बहुत फायदेमंद होता है लसोड़ा (बहुवार), दांत दर्द और सूजन जैसी इन 5 समस्याओं को तुरंत करता है दूर

लसोड़े के कई आयुर्वेद‍िक गुण हैं ज‍िनसे दांत का दर्द, सूजन आद‍ि समस्‍याओं को दूर क‍िया जाता है, आइए जानते हैं इसके अन्‍य फायदे और इस्‍तेमाल का तरीका

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Aug 18, 2021Updated at: Aug 18, 2021
बहुत फायदेमंद होता है लसोड़ा (बहुवार), दांत दर्द और सूजन जैसी इन 5 समस्याओं को तुरंत करता है दूर

लसोड़े (बहुवार) के क्‍या फायदे होते हैं? लसोड़े की मदद से आप मुंह के छाले, फुंसी की समस्‍या, खुजली, सूजन की समस्‍या, अर्थराइट‍िस का दर्द, दांत का दर्द, पीर‍ियड्स पेन, बाल सफेद होने की समस्‍या, रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ाने, पेट का अल्‍सर आद‍ि समस्‍याएं ठीक होती हैं। लसोड़ा एक पेड़ है ज‍िसके फल, छाल, पत्‍तों का इस्‍तेमाल क‍िया जाता है। आप लसोड़े का सेवन कई तरह से कर सकते हैं, इसके पत्‍ते के रस का काढ़ा बनाया जाता है, फल के रस से भी काढ़ा तैयार होता है, लसोड़े की छाल का पाउडर कई रोगों में इस्‍तेमाल क‍िया जाता है, लसोड़े से आचार, सब्‍जी और लड्डू भी बनाए जाते हैं। इस लेख में हम लसोड़े के फायदे और उसे इस्‍तेमाल करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की। 

lasoda benefits

(image source:campdevvilas)

1. दांत का दर्द दूर करता है लसोड़ा (Lasoda helps to cure toothache)

लसोड़े (बहुवार) की मदद से मसूड़ों में सूजन की समस्‍या भी दूर क‍ी जाती है। इससे मुंह के छालों में भी आराम म‍िलता है। आप लसोड़े की छाल का पाउडर लें और उसे दो कप पानी में डालकर उबालें, उसका काढ़ा बनकर तैयार हो जाए तो उसका सेवन करें, इससे दांत का दर्द भी दूर हो जाएगा। 

2. फुंसी हो जाने पर इस्‍तेमाल करें लसोड़ा (Lasoda helps to cure pimples)

फुंसी की समस्‍या दूर करने में भी लसोड़ा फायदेमंद माना जाता है। आप लसोड़े की पत्‍त‍ियों को पीसकर कीड़े के काटने वाली जगह पर भी लगा सकते हैं। ज‍िन लोगों को खुजली की समस्‍या होती है उनके ल‍िए भी लसोड़ा फायदेमंद है। आपको बीजों को पीसकर खुजली वाली जगह पर लगाना है इससे खुजली दूर हो जाएगी। 

इसे भी पढ़ें- वत्सनाभ का पौधा है डायबिटीज, सूजन, बुखार जैसी इन 5 समस्याओं का आयुर्वेदिक इलाज, जानें प्रयोग का तरीका

3. सूजन को कम करने में मदद करता है लसोड़ा (Lasoda helps to reduce swelling)

laosda pickle

(image source:campdevvilas)

सूजन कम करने के ल‍िए आप लसोड़े की छाल का पाउडर बना लें और उसमें कपूर डालकर म‍िश्रण तैयार करें फ‍िर इसे सूजन वाले ह‍िस्‍से में लगाएं तो सूजन की समस्‍या दूर होगी। लसोड़े का आचार बनाकर भी खाया जाता है। लसोड़ा स्‍वाद में मीठा होता है, लसोड़े (बहुवार) के फल के रस को जोड़ों पर लगाने से अर्थराइट‍िस में होने वाले दर्द से भी राहत म‍िलती है। ज‍िन मह‍िलाओं को पीर‍ियड्स के समय दर्द होता है वो भी लसोड़े की छाल का काढ़ा पी सकती हैं, इससे आराम म‍िलेगा।

4. समय से पहले बाल पकने की समस्‍या को दूर करता है लसोड़ा (Lasoda helps to get rid of grey hairs)

लसोड़े के फल के रस को बालों में लगाने से समय से पहले बाल पकने की समस्‍या दूर होती है। लसोड़े के फल के रस को तेल में म‍िलाकर भी लगा सकते हैं। स‍िर में दर्द होने पर भी आप लसोड़े का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। लसोड़े के पत्‍तों को पीसकर उसका लेप लगाने से स‍िर का दर्द दूर होता है। 

इसे भी पढ़ें- दांत दर्द, सिर दर्द, खांसी जैसी इन 5 समस्याओं को दूर करता है सिरस (शिरीष) का पेड़, जानें प्रयोग का तरीका

5. शरीर में ताकत को बढ़ाता है लसोड़ा (Lasoda provides energy to body)

lasoda uses

(image source:freshron)

लसोड़ा से शरीर को ताकत म‍िलती है, अगर आप लसोड़ा (बहुवार) के फल को सुखाकर इसका चूरण बना लें और उसे बेसन और घी के साथ म‍िलाकर लड्डू बनाकर खाएं तो शरीर को ताकत म‍िलेगी। ज‍िन लोगों के गले में खराश होती है वो भी लसोड़े का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आपको लसोड़े की छाल का पाउडर बनाना है और दो कप पानी में उसे उबालना है, म‍िश्रण में आप शहद और काली म‍िर्च एड करें, जब पानी आधा रह जाए तो उसे पी लें इससे गला ठीक हो जाएगा। इसके अलावा छाल के पानी के गरारे करने से भी गले को राहत म‍िलती है।

लसोड़े के फल में रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ाने के गुण होते हैं, इससे पेट का अलसर, यूर‍िन में जलन आद‍ि समस्‍याएं भी दूर होती हैं, अगर आपको कोई बीमारी है तो डॉक्‍टर की सलाह पर ही इसका इस्‍तेमाल करें। 

(main image source:campdevvilas)

Read more on Ayurveda in Hindi

Disclaimer