Doctor Verified

घर में नहीं आती धूप, तो इन 5 आयुर्वेदिक तरीकों से पूरी करें विटामिन डी की जरूरत

Ayurvedic Remedies: घर में धूप की कमी से हड्ड‍ियों में दर्द और कमजोरी महसूस होती है? जानें शरीर में व‍िटाम‍िन डी की कमी दूर करने के आयुर्वेद‍िक उपाय। 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Jan 19, 2023 12:41 IST
घर में नहीं आती धूप, तो इन 5 आयुर्वेदिक तरीकों से पूरी करें विटामिन डी की जरूरत

Vitamin D Deficiency: कई लोगों के घरों में धूप नहीं आती और इसी कारण से वो धूप में बैठने के फायदे नहीं उठा पाते। शरीर को धूप न म‍िलने से व‍िटाम‍िन डी कमी हो सकती है। व‍िटाम‍िन डी की जरूरत कई बीमार‍ियों को न‍ियंत्रि‍त करने के ल‍िए होती है। हाई बीपी, हार्ट ड‍िसीज, कैंसर, डायब‍िटीज आदि‍ समस्‍याओं को दूर करने के ल‍िए व‍िटाम‍िन डी अहम भूम‍िका न‍िभाता है। जोड़ों और मसल्‍स के दर्द से छुटकारा पाने के ल‍िए व‍िटाम‍िन डी एक जरूरी पोषक तत्‍व है। इसकी कमी से हड्ड‍ियां कमजोर हो जाती हैं। थकान महसूस होती है, साथ ही बाल तेजी से झड़ने लगते हैं। व‍िटाम‍िन डी का मुख्‍य स्राेत धूप और डाइट है। अगर व‍िटाम‍िन डी की कमी पूरी करने के ल‍िए धूप नहीं ले पा रहे हैं, तो डाइट में कई सेहतमंद चीजों को शाम‍िल कर सकते हैं ज‍िनके बारे में हम आगे जानेंगे। व‍िटाम‍िन डी की कमी दूर करने के ल‍िए आयुर्वेद‍िक तरीका (Ayurvedic Home Remedies for Vitamin D Deficiency) ढूंढ रहे हैं, तो परेशान न हों। इस लेख से जानेंगे ऐसे 5 उपाय। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की।

ghee benefits

1. व‍िटाम‍िन डी के ल‍िए खाएं घी- Ghee 

सर्दि‍यों में घी का सेवन करने से भी व‍िटाम‍िन डी की कमी दूर होती है। घी में व‍िटाम‍िन डी पाया जाता है। घी में गुड फैट मौजूद होता है। घी को गरम रोटी के ऊपर लगाकर खा सकते हैं। सब्‍जी या दाल में घी म‍िलाकर खा सकते हैं। कुछ लोग नट्स और मेवे और कई चीजों को भूनने में घी का इस्‍तेमाल करते हैं। 

2. सूरजमुखी के बीज का सेवन करें- Sunflower Seed  

व‍िटाम‍िन डी की कमी दूर करने के ल‍िए सूरजमुखी के बीज का सेवन कर सकते हैं। सूरजमुखी के बीजों में व‍िटाम‍िन डी के साथ ओमेगा 3 फैटी एस‍िड भी पाया जाता है। सूरजमुखी के बीज को कई तरह से खा सकते हैं। इसे मक्‍खन में भूनकर खा सकते हैं। कई लोग इन बीजों को छीलकर और भूनकर खाते हैं। इन बीजों का पेस्‍ट बनाकर भी सब्‍जी में म‍िलाकर खा सकते हैं। सूरजमुखी के बीजों को सलाद में डालकर भी खा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- ठंड के मौसम में जुकाम होने पर आराम दिलाएगा जीरे का चूर्ण, जानें प्रयोग का तरीका   

3. सहजन का सेवन करें- Moringa 

कैल्‍श‍ियम की कमी दूर करने के ल‍िए सहजन या मोर‍िंगा का सेवन फायदेमंंद माना जाता है। घर में धूप नहीं आती और हड्ड‍ियों के कमजोर होने से परेशान हैं, तो सुबह उठकर सहजन के पानी का सेवन करें। सहजन में व‍िटाम‍िन सी, बी, डी और कई प्रकार के एंटीऑक्‍सीडेंट्स पाए जाते हैं। सहजन में कैल्शियम, मैग्नीशियम और फास्फोरस मौजूद होता है। आंखों की रौशनी बढ़ाने के ल‍िए भी इसका सेवन कर सकते हैं।    

4. मेथी दानों का पानी प‍िएं- Fenugreek Seed Water

methi dana benefits

मेथी में फाइबर, आयरन, विटामिन ए और विटामिन डी की भरपूर मात्रा होती है। हड्ड‍ियों को मजबूत बनाने के ल‍िए सुबह मेथी दाने के पानी का सेवन भी कर सकते हैं। मेथी दाने का पानी बनाने के ल‍िए पहले बीजों को साफ कर लें। इन्‍हें पानी में डालकर उबालें।  फ‍िर पानी को छानकर प‍ी लें। द‍िन में एक बार मेथी दाने का पानी पी सकते हैं।

5. काजू का दूध प‍िएं- Cashew Milk 

काजू का पेस्‍ट बनाकर जो दूध तैयार होता है उसे काजू का दूध कहते हैं। इसमें गाय का दूध नहीं डाला जाता। व‍िटाम‍िन डी की कमी दूर करने के ल‍िए काजू के दूध का सेवन करना फायदेमंद होता है। काजू के दूध में कैल्शियम, मैग्नीशियम, विटामिन डी मौजूद होता है। हड्डियों को स्वस्थ रखने के लिए हफ्ते में 3 बार काजू के दूध का सेवन कर सकते हैं। आपको बता दें क‍ि व‍िटाम‍िन डी, कैल्‍श‍ियम और फास्‍फोरस को एब्‍सॉर्ब करने का काम करता है। इससे हड्ड‍ियां और मसूड़े मजबूत बनते हैं।   

हड्ड‍ियों को मजबूत करने का आयुर्वेद‍िक उपाय ढूंढ रहे हैं, तो काजू का दूध, मेथी दाने का पानी, सहजन, घी और सूरजमुखी के बीज का इस्‍तेमाल फायदेमंद होगा।       

Disclaimer