एड़ी में रहती है दर्द और जलन की समस्या? जानें इसके कारण और घरेलू उपाय

अगर आपको अकसर ही एड़ी में दर्द या जलन की समस्या रहती है, तो इसके लिए ये 5 कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। जानें कैसे ठीक करें यह प्रॉब्लम-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jun 02, 2022Updated at: Jun 02, 2022
एड़ी में रहती है दर्द और जलन की समस्या? जानें इसके कारण और घरेलू उपाय

Burning Foot Pain Causes in Hindi: एड़ी में जलन या दर्द क्यों होता है? एड़ी में दर्द या जलन होना एक सामान्य समस्या है। पुरुषों की तुलना में महिलाओं को इस समस्या का सामना अधिक करना पड़ता है। एड़ी में जलन होने पर गंभीर दर्द हो सकता है, चलने में परेशानी हो सकती है। इसके अलावा कभी-कभी पैरों में सुन्नता, झुनझुनी, चुभन भी महसूस हो सकती है। यह समस्या रात के समय अधिक परेशान कर सकती है। कई बार एड़ी में दर्द होने के कारण सामान्य होते हैं, तो कई बार ये गंभीर भी हो सकते हैं।  

तो चलिए विस्तार से जानते हैं एड़ी में जलन होने के कारण और ठीक करने के लिए घरेलू उपाय-

एड़ी में जलन के कारण (Burning Foot Pain Causes in Hindi)

एड़ी में जलन होने के कई कारण हो सकते हैं। यह समस्या सामान्य या फिर गंभीर कारणों की वजह से हो सकती है। पैरों में चोट लगना, डायबिटीक न्यूरोपैथी इसके आम कारण हो सकते हैं। जानें एड़ी में जलन के कारण-

1. डायबिटीक न्यूरोपैथी

डायबिटीक न्यूरोपैथी को मधुमेह मेलिटस की सबसे सामान्य जटिलता माना जाता है। यह टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज वाले 50 फीसदी रोगियों को प्रभावित कर सकता है। जब शरीर में लंबे समय तक ब्लड शुगर लेवल बढ़ा रहता है, तो इससे नसों को नुकसान पहुंच सकता है। इसकी वजह से पैरों या एड़ी में जलन महसूस हो सकती है। ऐसे में डॉक्टर से मिलना जरूरी होता है।

2. पैर में चोट लगना

पैर में चोट लगने की वजह से भी एड़ी में जलन महसूस हो सकती है। साथ ही दर्द का अहसास भी हो सकता है। यह चोट किसी भी तरह की हो सकती है। दरअसल, चोट लगने पर जब तंत्रिका क्षति होती है, जो जलन का कारण बन सकते हैं। इसके अलावा टाइट जूते, चप्पल पहनने से भी एड़ी में जलन और दर्द हो सकता है।

burning heel pain

3. एल्कोहॉलिक न्यूरोपैथी

जो लोग लंबे समय से शराब पी रहे हैं, उनमें एल्कोहॉलिक न्यूरोपैथी विकसित होने का जोखिम अधिक रहता है। एल्कोहॉलिक न्यूरोपैथी के लक्षण धीरे-धीरे नजर आते हैं और लंबे समय तक रह सकते हैं। कुछ कंडीशन में यह तेजी भी हो सकते हैं। इस दौरान पीड़ित को एड़ी और पैर की उंगुलियों में तेज जलन महसूस हो सकती है। कई बार दर्द भी हो सकता है।

4. ऑटोइम्यून बीमारियां

ऑटोइम्यून बीमारियां भी एड़ी में जलन और दर्द होने का कारण बन सकती हैं। ऑटोइम्यून बीमारियां, ऐसी होती हैं जिसमें आपकी ही प्रतिरक्षा प्रणाली गलती से अपने ही ऊतकों पर हमला करती है। यह न्यूरोपैथी का कारण बन सकता है, इसकी वजह से तंत्रिका के आस-पास के ऊतक प्रभावित हो सकते हैं। ये स्थितियां पुराना दर्द, जलन पैदा कर सकती हैं। इस स्थिति को गंभीरता से लेना चाहिए।

इसे भी पढ़ें - एक नाक बंद होने के क्या कारण हो सकते हैं? जानें इसे ठीक करने के घरेलू उपाय

5. संकम्रण 

कुछ संक्रमण भी एड़ी में जलन का कारण बन सकते हैं। जब संक्रमण तंत्रिका ऊतकों पर हमला करते हैं, जिससे न्यूरोपैथी होती है। इस स्थिति में तेज जलन और दर्द महसूस हो सकता है। 

6. वैस्कुलर समस्याएं

ब्लड और वैक्कुलर से जुड़ी समस्याएं तंत्रिका को आपूर्ति करने के लिए ऑक्सीजन की मात्रा को प्रभावित करती हैं, इससे तंत्रिका तंतुओं को नुकसान पहुंच सकता है। एथेरोस्क्लेरोसिस या उच्च रक्तचाप से संकीर्ण धमनियां परिधीय न्यूरोपैथी का कारण बन सकती हैं। इसके अलावा वास्कुलिटिस रक्त वाहिकाओं की दीवार को मोटा और जख्मी कर सकता है, इससे रक्त प्रवाह प्रभावित होता है और तंत्रिका क्षति होने लगती है। इस स्थिति में एड़ी में जलन महसूस हो सकती है।

इसे भी पढ़ें - सुबह उठने के बाद मुंह क्यों सूखता है? जानें इसके 6 कारण और बचाव

cool water for heel pain

एड़ी की जलन के लिए घरेलू उपाय (Burning Heel Pain Home Remedies in Hindi)

  • एड़ी की जलन को शांत करने के लिए आप बर्फ के पानी से नहा सकते हैं। इसके अलावा एक टब में ठंडा पानी और बर्फ डालें। अब इसमें अपने दोनों पैरा डाल दें। इससे जलन से राहत मिल सकती है।
  • सेब का सिरका भी एड़ी की जलन को शांत करने में मदद कर सकता है। इसके लिए आप नहाने के पानी में एप्पल साइडर विनेगर मिला सकते हैं। या फिर गर्म पानी में सेब का सिरका मिलाएं, इसमें अपने पैरों को डालें।
  • एड़ी में जलन होने पर पैरों की मालिश करना भी अच्छा उपाय हो सकता है। मालिश करने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, इससे समस्या में आराम मिल सकता है। आप नारियल तेल, चंदन के तेल आदि से पैरों की मालिश कर सकते हैं। 

अगर आपको भी पैरों या एड़ी में जलन, दर्द महसूस होता है तो इस लक्षण को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। समय बढ़ने पर यह समस्या गंभीर हो सकती है। इसलिए एड़ी में अगर अकसर ही जलन रहे, तो डॉक्टर से कंसल्ट करें। डॉक्टर एड़ी में जलन के कारण का पता लगाएंगे, समस्या का इलाज करना शुरू करेंगे। 

Disclaimer