Doctor Verified

गन्ने का जूस कब पीना चाहिए? सही समय पर इस जूस को पीने से सेहत को मिलते हैं कई फायदे

गर्मियों में गन्ने का जूस पीना काफी लाभकारी होता है। लेकिन अगर इसे सही समय और तरीके से पिया जाए, तो फायदे भी बढ़ जाते हैं।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: May 11, 2022Updated at: May 11, 2022
गन्ने का जूस कब पीना चाहिए? सही समय पर इस जूस को पीने से सेहत को मिलते हैं कई फायदे

Sugarcane Juice Benefits: गर्मियों में गन्ने का जूस पीना काफी सेहतमंद होता है। गन्ने के जूस में पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट और आयरन पाया जाता है। इसके अलावा इसमें कुछ मात्रा में मैग्नीशियम और कैल्शियम भी होता है। गन्ने का जूस पीने से पेट से जुड़ी समस्याएं, थकान और कमजोरी दूर होती है। गन्ने का जूस पेट को ठंडक देता है, डिहाइड्रेशन से बचाता है और स्वस्थ रखने में मदद करता है। गन्ने का जूस पीने से शरीर को तुरंत एनर्जी भी मिलती है। गन्ने के जूस के अनेकों फायदे हैं, जो हमें मिल सकते हैं। लेकिन गन्ने के जूस के फायदों को पाने के लिए इसे हमेशा सही समय और तरीके से पीना जरूरी होता है। तो चलिए आरोग्य डाइट और न्यूट्रीशन क्लीनिक की डायटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा से विस्तार से जानते हैं गन्ने का जूस कब और कैसे पीना चाहिए-

गन्ने का जूस कब पीना चाहिए? (Best Time to Drink Sugarcane Juice)

गन्ने का जूस पीने से शरीर को कई लाभ मिलते हैं। लेकिन अगर सही समय पर गन्ने का जूस पिया जाए, तो इसके फायदे बढ़ जाते हैं। गन्ने का जूस पीने का सही समय दोपहर से पहले का होता है। साथ ही गन्ने का जूस हमेशा बैठकर पीना चाहिए। हफ्ते में 3-4 दिन गन्ने का जूस पीने से शरीर को ठंडक मिलती है, डिहाइड्रेशन से भी बचाव होता है।

गन्ने का जूस कैसे पीना चाहिए? (How to Drink Sugarcane Juice)

गन्ने का जूस हमेशा फ्रेश या ताजा पीना चाहिए। फ्रिज में रखा हुआ गन्ने का जूस पीने से बचें, यह पाचन तंत्र को प्रभावित कर सकता है। गन्ने के जूस के पोषक तत्वों और स्वाद को बढ़ाने के लिए आप इसमें पुदीना और नींबू का रस भी डलवा सकते हैं। कुछ लोग गन्ने के जूस में काला नमक डालकर पीना भी पसंद करते हैं। ताजा गन्ने का जूस पीने से शरीर को ठंडक मिलेगी, पाचन में भी सुधार होगा।

कभी भी देर तक स्टोर किया गया गन्ने का जूस नहीं पीना चाहिए। गन्ने का जूस बहुत जल्दी खराब हो जाता है, इसलिए देर में इसे पीने से शरीर को नुकसान पहुंच सकता है। गन्ने के जूस के फायदों को लेने के लिए इसे हमेशा फ्रेश पिएं।

इसे भी पढ़ें - क्या गन्ने का जूस पीने से वजन बढ़ता है? डायटीशियन से जानें सच्चाई

ये लोग न पिएं गन्ने का जूस

गन्ने का जूस कैल्शियम, कॉपर, मैग्नीशियम, आयरन और पोटेशियम से भरपूर होता है। इसके अलावा इसमें विटामिन ए, बी1, बी2 और सी भी होता है। गन्ने का जूस पीने से फायदे मिलते हैं, लेकिन कुछ खास तरह के लोगों को गन्ने का जूस पीने से बचना चाहिए।

  • सर्दी-जुकाम या खांसी होने पर गन्ने का जूस पीने से बचें। 
  • तेज सिरदर्द की स्थिति में भी गन्ने का जूस नहीं पीना चाहिए। इसकी तासीर ठंडी होती है, जो सिरदर्द को ट्रिगर कर सकता है।
  • गन्ने का जूस वैसे तो पाचन तंत्र के लिए अच्छा होता है, लेकिन इसका अधिक सेवन पाचन पर बुरा असर डाल सकता है।
  • कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की स्थिति में गन्ने का जूस पीने से बचें। गन्ने का जूस बैड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकता है।

stomach pain

भले ही गन्ने का जूस सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है, लेकिन फिर भी इसे सीमित मात्रा में ही पीना चाहिए। अधिक मात्रा में गन्ने का जूस पीने से स्वास्थ्य को नुकसान भी पहुंच सकता है। आप एक दिन में 1-2 गिलास गन्ने का जूस पी सकते हैं। अच्छा होगा अगर बिना बर्फ के गन्ने का जूस पिएं। 

Disclaimer