क्या वैक्सीन लगाने के बाद भी हो सकता है कोरोना वायरस? डॉक्टर से जानें क्यों जरूरी है कोरोना वैक्सीन लगवाना

कई लोगों के मन में यह सवाल है कि क्या वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना वायरस हो सकता है? क्या वैक्सीन लगवाना जरूरी है? चलिए जानते हैं इन सवालों के जवाब

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: May 03, 2021Updated at: May 03, 2021
क्या वैक्सीन लगाने के बाद भी हो सकता है कोरोना वायरस? डॉक्टर से जानें क्यों जरूरी है कोरोना वैक्सीन लगवाना

भारत में कोविड-19 के बचाव के लिए बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान जारी है (Vaccination in India)। देश में लोगों को अभी तक दो तरह की वैक्सीन यानी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड (Covishield) और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (Covaxin) लगाई जा रही थी, लेकिन अब रूस की स्पूतनिक वी (Sputnik V) को भी भारत में मंजूरी मिल गई है। भारत में इसका पहला बैच 1 मई 2021 को पहुंचा था। देश में कोरोना वैक्सीनेशन का तीसरा फेज शुरू हो चुका है, इसमें 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए करोड़ लोग अपना रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं और अपनी बारी आने का इंतजार कर रहे हैं। लेकिन देश में कई ऐसे लोग भी हैं, जो वैक्सीन लगाने को तैयार नहीं है। उनका कहना है कि वैक्सीन लगाने के बाद भी लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ रहे हैं। ऐसे में वैक्सीन लगाने से कोई फायदा नहीं हो रहा है। कई लोगों का तो यहां तक कहना है कि कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद इसका साइड इफेक्ट भी नजर आ रहे हैं, ऐसे में वे वैक्सीन लगाने से डर रहे हैं और इससे दूर भाग रहे हैं। तो क्या असल में कोरोना वैक्सीन लगाना फायदेमंद नहीं है? इस विषय पर हमने फोर्डा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर विवेक चौकसे से विस्तार से बातचीत की-

vaccination

दरअसल, देश में वैक्सीनेशन के पहले फेज में स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन लगाई गई थी। जिसमें से कई डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। अभी हाल ही में गंगा राम हॉस्पिटल में लगभग 30 डॉक्टर वैक्सीन लगाने के बाद भी कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। ऐसे में लोगों के मन में संदेह है कि वैक्सीन लगाने के बाद भी कोरोना हो जाता है, तो वैक्सीन लगवाने की जरूरत ही क्या है? इस पर डॉक्टर विवेक चौकसे कहते हैं कि कई बार वैक्सीन के साइड इफेक्ट नजर आते हैं, लेकिन ये मामूली होते हैं और हर वैक्सीन के बाद बॉडी पर इसका रिएक्शन किसी न किसी रूप में जरूर दिखता है। वह कहते हैं कि जरूरी नहीं कि तेज बुखार, खांसी और सिरदर्द कोरोना वैक्सीन के ही साइड इफेक्ट हो। कई बार होता ये है कि लोग पहले से ही कोरोना पॉजिटिव होते हैं, लेकिन उनमें उस समय लक्षण नजर नहीं आते हैं और वे वैक्सीन लगवा लेते हैं। इसके बाद जब 4-5 दिन होते हैं तो उनमें कोरोना के लक्षण नजर आने लगते हैं, ऐसे में उन्हें लगता है कि वैक्सीन लगाने से उनकी तबियत खराब हुई है। जबकि ऐसा होना जरूरी नहीं है। इसलिए अगर वैक्सीन लगाने के बाद भी आपको कोरोना के लक्षण नजर आए, तो एक बार टेस्ट जरूर करवा लें। हां, वैक्सीन के बाद मामूली रिएक्शन देखने को मिलते हैं, लेकिन इसे लगाने से कोई नुकसान नहीं होता है।   

इसे भी पढ़ें - इस दंपत्ति ने होम आइसोलेशन में रहकर दो बार जीती कोरोना से जंग, जानिए कैसे रखा अपना ध्यान

वैक्सीन लगाने के बाद हो सकता है कोरोना वायरस ? (Can Corona Virus be Even After Applying Vaccine)

क्या वैक्सीन लगाने के बाद भी कोरोना वायरस हो सकता है? इस सवाल के जवाब में डॉक्टर विवेक चौकसे कहते हैं कि कोई भी वैक्सीन 100 प्रतिशत इम्यूनिटी का दावा नहीं करती है। देश में लगाए जा रहे वैक्सीन भी शत प्रतिशत प्रभावी नहीं है। इसलिए वैक्सीन लगाने के बाद भी लोग वायरस की चपेट में आ सकते हैं। लेकिन वैक्सीन लगवाने के बाद आप कोरोना वायरस से गंभीर रूप से प्रभावित नहीं होते हैं। कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद अगर आपको कोरोना हो भी जाता है, तो आप बेहद आसानी और जल्दी ही इससे रिकवर हो सकते हैं।

vaccine

वैक्सीन लगाने के बाद कितने लोगों को हो रहा है कोरोना (How Many People Are Getting Corona After Applying The Vaccine)

कोरोना की कोई भी वैक्सीन शत प्रतिशत प्रभावी नहीं है, इसलिए वैक्सीन लगाने के बाद भी कुछ लोगों में कोविड-19 के लक्षण नजर आ रहे हैं। लेकिन इनकी संख्या बहुत ही कम है। कोवैक्सीन लगाने के बाद कोरोना होने की दर बहुद कम है, इस वैक्सीन को लगाने के बाद 0.04 प्रतिशत लोग ही कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। कोविडशील्ड वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना होने की संभावना 0.02 प्रतिशत है। इसके साथ ही जो लोग कोरोना पॉजिटिव हो भी रहे हैं, उनमें बहुत माइंड लक्षण नजर आ रहे हैं। गंभीर स्थिति में पहुंचने से पहले ही वे ठीक हो जाते हैं। वैक्सीन लेने के बाद कोरोना के मरीज आसानी से घर पर ही ठीक भी हो सकते हैं। अभी तक कोई ऐसा डाटा नहीं आया है, जिसमें यह बताया गया हो कि वैक्सीन लेने वाले कोरोना मरीजों की मृत्यु हुई हो। 

वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना रिस्क फैक्टर (Corona Risk Factor After Taking Vaccine)  

वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना वायरस होने की संभावना रहती है। लेकिन वैक्सीन लगाने के बाद इससे आसानी से ठीक हुआ जा सकता है। इसमें हॉस्पिटल जाने की संभावना बहुत ही कम होती है। व्यक्ति आसानी से घर पर ही ठीक हो जाता है, क्योंकि वैक्सीन लगाने से शरीर में वायरस से लड़ने के लिए एंटीबॉडी तैयार हो जाती है, जो वायरस को गंभीर नहीं होने देता है। वैक्सीन आपके शरीर को किसी भी वायरस या संक्रमण से लड़ने के लिए तैयार कर देता है। कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेने के कुछ दिन बाद आपके शरीर में एंटीबॉडी बन जाती है, जिससे वायरस से आसानी से लड़ा जा सकता है। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के दो हफ्ते बाद एंटीबॉडी विकसित हो जाती है। इसलिए हमेशा वैक्सीन लगवाने की सलाह दी जाती है।

क्या वैक्सीन लेने के बाद कुछ विशेष लोगों को ही हो रहा है कोरोना (Are Some Special People Getting Corona After Taking the Vaccine)

डॉक्टर विवेक चौकसे कहते हैं कि वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना वायरस किसी को भी हो सकता है। इसके लिए न ही कोई विशेष उम्र है और न ही लिंग। यह किसी भी उम्र के लोगों को हो सकता है। वैक्सीन लगाने के बाद होने वाले कोरोना और सामान्य स्थिति में होने वाले कोरोना में बहुत फर्क होता है। वैक्सीन लगाने के बाद मरीज आसानी से ठीक हो जाता है, यहां तक कि उसे अस्पताल जाने की भी जरूरत नहीं पड़ती है। इसलिए आपको वैक्सीन लगाने के बाद भी कोरोना के सभी गाइडलाइंस का पालन जरूर करना चाहिए।  

इसे भी पढ़ें - कोरोना वायरस के ये 4 लक्षण दिखने पर हॉस्पिटल जाना होता है जरूरी, डॉक्टर से जानें इनके बारे में

वैक्सीन के पहले डोज के बाद कोरोना हो जाए तो क्या करें? (What to Do if You Have Corona After The First Dose of Vaccine?)

देश में कई ऐसे लोग हैं, जो कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज ले चुके हैं। इसके बाद दूसरी डोज लेने के लिए उन्हें 4-6 या 6-8 हफ्तों का इंतजार करना होता है। ऐसे में अगर वे पहला डोज लेने के बाद कोविड-19 पॉजिटिव हो जाएं, तो कोरोना नेगेटिव होने के 2 हफ्ते बाद वे कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा सकते हैं।

वैक्सीन लेने के बाद भी रखें सावधानियां (Keep Precautions Even After Taking the Vaccine)

wear mask

अगर आपने कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले ली हैं, तो लापरवाह बिल्कुल न हो जाएं। वैक्सीन लेने के बाद भी आप माइंड सिम्टम्स के साथ कोरोना पॉजिटिव हो सकते हैं। लेकिन आप दूसरे लोगों को ये संक्रमण बड़ी ही आसानी से दे सकते हैं। इसलिए अपना और दूसरों का बचाव करने के लिए वैक्सीन लेने के बाद भी मास्क जरूर पहनें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और हाथों को बार-बार सैनिटाइज करें। 

इस समय देश में कोरोना के केस बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं, ऐसे में अपना, अपने परिवार और देश का बचाव करने के लिए वैक्सीन लेने के बाद भी कोरोना के सभी गाइडलाइंस का पालन जरूर करें।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi 

Disclaimer