ये 9 संकेत हो सकते हैं दिमाग की कमजोरी के लक्षण, जानें इसके कारण और बचाव

Brain Weakness Symptoms: दिमाग कमजोर होने पर आपको कई लक्षण दिखाई देते हैं, आइए जानते हैं दिमाग की कमजोरी के लक्षण और बचाव।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Nov 10, 2022 15:28 IST
ये 9 संकेत हो सकते हैं दिमाग की कमजोरी के लक्षण, जानें इसके कारण और बचाव

Brain Weakness Symptoms: शरीर में मौजूद सभी अंगों का स्वस्थ रहना जरूरी है लेकिन दिमाग का स्वस्थ रहना सबसे जरूरी माना जाता है। पूरे शरीर के सभी अंगों को कमांड देना हो या सही ढंग से अंगों का कामकाज हो, दिमाग से ही ये सभी संचालित होते हैं। बढ़ती उम्र में अक्सर यह देखा गया है कि इंसान का दिमाग कमजोर होने लगता है। 60 साल की उम्र के बाद लोग चीजें भूलने लगते हैं और नई चीजें सीखने में भी उन्हें कठिनाई होती है। लेकिन कुछ लोगों में यह समय कम उम्र में ही होने लगती है। दिमाग में कमजोरी आने पर कई लक्षण दिखाई देते हैं। इन लक्षणों को सही समय पर पहचानकर खानपान में बदलाव करने और इलाज लेने से आप इस समस्या का शिकार होने से बच सकते हैं। आइए विस्तार से जानते हैं दिमाग में कमजोरी के लक्षण और बचाव के बारे में।

दिमाग की कमजोरी के लक्षण- Brain Weakness Symptoms in Hindi

दिमाग में कमजोरी आने पर आपकी मानसिक क्षमता पर प्रभाव पड़ता है इसके अलावा आपके कामकाज पर भी बुरा असर पड़ता है। इसकी वजह से इंसान की मेमोरी कम होने लगती है और कई बार चीजों को लेकर दिमाग में कंफ्यूजन बना रहता है। दिमाग की नसों के कमजोर होने पर भी आपको ये लक्षण देखने को मिलते हैं।

Brain Weakness Symptoms

इसे भी पढ़ें: दिमाग की नसों में सूजन होने पर दिखाई देते हैं ये 6 लक्षण, जानें बचाव के उपाय

दिमाग की कमजोरी के कुछ प्रमुख लक्षण इस तरह से हैं-

  • याद्दाश्त कमजोर होना
  • हाथ-पैर में झुनझुनाहट
  • कमजोरी आना
  • शरीर के एक हिस्से में लकवा
  • बोलने में परेशानी
  • आंखों की रोशनी कम होना
  • शरीर का बैलेंस बिगड़ना
  • बेहोशी या चक्कर आना
  • लगातार सिरदर्द 
  • सोचने समझने की क्षमता पर प्रभाव

दिमाग की कमजोरी के कारण- What Causes Brain Weakness in Hindi

दिमागी कमजोरी कई कारणों से हो सकती है। यह समस्या आमतौर पर किसी बीमारी की वजह से या खानपान और लाइफस्टाइल से जुड़ी गलत आदतों की वजह से होती है। इसके अलावा बहुत ज्यादा स्मोकिंग करने और शराब का बहुत ज्यादा सेवन करने वाले लोगों में भी इस समस्या का खतरा बना रहता है। कुछ लोगों में आनुवांशिक कारणों से भी यह समस्या होती है। बहुत ज्यादा असंतुलित भोजन करने और खराब जीवनशैली वाले लोगों में कम उम्र में ही दिमाग की कमजोरी हो जाती है। वहीं ऐसे लोग जो बहुत ज्यादा तनावग्रस्त होते हैं, उनके दिमाग पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है।

दिमाग की कमजोरी से बचने के उपाय- Brain Weakness Prevention in Hindi

दिमाग को कमजोर होने से बचाने के लिए नियमित रूप से व्यायाम और एक्टिव जीवनशैली अपनानी चाहिए। इसके अलावा हेल्दी और पौष्टिक आहार का सेवन करने से भी आप इस समस्या का शिकार होने से बच सकते हैं। दिमाग को कमजोर होने से बचाने के लिए आपको दिमागी कसरत वाले गेम जैसे शतरंज, सूडोकू आदि भी खेलना चाहिए। अगर कम उम्र में दिमाग कमजोर होने के लक्षण दिखाई दें तो डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer