अधोमुखवृक्षासन करने से शरीर को मिलते हैं ये 7 फायदे, जानें करने का तरीका

अधोमुखवृक्षासन योगासन करने से आपको कई फायदे मिलते हैं। इससे आपको तनाव और चिंता को कम करने में मदद मिलती है।

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: Jan 27, 2022Updated at: Jan 27, 2022
अधोमुखवृक्षासन करने से शरीर को मिलते हैं ये 7 फायदे, जानें करने का तरीका

व्यस्त जीवनशैली के कारण लोग अपनी सेहत को लेकर थोड़े लापरवाह हो जाते हैं। वह खानपान से लेकर एक्सरसाइज तक में कई अनदेखी करते हैं। ऐसे में योग अपनाकर आप अपने आपको स्वस्थ और फिट रख सकते हैं। दरअसल योग की मदद से आपको अनगिनत फायदे मिलते हैं। ऐसे ही एक योग है अधोमुखवृक्षासन है। इस योगासन में आप अपने हाथों के बल पर शरीर का भार उठाते हैं। इससे शरीर को मजबूत करने में मदद मिलती है। इससे हड्डियों, मांसपेशियों, हृदय, मस्तिष्क और फेफड़ों को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है। इससे हाथों के मसल्स में भी मजबूती आती है। साथ ही तनाव को कम करने में भी मदद मिलती है। आइए अधोमुखवृक्षासन के फायदे और करने के तरीके के बारे में विस्तार से जानते हैं।

अधोमुखवृक्षासन के फायदे (Handstand Pose)

1. इस आसन की मदद से आंखों की ओर ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने में मदद मिलती है। इससे शरीर में हार्मोन का प्रवाह भी बढ़ता है। इसमें हाथों के बल पर खड़े होने की स्थिति में आंखों तक ऑक्सीजन और पोषक तत्वों का प्रवाह बढ़ता है। 

2. हाथों, कंधे और ऊपरी हिस्से को इस अभ्यास से मजबूती मिलती है। इससे शरीर की मांसपेशियों में खिंचाव आता है। जिसकी मदद से हाथ और कंधे का दर्द ठीक हो सकता है।

3. अधोमुखवृक्षासन की मदद से तनाव को कम करने में मदद मिलती है। इससे आप पूरे दिन तरोताजा अनुभव करते हैं।

4. इससे पाचन तंत्र को बढ़ाने में भी मदद मिलती है। साथ ही इससे गैस और अपच की समस्या हो सकती है।

5. इससे कोर मसल्स को मजबूत करने में भी मदद मिलती है।

6. इस योगासन से छाती और पेट की मांसपेशियां गतिशील होती है।

7. इससे रीढ़ की हड्डी  के दर्द में भी राहत मिलती है।

handstand-pose

Image Credit- Freepik 

अधोमुखवृक्षासन करने का तरीका

1. इस योगासन को करने के लिए आप योग मैट पर बैठ जाएं।

2. उसके बाद दीवार की ओर पैर करके मार्जरासन की मुद्रा में बैठ जाएं।

3. इसके बाद अपने दोनों पैरों को फर्श से ऊपर की ओर उठाने की कोशिश करें और उन्हें सीधा करें।

4. अब धीर-धीरे करके दोनों पैरों को दीवार पर ऊंचा करते जाएं। 

5. इससे आपके दोनों हाथों पर संपूर्ण भार लाएं।

6. अब अपने हाथों पर पूरे शरीर का संतुलन बनाएं और पैरों को दीवार से हटाकर सीधा करने की कोशिश करें।

7. अगर आपको हाथों के बल बिना सहारे के खड़े होने पर परेशानी हो रही हो, तो आप दीवारा का सहारा ले सकते हैं।

8. इस स्थिति में 30 सेकेंड रहें और उसके बाद प्रारंभिक अवस्था में आ जाएं।

9. इस योगासन को आप रोज कर सकते हैं।

handstand-pose

Image Credit- Freepik 

अधोमुखवृक्षासन करने के टिप्स

1. इस योगासन के दौरान शुरुआत में संतुलन बनाने में मुश्किल आ सकती है, तो आप किसी दीवार या वस्तु का सहारा ले सकते हैं।

2. अभ्यास करते वक्त सावधानी बरतने की कोशिश करें और जल्दीबाजी करने की कोशिश करें।

3. इस अभ्यास से धीरे-धीरे प्रारंभिक अवस्था में आएं, वरना शरीर में चोट आ सकती है।

4. इस अभ्यास को सुबह खाली पेट करने की कोशिश करें।

5. इस योगासन के दौरान ढीले कपड़े पहनने की कोशिश करें।

इसे भी पढ़ें- हमेशा रहना चाहते हैं तनावमुक्त? तो इन 3 आदतों में आज से ही करें बदलाव

सावधानियां

1. अगर आपको शरीर में किसी तरह की कमजोरी महसूस हो रही है, तो इस योगासन को न करें।

2. अगर आपको हाई ब्लडप्रेशर की समस्या है, तो इसका अभ्यास न करें।

3. इसके अलावा नसों से संबंधित कोई समस्या है, तो उस स्थिति में इस योगासन को न करें।

4. अगर आपका वजन अधिक है, तो इस अभ्यास को ट्रेनर की उपस्थिति में ही करें।

5. इसके अलावा अधिक उम्र के लोगों को यह अभ्यास नहीं करना चाहिए।

6. अगर आपको कंधे, कमर, सिर, पेट या गर्दन में चोट लगी हो, तो इस योगासन को करने से बचें।

Disclaimer