Healthy Breakfast: तेजी से वजन घटाना है तो नाश्ते में खाएं तोरई, जानें इस बनाने की कुछ खास रेसिपी और फायदे

तोरई खाना भले ही आपको नापंसद हो पर ये शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है। आइए आज हम आपको तोरई को खाने की खास रेसिपी बताते हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Sep 04, 2020Updated at: Sep 04, 2020
Healthy Breakfast: तेजी से वजन घटाना है तो नाश्ते में खाएं तोरई, जानें इस बनाने की कुछ खास रेसिपी और फायदे

नाश्ते (Breakfast For Weight Loss) में बहुत से लोग तोरई को खाना तो दूर, देखना तक पसंद नहीं करते। ऐसा इसलिए क्योंकि लोगों को तोरई की सब्जी कुछ खास पसंद नहीं होती। पर क्या आपको पता है कि तोरई नाश्ते में खाना कितना फायदेमंद हो सकता है? दरअसल तोरई शरीर को (health benefits of ridge gourd or tori) पोषण पहुंचाने के साथ ब्लड शुगर को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। वहीं जो लोग तेजी से वजन घटाना चाहते हैं, तोरई उनके लिए भी बहुत फायदेमंद है। पर इसमें सबसे बड़ी मुश्किल ये है कि लोग तोरई को अपने नाश्ते में बिलकुल भी शामिल नहीं करना चाहते। तो ऐसे ही लोगों के लिए आज हम आपको तोरई को बनाने की कुछ खास रेसिपी बताएंगे, जो कि आसान है और टेस्टी भी।

insidetirayibenefitsinbreakfast

तोरई से बनने वाली 2 दिलचस्प रेसिपी (Turai Sabzi Recipe)

तोरई ककड़ी परिवार का एक पानीदार सब्जी है। इसे तोरी भी कहा जाता है। इसमें काफी कम कैलोरी वाला होता है, जो कि हृदय-स्वस्थ और डायबिटीज के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है। अगर आपको तोरई की सब्जी पसंद नहीं है, तो आप इसका समर सलाद बना कर खा सकते हैं।

तोरई सलाद

सामग्री

  • -1 तोरी को छोटे क्यूब्स में काटें
  • -1 कप कद्दूकस या कद्दूकस किया हुआ गाजर
  • -नमक और काली मिर्च स्वाद के लिए
  • -गार्निशिंग के लिए भुनी हुई मूंगफली
  • -नींबू का रस
  • -कटा हुआ हरा धनिया
insideturaisalad

इसे भी पढ़ें : Black Seeds Oil: वजन को तेजी से घटाने के साथ-साथ डायबिटीज और लिवर की समस्‍याओं का इलाज करता है कलौंजी का तेल

बनाने का तरीका

यह सलाद दो तरह से बनाया जा सकता है। आप तोरी को कच्चा खा सकते हैं या आप अपनी पसंदीदा बनावट के अनुसार उबाल कर और मैश करके भी सलाद बना सकते हैं। साथ ही आप इसे हल्का उबालने के बाद इसे काट कर हाफ फ्राई भी कर सकते हैं, जिससे ये कुरकुरे हो जाएंगे। 

  • - अब इस कुरकुरे क्यूब्स को एक बाउल में निकाल लें। गाजर, नमक और काली मिर्च मिला लें।
  • -10 मिनट के लिए अलग रखें। नीबू का रस, धनिया और मूंगफली डालें और मिलाएं।
  • -इस तैयार हो गया आपका तोरई सलाद। इसे नाश्ते में खाएं।

मूंगफली और तोरई की चटनी

मूंगफली की चटनी हर किसी को पसंद है। आप इडली-डोसा या पराठे के साथ मूंगफली और तोरई से बनने वाली ये चटनी खा सकते हैं। इसे बनना के लिए आपको ज्यादा कुछ मेहनत नहीं करनी है, बस मूंगफली की चटनी की तरह इसे आपको बनाना है। जैसे कि

  • -मूंगफली को भून कर पीस लें।
  • -तोरई को उबाल कर पीस लें।
  • -अब एक पैन में हल्का सरसो तेल डालें।
  • -इसमें राई और करी पत्ता डालें।
  • -लाल मिर्च डालें
  • -अब हल्दी हल्का सा डाल लें।
  • -चाहें, तो आप भीगे हुए चने की दाल भी डाल सकते हैं।
  • -अब पीसी हुई मूंगफली और तोरई को इसमें डालें।
  • -हल्का नमक डालें और पानी डाल कर पका लें।
  • -अब चटनी की तरह गाढ़ा हो जाने पर गैस बंद कर दें।
  • -अब सर्व कर लें। 
insideturaichutney

इसे भी पढ़ें : Cocona Fruit: ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम से लेकर वजन घटाने और एर्नेजे‍टि‍क रहने में मदद करता है कोकोना फल

तोरई खाने के फायदे (Regular Intake Of Turaai For Weight Loss)

1. वजन घटाने को बढ़ावा देता है

तोरई कम कैलोरी वाले और आहार फाइबर से भरे होते है, जो वसा को ठीक से पचाने और अवशोषित करते हैं।  इसका मतलब है कि अगर आप नाश्ते में तोरई खाएंगे, तो लंबे समय तक तृप्त रखेगा और आपको बार-बार भूख नहीं लगेगी। वहीं ये आपके पाचनतंत्र को भी ठीक रखता है, जिससे कि शरीर में फैट जमा नहीं हो पाता है। इस तरह ये आपको वजन कंट्रोल करने में भी मदद करता है।

2. ब्लड शुगर को नियंत्रित करता है

तोरई शरीर में इंसुलिन उत्पादन को बढ़ावा देता है, जिसका अर्थ है कि आपका ब्लड शुगर कम नहीं होगा। तोरी में पेप्टाइड्स और एल्कलॉइड होते हैं, जो चयापचय को तेज करने का काम करता है। इसके अलावा, यह शरीर में शुगर के उचित स्राव और अवशोषण में मदद करता है।

मोटापा और शुगर की परेशानी के अलावा समय-समय पर आंखों में संक्रमण, लिवर में संक्रमण या पेट में कीड़े होना भी लोगों को परेशान करता है। पर क्या आप जानते हैं कि इन संक्रमणों के पीछे प्रमुख कारण सूजन और कमजोर इम्यून सिस्टम है? ऐसे में तोरई आपके स्वास्थ्य को पटरी पर लाने में मदद करता है। यह न केवल शरीर में सूजन को कम करता है, बल्कि इसमें मौजूद विटामिन सी, लोहा, मैग्नीशियम, थायमिन, राइबोफ्लेविन और आयरन हर तरह से शरीर के लिए फायदेमंद है।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer