पीठ पर हो रहे हैं मुंहासे? ऐसे इस्‍तेमाल करें सेब का स‍िरका

Back Acne in Hindi: पीठ पर मुंहासे होने पर सेब के स‍िरके का इस्‍तेमाल फायदेमंद माना जाता है। आप भी जानें इस्‍तेमाल के आसान तरीके। 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraUpdated at: Oct 15, 2022 12:37 IST
पीठ पर हो रहे हैं मुंहासे? ऐसे इस्‍तेमाल करें सेब का स‍िरका

बैक्‍टीर‍िया बढ़ने या हार्मोनल बदलावों के कारण पीठ पर एक्‍ने नजर आ सकते हैं। पीठ पर मुंहासे होने से दर्द और सूजन की समस्‍या बढ़ जाती है। सेब के स‍िरके का इस्‍तेमाल पीठ या त्‍वचा के एक्‍ने ठीक करने में सहायक माना जाता है। सेब का स‍िरका, एंटी एक्‍ने की तरह काम करता है। सेब के स‍िरके में मौजूद एस‍िड से मुंहासे के ल‍िए ज‍िम्‍मेदार बैक्‍टीर‍िया को खत्‍म करने में मदद म‍िलती है। त्‍वचा के पीएच लेवल को बरकरार रखने के ल‍िए सेब का स‍िरका फायदेमंद माना जाता है। पीठ के मुंहासे के कारण पड़ने वाले न‍िशान को कम करने के ल‍िए भी सेब का सिरका फायदेमंद माना जाता है। 

back acne treatment

पीठ के एक्‍ने का इलाज 

सेब के स‍िरके को सीधे त्‍वचा पर नहीं लगाया जाता। इसे पानी में म‍िलाकर पतला कर लें। उसके बाद त्‍वचा पर लगाएं। स‍िरका और पानी का अनुपात 1:3 रख सकते हैं। सेब के स‍िरके में एस‍ि‍ड की मात्रा ज्‍यादा होती है इसल‍िए ये त्‍वचा के ल‍िए नुकसानदायक हो सकता है। पीठ के एक्‍ने का इलाज करने के ल‍िए सेब के स‍िरके को थोड़े पानी में म‍िलाकर एक्‍ने पर लगाएं। रातभर सूखने दें। फ‍िर ठंडे पानी से त्‍वचा को धो लें। 

इसे भी पढ़ें- मुंहासों को सिर्फ घंटेभर में दूर करता है कच्चा दूध, जानें कैसे?   

सेब के स‍िरके का सेवन 

पीठ के एक्‍ने का इलाज करने के ल‍िए सेब के स‍िरके का सेवन कर सकते हैं। एक ग‍िलास गुनगुने पानी में दो चम्‍मच सेब का स‍िरका म‍िलाएं। सुबह के समय सेब के स‍िरके का सेवन कर सकते हैं। सेब के स‍िरके वाले पानी की मात्रा 5 से 10 एमएल से ज्‍यादा न रखें। इससे पीठक के मुंहासे धीरे-धीरे कम हो जाएंगे। 

एलोवेरा और सेब का स‍िरका 

एलोवेरा में एंटीबैक्‍टीर‍ियल गुण होते हैं। पीठ के एक्‍ने का इलाज करने के ल‍िए 2 चम्‍मच एप्‍पल साइडर व‍िनेगर में 2 चम्‍मच एलोवेरा म‍िलाएं। इस म‍िश्रण को एक्‍ने पर लगाएं। 15 से 20 म‍िनट बाद त्‍वचा को पानी से धोकर क्रीम लगा लें। एलोवेरा के साथ-साथ करक्‍यूम‍िन का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। इसमें मौजूद एंटीमाइक्रोब‍ियल गुण से एक्‍ने का इलाज संभव हो पाता है। 

सेंधा नमक और सेब का स‍िरका 

सेंधा नमक की मदद से एक्‍ने कम करने में मदद म‍िलती है। सेंधा नमक और सेब के स‍िरके का म‍िश्रण इस्‍तेमाल करने से एक्‍ने का इलाज क‍िया जा सकता है। बॉथ टब में पानी के साथ सेंधा नमक और सेब का स‍िरका म‍िलाएं। प्रभाव‍ित ह‍िस्‍से को पानी में भि‍गोएं। प्रभाव‍ित ह‍िस्‍से को पोंछकर क्रीम लगा लें। 

एप्‍पल साइडर व‍िनेगर और दही 

  • दही और एप्‍पल साइडर व‍िनेगर की मदद से भी पीठ के एक्‍ने का इलाज क‍िया जाता है।
  • दही में सेब का स‍िरका म‍िलाएं। इस म‍िश्रण को एक्‍ने वाले ह‍िस्‍से में लगाएं।
  • 30 म‍िनट बाद त्‍वचा को धो लें।
  • दही में प्रोबायोट‍िक्‍स मौजूद होता है ज‍िससे एक्‍ने का इलाज करने में मदद म‍िलती है।

ऊपर बताए गए उपायों की मदद से पीठ के एक्‍ने का इलाज क‍िया जा सकता है। लेख पसंद आया हो, तो शेयर करना न भूलें।  

Disclaimer