखाई देता है तो इससे आपकी मुसीबतें बढ़ सकती हैं। इसलिए आपको इन्हें इग्नोर तो किसी भी हालत में नहीं करना चाहिए नहीं तो यह जानलेवा भी हो सकता है। चाहे यह लक्षण नॉर्मल ही क्यों न हो लेकिन आपको एक बार डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए।

Main image: Medical News Today

Inside 1 ribbon one: CureJoy 

Inside 2 : Medanta

Read More Articles on Women Health in Hindi

 

Disclaimer