यूरीन इंफेक्शन से बचाव के लिए अपनाएं यह 9 घरेलू उपाय, एक्स्पर्ट से जानिए कैसे है यह आपके लिए फायदेमंद

अगर आप भी खुद को यूरीन इंफेक्शन के खतरे से दूर रख सकते हैं तो एक्सपर्ट के बताए गए इन 10 घरेलू तरीकों को अपनाएं, जानें कैसे है ये फायदेमंद।

Vishal Singh
घरेलू नुस्‍खWritten by: Vishal SinghPublished at: Jan 20, 2021
यूरीन इंफेक्शन से बचाव के लिए अपनाएं यह 9 घरेलू उपाय, एक्स्पर्ट से जानिए कैसे है यह आपके लिए फायदेमंद

यूरीन इंफेक्शन लोगों के बीच एक आम समस्या के रूप में है, ये कई कारणों से आपको अपना शिकार बना सकता है। यूरीन इंफेक्शन या मूत्र संक्रमण किसी को भी हो सकता है चाहे वो बच्चा हो या फिर कोई बड़ा व्यक्ति। ऐसे ही महिलाओं में भी यूरीन इंफेक्शन बहुत ही तेजी से बढ़ता जा रहा है। यूरीन इंफेक्शन यूरिनरी कॉर्ड में होने वाला संक्रमण के कारण होता है, जिसे यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन (UTI) भी कहा जाता है। हालांकि एक्सपर्ट के मुताबिक, जिन लोगों को यूरीन इंफेक्शन की समस्या होती है उन लोगों का सबसे बड़ा कारण ये होता है कि वो स्वच्छता का ख्याल नहीं रखते हैं। जिसके कारण यूरिनरी कॉर्ड में संक्रमण बढ़ता है। इसके लिए जरूरी होता है कि आप समय पर इलाज कराएं और संबंधित जांच जरूर कराएं। लेकिन कई लोगों का सवाल होता है कि क्या हम यूरीन इंफेक्शन से बचाव के लिए क्या घरेलू उपाय हो सकते हैं। तो इसके लिए हमने बात की डॉ. अनार सिंह आयुर्वेदिक कॉलेज एवं अस्पताल के प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष , शल्य तंत्र की डॉक्टर राखी मेहरा से। जिन्होंने बताया कि यूरीन इंफेक्शन से बचाव के लिए किस तरह के घरेलू उपाय फायदेमंद है और असरदार है। लेकिन इससे पहले एक्सपर्ट बताती हैं कि लोगों ये जानना जरूरी है कि यूरीन इंफेक्शन को नजरअंदाज करने से किस तरह की अन्य समस्याएं देखने को मिल सकती है। 

urine infections

यूरीन इंफेक्शन के लिए घरेलू उपाय (Home Remedy for Urine infection In Hindi)

पानी ज्यादा पिएं

पानी आपके शरीर में जमा संक्रमण और बैक्टीरिया को आसानी से दूर करने और आपके शरीर की गंदगी को बाहर करने में बहुत असरदार होता है। आप जितना पानी पिएंगे उतना ही आपके शरीर से गंदगी बाहर निकलेगी। डॉक्टर राखी मेहरा का कहना है कि जिन लोगों को पेशाब करते समय बदबू, जलन या दर्द होता है उन लोगों को हमेशा ज्यादा मात्रा में पानी पीना चाहिए। आप सभी को रोजाना 10 से 12 ग्लास पानी पीना जरूरी है। इसकी मदद से न सिर्फ आप यूरीन इंफेक्शन की समस्या को दूर कर सकते हैं बल्कि आप कई स्वास्थ्य समस्याओं को खुद से दूर रख सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: डिहाइड्रेशन ही नहीं, बल्कि इन 7 कारणों से भी सूख सकता है आपका मुंह, जानिए इसके लक्षण और बचाव के तरीके

सूती कपड़े पहनें

अक्सर लोग किसी भी तरह के अंडरगार्मेंट्स पहन लेते हैं, जबकि आपको हमेशा यूरीन इंफेक्शन जैसे संक्रमण से बचाव के लिए सूती कपड़े का विकल्प चुनना चाहिए। इससे आपके शरीर तक जाने में बैक्टीरिया या वायरस को काफी हद तक रोका जा सकता है। वहीं, जो लोग थोड़े मोटे या अलग तरह के कपडे से बने अंडरगार्मेंट्स को पहनते हैं उन लोगों को हमेशा से ही बैक्टीरिया का खतरा रहता है जिस कारण यूरीन इंफेक्शन हो सकता है। यही वजह है कि लोगों को यूटीआई यानी यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन का शिकार होना पड़ता है। 

हीट को लागू करें

डॉक्टर राखी मेहरा का कहना है कि जिन लोगों को यूरीन इंफेक्शन या यूटीआई होता है उन लोगों को खुद ही हीटिंग पैड या गर्म पानी का सेंक लेना जरूरी होता है। जी हां, हीट की मदद से आप किसी भी तरह के संक्रमण को आसानी से मार सकते हैं और हो रहे दर्द, सूजन और जलन को शांत कर सकते हैं। एक्सपर्ट महिलाओं को सलाह देती है कि जिन महिलाओं की मूत्र में संक्रमण होता है या फिर जलन, दर्द और सूजन महसूस होती है तो उन्हें अपनी वजाइना में गर्म सेंक या हीटिंग पैड की मदद से गर्माहट देने की जरूरत है। एक्सपर्ट का कहना है कि ज्यादातर सभी डॉक्टर और एक्सपर्ट इस दौरान गर्म सेंक की सलाह देते हैं। 

urine infections

क्रैनबेरी जूस पिएं

क्रैनबेरी जूस आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है, ये न सिर्फ आपके स्वास्थ्य को स्वस्थ रखता है बल्कि ये आपके शरीर से गंदगी को बाहर करने का भी काम करता है। इतना ही नहीं एक्सपर्ट यूरीन इंफेक्शन के दौरान भी क्रैनबेरी जूस पीने की सलाह देते हैं जिससे की संक्रमण जो आपके मूत्र पथ की दीवारों से चिपके हुए होते हैं उन्हें आसानी से दूर किया जा सके। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन के एक अध्ययन में कहा गया है कि क्रैनबेरी जूस यूटीआई के खतरे को काफी हद तक कम कर देता है। आप इसे रोजाना अपनी डाइट में भी शामिल कर सकते हैं ये आपके पूर्ण स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है।

डाइट में लहसुन का सेवन बढ़ाएं

लहसुन का सेवन आपके स्वास्थ्य के लिए कितना फायदेमंद है ये तो आप सभी जानते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं ये आपके यूरीन इंफेक्शन की समस्या को भी दूर कर सकता है। एक्सपर्ट बताती हैं कि लहसुन का सेवन आपको नियमित रूप से करना चाहिए इससे आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत बनाने का काम करती है। लहसुन अपने एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुणों से भरपूर होता है जिसकी मदद से वो कई तरह के संक्रमण को आसानी से मार देता है। डॉक्टर और एक्सपर्ट का कहना है कि अगर आपको यूरीन इंफेक्शन नहीं भी है तो भी आप लहसुन का सेवन अपनी डाइट में जरूर करें इससे आप कई दूसरी बीमारियों के खतरे को आसानी से दूर रख सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: जुकाम से सीने में जमा हो गया बलगम और लग रहा है भारीपन, तो Luke Coutinho के बताए ये 4 घरेलू नुस्खे देंगे राहत

चीनी की मात्रा कम करें

चीनी या शुगर की मात्रा शरीर में ज्यादा होने के कारण आपको कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए आपको हमेशा चीनी की मात्रा को एक सीमित मात्रा के साथ ही रखना चाहिए जिससे की आप खुद को लंबे समय तक स्वस्थ रखें और डायबिटीज जैसे गंभीर रोगों से खुद को दूर रख सकते हैं। एक्सपर्ट राखी मेहरा बताती हैं कि किसी भी बैक्टीरिया को चीनी या मीठा बहुत पसंद होता है और वो वहां काफी लंबे समय तक आसानी से रुक सकते हैं। इसलिए यूरीन इंफेक्शन का एक कारण ये भी है कि शरीर में चीनी की मात्रा ज्यादा होना। 

ऐसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल करें

ऐसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल आपके यूरीन इंफेक्शन को आसानी से दूर कर सकता है और इसके लक्षण जैसे जलन, दर्द और सूजन को भी कम करता है। आप अजवायन का तेल का इस्तेमाल अपने यूरीन इंफेक्शन के लिए आसानी से कर सकते हैं, ये आपके मूत्र संक्रमण के लिए बहुत असरदार होता है। इसी की तरह आप लौंग का तेल भी अपना सकते हैं जो आपके लक्षणों को कम करने के साथ आपको इन संक्रमण से दूर रखते हैं। 

स्पर्मीसाइड के इस्तेमाल से बचें

स्पर्मीसाइड वो चीज है जिसे कई लोग संबंध बनाने से पहले महिलाओं के लिए इस्तेमाल करते हैं, इसे जन्म नियंत्रण के नाम से भी जाना जाता है। जबकि आपको इसके इस्तेमाल से हमेशा बचना चाहिए, क्योंकि ये आपको कई तरह के बैक्टीरिया और संक्रमण का शिकार बना सकात है। एक्सपर्ट और डॉक्टर राखी मेहरा की सलाह है कि हमेशा यूटीआई जैसी स्थिति के दौरान इस तरह की चीजों से बचना चाहिए जिससे आपको संक्रमण का खतरा कम से कम हो। इसके अलावा अगर आप संबंध बनाते हैं तो जरूरी है कि आप उसके बाद पेशाब जरूर करें, इससे आप यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन से खुद को दूर रख सकते हैं। 

स्वच्छता का ख्याल रखें

अक्सर किसी भी संक्रमण या बैक्टीरिया का शिकार हम तब होते हैं जब हम स्वच्छता से दूर रहते हैं, ऐसे ही यूरीन इंफेक्शन का खतरा भी तब बढ़ता है जब आप सही तरीके से पेशाब की जगह को साफ नहीं रखते हैं। इसके लिए जरूरी है कि आप रोजाना नहाते समय उस हिस्से को भी अच्छी तरह साबुन और पानी के साथ साफ करें। इस आदत के साथ आप हमेशा यूटीआई जैसे गंभीर रोग के खतरे से दूर रह सकते हैं। 

 

Read More Articles On Home Remedies In Hindi 

Disclaimer