आयुष मंत्रालय ने बताए हल्के लक्षणों वाले मरीजों को घर पर ठीक करने के उपाय, जानें कोरोना होने पर क्या करें

र‍िपोर्ट कोरोना पॉज‍िट‍िव है तो च‍िंता न करें, आयुष मंत्रालय की जारी की गई लेटेस्‍ट गाइडलाइंस का पालन करें, ये सुझाव आपकी इम्‍यून‍िटी मजबूत करेंगे

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 06, 2021Updated at: May 06, 2021
आयुष मंत्रालय ने बताए हल्के लक्षणों वाले मरीजों को घर पर ठीक करने के उपाय, जानें कोरोना होने पर क्या करें

अगर आप कोरोना पॉजिट‍िव हैं तो क्‍या करना चाह‍िए? अगर आपकी र‍िपोर्ट कोरोना पॉज‍िट‍िव है तो आपको आइसोलेट होना पड़ सकता है। गंभीर लक्षणों में मरीज को अस्‍पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ती है पर अगर आपको माइल्‍ड लक्षण हैं तो आप घर में आइसोलेट रहकर और अपनी इम्‍यून‍िटी पर ध्‍यान देकर कोरोना से जंग जीत सकते हैं। आपकी मदद करने के ल‍िए आयुष मंत्रालय ने कुछ आसान आयुर्वेद‍िक उपाय साझा क‍िए हैं ज‍िन्‍हें आप आसानी से घर में इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इन आयुर्वेद‍िक उपायों से न‍ स‍िर्फ आपकी इम्‍यून‍िटी बूस्‍ट होगी बल्‍क‍ि जल्‍द ही आपकी र‍िपोर्ट नेगेट‍िव आ जाएगी। कोरोना संक्रम‍ित होने का कारण होता है कमजोर इम्‍यून‍िटी। आयुष मंत्रालय की गाइडलाइंस बेहद आसान हैं, इसे कोई भी अपना सकता है। इन उपायों से सूखी खांसी, गले में खराश, कमजोरी आद‍ि श‍िकायत भी दूर होगी। ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की। 

how to boost immunity

कोरोना पॉज‍िट‍िव हैं तो अपनाएं ये आयुर्वेद‍िक उपाय (Ayurvedic methods for corona positive patient)

  • 1. आंवला: अगर इस मौसम में आपको आंवला म‍िलता है तो आंवले का सेवन करें। 
  • 2. अश्‍वगंधा: आप रोजाना अश्‍वगंधा की टैबलेट भी खा सकते हैं। खाना खाने के बाद द‍िन में दो बार 500 ग्राम की गोली खाएं। इसे गुनगुने पानी के साथ खाएं। 
  • 3. काढ़ा: इम्‍यून‍िटी बूस्‍ट करने के ल‍िए काढ़ा जरूर प‍िएं। इसको बनाने के ल‍िए आपको तुलसी, दालचीनी और काली म‍िर्च को 150 म‍िली पानी में उबालना है और इस काढ़े को द‍िन में एक सा दो बार पीना है। आप इसमें इलाइची, क‍िशम‍िश या गुढ़ भी डाल सकते हैं। 
  • 4. च्‍यवनप्राश: पुराने जमाने में लोग च्‍यवनप्राश का सेवन करते थे, इम्‍यून‍िटी बढ़ाने के ल‍िए ये फायदेमंद होता है। च्‍यवनप्राश को खाली पेट आपको गरम पानी के साथ लेना चाह‍िए। 
  • 5. हल्‍दी का दूध: इम्‍यून‍िटी बढ़ाने के ल‍िए बेस्‍ट स्‍पाइस है हल्‍दी। हल्‍दी को आप 150 म‍िली गरम दूध में म‍िलाकर प‍िएं। द‍िन में एक से दो बार आप इस दूध को पी सकते हैं। 
  • 6. तेल या घी: इम्‍यून‍िटी बढ़ाने के ल‍िए आप तेल का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। इसके ल‍िए आप त‍िल के तेल या कोकोनट ऑयल या गाय के घी को नोस्‍ट्र‍िल में सुबह और शाम लगाएं, आपको फायेदा होगा। 

इसे भी पढ़ें- कोरोना के हल्के और बिना लक्षण वाले मरीजों को आयुर्वेद से किया जाएगा ठीक, आयुष मंत्रालय ने जारी की गाइडलाइन्स

मुंह को कैसे रखें बैक्‍टीर‍िया फ्री? (Bacteria free mouth remedies) 

corona virus remedies 

ऑयल पुल‍िंग मेथड कोरोना काल में जरूर ट्राय करें। इसको करने से आपके मुंह से अंदर जाने वाले वायरस या बैक्‍टीर‍िया वहीं खत्‍म हो जाएंगे और शरीर के अंदर नहीं जा सकेंगे। ऑयल पुल‍िंग एक तरीका है ज‍िससे मुंह, जीभ, दांत को हेल्‍दी रखा जा सकता है। इसमें तेल को मुंह में लेकर चलाना होता है और थोड़ी देर में इसे थूक देते हैं। इसी तरीके को ऑयल पुल‍िंग कहते हैं। इसके करने के ल‍िए आप एक चम्‍मच त‍िल का तेल या कोकोनट ऑयल लें और उसे मुंह में दो से तीन म‍िनट तक रखकर घुमाएं। इस तेल को प‍िएं नहीं बल्‍क‍ि थूक कर गुनगुने पानी से कुल्‍ला कर लें। आपको इसे सुबह-सुबह उठकर करना है। 

इसे भी पढ़ें- आयुष मंत्रालय ने बताया 'गिलोय का काढ़ा' बनाने का सही तरीका, जानिए किन चीजों के मिश्रण से बनता है काढ़ा

सूखी खांसी और गले में खराश होने पर क्‍या करें? (Dry cough and sour throat remedies)

इस समय ज्‍यादातर लोगों को गले में खराश और सूखी खांसी की श‍िकायत है। कोरोना वायरस भी इसी तरह अटैक करता है ज‍िससे आपके गले में खराश हो जाती है। इससे बचने के ल‍िए आयुष मंत्रालय ने सुझाव द‍िए हैं क‍ि आप सादे पानी से स्‍टीम लें। सादे पानी के अलावा आप पानी में पुदीना पत्‍ती, अजवाइन या कपूर भी डाल सकते हैं। इसके अलावा आप द‍िन में दो से तीन बार लॉन्‍ग, मुलेठी पाउडर को शहद में म‍िक्‍स करें और खाएं। अगर इन सब उपायों से सूखी खांसी ठीक नहीं होती है तो देर न करें, तुरंत डॉक्‍टर को द‍िखाएं। 

इन आसान उपायों के अलावा आयुष मंत्राल‍य के अनुसार द‍िन भर गरम पानी प‍िएं, द‍िन में सोना अवॉइड करें, रोज 8 घंटे जरूर सोएं। हर द‍िन 30 म‍िनट योगा करें, हल्‍दी और नमक को पानी में डालकर गॉर्गल जरूर करें। 

Read more on Ayurveda in Hindi

Disclaimer