Doctor Verified

आंत के कैंसर (Bowel Cancer) की शुरुआत में दिखते हैं ये 7 लक्षण, जानें बचाव के टिप्स

बाउल कैंसर या आंत का कैंसर होने पर आपके शरीर में कुछ लक्षण दिखाई देते हैं, जानें आंत के कैंसर के शुरूआती लक्षण और बचाव।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jul 02, 2022Updated at: Jul 02, 2022
आंत के कैंसर (Bowel Cancer) की शुरुआत में दिखते हैं ये 7 लक्षण, जानें बचाव के टिप्स

Bowel Cancer Symptoms: कैंसर की बीमारी दुनियाभर में स्वास्थ्य से जुड़ी सबसे बड़ी चुनौती है। इस बीमारी में मरीज अगर शुरूआती समय में इलाज लेता है तो उसके ठीक होने की संभावना बढ़ जाती है। कैंसर की बीमारी कई तरह की होती है और इस बीमारी की शुरुआत में पर शरीर में कई तरह के लक्षण दिखाई देते हैं। बाउल कैंसर (Bowel Cancer in Hindi) जिसे कोलोरेक्टल कैंसर के रूप में भी जाना जाता है, आंतों में होने वाली एक गंभीर समस्या है। इस बीमारी की शुरुआत आंतों की अंदरूनी परत से होती है और धीरे-धीरे यह समस्या बढ़कर शरीर के अन्य अंगों में पहुंच सकती है। बाउल कैंसर या आंत के कैंसर के शुरूआती लक्षणों को समझकर आप सही समय पर डॉक्टर की सलाह और इलाज ले सकते हैं। आंत के कैंसर की शुरुआत में मरीज में दिखने वाले लक्षण थोड़े माइल्ड होते हैं लेकिन समस्या जैसे बढ़नी शुरू होती है इसके लक्षण भी बढ़ने लगते हैं। आइए जानते हैं आंत के कैंसर या बाउल कैंसर की समस्या में दिखने वाले लक्षण और बचाव के उपाय।

आंत के कैंसर के शुरुआती लक्षण (Bowel Cancer Symptoms in Hindi)

Bowel Cancer Symptoms

बाउल कैंसर जिसे कोलोरेक्टल कैंसर या आंत के कैंसर के नाम से जाना जाता है, यह समस्या कई कारणों से हो सकती है। लोगों में आंत का कैंसर होने के कुछ प्रमुख कारण असंतुलित और अधिक ऑयली भोजन, प्रोसेस्ड फूड का अधिक मात्रा में सेवन, डायबिटीज, मोटापे की समस्या और आनुवंशिक कारण हो सकते हैं। सीनियर ऑन्कोलॉजिस्ट डॉ निखिल अग्रवाल के मुताबिक बाउल कैंसर या आंत का कैंसर होने पर आपके शरीर में दिखने वाले कुछ प्रमुख लक्षण इस प्रकार से हैं-

1. बाउल कैंसर होने पर मल में खून आने की समस्या हो सकती है।

2. आंत के कैंसर की शुरुआत होने के बाद मरीज को पेट में दर्द और क्रैम्प्स हो सकते हैं।

3. पाचन से जुड़ी परेशानियां जैसे कब्ज और डायरिया।

इसे भी पढ़ें: आंतों में मौजूद बैक्टीरिया भी बन सकते हैं पेट के कैंसर का कारण, वैज्ञानिक शोध में हुआ खुलासा

4. मलाशय में गांठ की समस्या।

5. बाउल कैंसर की शुरुआत में एनीमिया की समस्या होती है।

6. पेशाब करते समय दर्द और पेशाब में खून आना भी बाउल कैंसर का शुरूआती लक्षण हो सकता है।

7. सांस लेने में तकलीफ और सांस की कमी होना।

आंत के कैंसर से बचाव के टिप्स (Bowel Cancer Prevention in Hindi)

बाउल कैंसर या आंत का कैंसर ज्यादातर मामलों में खानपान से जुड़ी गलत आदतों या आनुवांशिक कारणों से होता है। ऐसे लोग जिन्हें कोलन कैंसर, बाउल कैंसर जैसी बीमारियों का जोखिम होता है उन्हें अपनी खानपान की आदतों और जीवनशैली का विशेष ध्यान रखना चाहिए। बाउल कैंसर से बचाव के लिए आप इन बातों का ध्यान जरूर रखें-

  • बाउल कैंसर के लक्षण दिखने पर डॉक्टर की देखरेख में स्क्रीनिंग जरूर कराएं। 
  • हरी सब्जियां, फल और साबुत अनाज को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। 
  • विटामिन, खनिज और एंटी ऑक्सीडेंट की प्रचुर मात्रा वाले फूड्स को डाइट में शामिल करें। 
  • शराब का सेवन कम करें और धूम्रपान कंट्रोल करने की कोशिश करें। 
  • नियमित रूप से एक्सरसाइज या व्यायाम जरूर करें।

खानपान से जुड़ी गलत आदतें और जीवनशैली की वजह से लोगों में आंत का कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है। इस समस्या से बचने के लिए ऊपर बताई गयी बातों का ध्यान जरूर रखें और लक्षण दिखने पर डॉक्टर की सलाह लें।

(All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer