Expert

पुरुषों की फर्टिलिटी बढ़ाने में फायदेमंद है सहजन का सूप, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे

सहजन का सूप पीने से कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं में लाभ होता है। इसमें ऐफ्रडिजीऐक गुण मौजूद होते हैं, जो सेक्स ड्राइव बढ़ाने में मदद करते हैं।

Priya Mishra
Written by: Priya MishraUpdated at: Oct 01, 2022 09:00 IST
पुरुषों की फर्टिलिटी बढ़ाने में फायदेमंद है सहजन का सूप, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे

मोरिंगा यानी सहजन का इस्तेमाल आमतौर पर सांभर या सब्जी बनाने के लिए होता है। कुछ लोग इसे सलाद या चटनी के रूप में भी खाते हैं। यह सब्जी ना केवल खाने में स्वादिष्ट लगती है, बल्कि सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद है। सहजन को  सुजना और मुनगा के नाम से भी जाना जाता है। यह एक सुपरफूड है, इसमें कैल्शियम, प्रोटीन, विटामिन, पोटैशियम, आयरन, फाइबर, सोडियम, बीटा कैरोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फास्‍फोरस और जिंक जैसे पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। सहजन की फली, बीज और पत्तियां सेहत के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती हैं। सहजन का सेवन करने से कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं में लाभ होता है। इसके फायदों के बारे में बात करते हुए न्यूट्रिशनिस्ट राशिका कहती हैं कि सहजन का सूप पोषक तत्वों का खजाना है। यह शुगर से लेकर बीपी तक की समस्या में फायदेमंद है। यदि नियमित रूप से सहजन का सूप बनाकर पिया जाए, तो इससे सेहत को कई लाभ होते हैं। इसके सूप का सेवन करने से शारीरिक लाभ तो पहुंचता ही है, साथ ही सेक्सुअल लाइफ भी बेहतर बनती है। तो आइए जानते हैं सहजन के सूप के फायदे (Benefits of Drumstick Soup) -

सहजन का सूप बनाने का तरीका - How To Make Drumstick Soup

सहजन का सूप बनाने के लिए सबसे हले सहजन को छीलकर, छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। फिर इसे एक बर्तन में पानी डालकर उबाल लें। जब सहजन नरम हो जाए तो इसे ठंडा कर लें। इसके बाद इसे मिक्सी में डालकर पीस लें। फिर इसके पल्प को निकालकर अलग रख लें। इसके बाद एक पैन में घी डालें, गर्म होने पर इसमें जीरा डालकर एक मिनट के लिए भूनें। अब इसमें सहजन का पल्प, काला नमक और काली मिर्च डालें। इसे 5 मिनट तक पकाएं और फिर इसे एक कटोरी में निकाल लें। अब इस सूप का सेवन करें। 

सहजन के सूप के 5 फायदे - Drumstick Soup Benefits 

इम्यूनिटी बढ़ाता है (Immunity Booster)

सहजन का सूप एक प्राकृतिक इम्यूनिटी बूस्टर है। इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन, आयरन और एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होते हैं। इस सूप का सेवन करने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और संक्रमण से बचाव में मदद मिलती है।  यह शरीर में एंटीबॉडी के निर्माण में भी सहायक है। 

इसे भी पढ़ें: इन 5 सब्जियों से बढ़ाएं शरीर की इम्यूनिटी

सेक्स लाइफ बेहतर बनाए (Improves Sex Drive) 

एक्सपर्ट के मुताबिक, सहजन के सूप का सेवन करने से सेक्सुअल लाइफ बेहतर बनाने में मदद मिलती है। दरअसल, सहजन में ऐफ्रडिजीऐक (Aphrodisiac) गुण मौजूद होते हैं, जो सेक्स ड्राइव बढ़ाने में मदद करते हैं। इसका नियमित सेवन करने से पुरुषों में आंतरिक कमजोरी दूर होती है और यौन शक्ति में इजाफा होता है। इसके साथ ही यह पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन लेवल और स्पर्म काउंट बढ़ाने में भी मदद करता है।

शुगर कंट्रोल करे (Controls Blood Sugar)

डायबिटीज के मरीजों के लिए भी सहजन का सूप बहुत फायदेमंद है। इसमें क्लोरोजेनिक एसिड मौजूद होता है, जो ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसके नियमित सेवन से डायबिटीज कंट्रोल करने में मदद मिलती है। शुगर की बीमारी में आप डॉक्टर की सलाह से सहन के सूप का सेवन कर सकते हैं। 

कब्ज दूर करे (Good For Constipation)

सहजन का सूप पीने से कब्ज और पेट दर्द जैसी पाचन संबंधी समस्याएं दूर होती हैं। इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर होता है, जो आंतों की सफाई करने में फायदेमंद है। इसका सेवन करने से मेटाबॉलिज्म तेज होता है और बॉवेल मूमेंट सही रहता है। सहजन में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो पेट के संक्रमण और दर्द से बचाव में मददगार हैं। 

इसे भी पढ़ें: Sperm Count Increase Food: स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए पुरुषों को रोज खाने चाहिए ये 5 फूड्स

हड्डियां मजबूत बनाए (Strong Bones)

सहजन का सूप पीने से हड्डियाँ मजबूत होती हैं। इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम मौजूद होता है, जो हड्डियों के लिए बेहद फायदेमंद है। एक शोध के अनुसार, सहजन में एक गिलास दूध और दही से 17 गुना ज्यादा कैल्शियम होता है। सहजन का सूप पीने से बोन डेंसिटी बढ़ती है और कमजोर हड्डियों की समस्या से बचाव होता है। खासतौर पर ऐसे लोग जो लैक्टोस इन्टॉलरेंट हैं, उनके लिए सहजन का सूप कैल्शियम की कमी दूर करने का एक अच्छा विकल्प है।   

सहजन का सूप पीने से शरीर में कई पोषक तत्वों की आपूर्ति होती है। इसका नियमित सेवन करके आप खुद को कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं से बचा सकते हैं। हालांकि, शुगर या बीपी जैसी बीमारियों में इसका सेवन डॉक्टर की सलाह के बाद ही करना चाहिए।

Disclaimer