Doctor Verified

गुलाब के फूल से करें घाव का इलाज, आयुर्वेद एक्सपर्ट से जानें इस्तेमाल का तरीका

अगर आपको क‍िसी कारण त्‍वचा पर घाव हो गया है तो आप उसे आयुर्वेद‍िक इलाज में गुलाब के फूल की मदद से दूर कर सकते हैं, जानें इलाज का तरीका  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 31, 2022Updated at: May 31, 2022
गुलाब के फूल से करें घाव का इलाज, आयुर्वेद एक्सपर्ट से जानें इस्तेमाल का तरीका

गुलाब की मदद से आप घाव का आयुर्वेद‍िक इलाज कर सकते हैं। घाव का इलाज करने के ल‍िए आप गुलाब के पानी का इस्‍तेमाल कर सकते हैं या गुलाब की पंखुड़‍ियों के पाउडर या पेस्‍ट का भी यूज आप कर सकते हैं। हालांक‍ि इस बात का ख्‍याल रखें क‍ि अगर आप स्‍क‍िन ड‍िसीज के श‍िकार हैं तो डॉक्‍टर की सला‍ह पर गुलाब के इस्‍तेमाल से घाव का इलाज करें। इस लेख में हम गुलाब के फूल की मदद से घाव का आयुर्वेद‍िक इलाज कर सकते हैं। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की। 

rose wound treatment

गुलाब के पानी से घाव को साफ करें (Treat wound with rose)

गुलाब की पंखुड़‍ियों की मदद से आप घाव का इलाज कर सकते हैं। घाव का इलाज करने के ल‍िए आप गुलाब की पंखुड़‍ियों को तोड़कर पानी में डालें और उस पानी को अलग करके रख दें फ‍िर उस पानी से घाव को साफ कर सकते हैं। गुलाब में एंटी-बैक्‍टीर‍ियल गुण होते हैं ज‍िससे आप घाव को साफ कर सकते हैं। घाव को साफ करने के ल‍िए आप कॉटन में गुलाब के पानी को डालें और उससे घाव को क्‍लीन करें। 

इसे भी पढ़ें- रोज तुलसी के पत्ते के साथ खाएं काली मिर्च, इन 5 समस्याओं में मिलेगा फायदा

खून का बहना रोकें 

घाव को साफ करने के बाद आपको खून का बहना भी रोकना है ज‍िसके ल‍िए आप गुलाब का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। गुलाब के फूल को पीसकर आप उसे घाव पर लगाएं इससे घाव से खून बहना बंद हो जाता है और घाव जल्‍दी सूखने लगता है। गुलाब के फल का पाउडर आप घाव पर लगाएंगे तो घाव के आसपास के सूजन की समस्‍या भी दूर होगी।     

कीड़े के काट लेने पर इस्‍तेमाल करें गुलाब 

अगर आपको क‍िसी कीड़े ने काट ल‍िया है तो उसके कारण हुए घाव को ठीक करने के ल‍िए भी आप गुलाब का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। गुलाब की पंखुड़‍ियों से पेस्‍ट तैयार करें और उसे घाव पर लगाएं तो दर्द और सूजन की समस्‍या से न‍िजात म‍िलेगा। वहीं गुलाब का सेवन करने से भी आराम म‍िलता है। अगर आप गुलाब के चूर्ण का सेवन करना चाहते हैं तो डॉक्‍टर की सलाह लें क्‍योंक‍ि अगर आप दवा का सेवन कर रहे हैं तो आपको चूर्ण से समस्‍या हो सकती है। एक व्‍यक्‍त‍ि द‍िन भर में 3 से 6 ग्राम चूर्ण का सेवन कर सकते हैं।

जख्‍म पर लगाएं गुलाब, म‍िलेगा आराम  

  • कई बार जख्‍म या कीड़े के काट लेने से बुखार आ जाता है पर बुखार उतारने के ल‍िए भी गुलाब का सेवन फायदेमंद है। बुखार को उतारने के ल‍िए आप गुलकंद का सेवन कर सकते हैं। 
  • गुलाब के फूलों को सुखाकर बना पाउडर आप चेचक के घाव पर लगाएं तो घाव जल्‍दी ठीक होता है।
  • गुलाब के फूल को पीसकर आप पेस्‍ट या पाउडर बनाकर आप योन‍ि के आसपास हुए घाव पर भी लगा सकते हैं, योन‍ि के आसपास गर्मि‍यों में अक्‍सर पस वाले दाने हो जाते हैं उसे आप गुलाब के पानी से साफ करें, इससे इंफेक्‍शन की समस्‍या दूर होगी।

इसे भी पढ़ें- सफेद मूसली में होते हैं कमाल के औषधीय गुण, गर्मी में भी कर सकते हैं इस तरह सेवन

बाजार के गुलाब जल का इस्‍तेमाल न करें 

गुलाब के फूल स्‍वभाव से शीतल होते हैं। अगर आपको घाव के कारण जलन हो रही है तो आप गुलाब के पानी से उसे ठीक कर सकते हैं। ध्‍यान रखें क‍ि गुलाब के पानी और मार्केट में म‍िल रहे गुलाब जल में काफी फर्क है। बाजार में म‍िलने वाले गुलाब जल में कैम‍िकल्‍स होते हैं ज‍िसके कारण आप उसे घाव पर इस्‍तेमाल नहीं सकते पर घर पर तैयार क‍िए गए गुलाब के पानी में क‍िसी तरह के कैम‍िकल्‍स मौजूद नहीं होते हैं आप उसे एक हफ्ते तक फ्र‍िज में रखकर भी स्‍टोर कर सकते हैं और चोट या घाव लगने पर गुलाब के पानी का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।            

घाव का इलाज करने के ल‍िए आप गुलाब का इस्‍तेमाल कर सकते हैं पर अगर क‍िसी स्‍क‍िन ड‍िसीज के श‍िकार हैं तो डॉक्‍टर की सलाह पर ही इस इलाज को अपनाएं। 

Disclaimer