स्ट्रेच मार्क्स प्रेग्नेंसी का हो या मोटापे का, इससे छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल करें ये 5 घरेलू नुस्खे

स्ट्रेच मार्क्स किसी भी कारण से क्यों न हो, इसे कम करना सच में मुश्किल काम है। ऐसे में आप इन देसी उपचारों की मदद ले सकते हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: May 15, 2020
स्ट्रेच मार्क्स प्रेग्नेंसी का हो या मोटापे का, इससे छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल करें ये 5 घरेलू नुस्खे

स्ट्रेच मार्क्स शरीर पर किसी भी कारण से क्यों न हो, ये देखने में बहुत ही खराब लगता है। वहीं खिंचाव के निशान कुछ ऐसे होते हैं, जो हम सभी के शरीर पर कहीं न कहीं जरूर होते है। आमतौर पर हाथ, जांघ, नितंब और पेट पर खिंचाव के निशान दिखाई देते हैं। वहीं इन स्ट्रेच माक्स से छुटकारा पाना भी बहुत मुश्किल काम है। स्ट्रेच मार्क्स के सामान्य कारणों में गर्भावस्था, युवावस्था, तेजी से वजन बढ़ना, अचानक वजन कम होना, अतिरिक्त स्टेरायडल क्रीम का उपयोग, हार्मोनल असंतुलन और वंशानुगत आदि शामिल हैं। हालांकि स्ट्रेच मार्क्स को पूरी तरह से मिटाया नहीं जा सकता है, पर आप कुछ घरेलू उपचारों और कॉस्मेटिक उपचारों के उपयोग से इन्हें हल्का कर सकते हैं।

insidetipsforstrechmarks

वहीं कई अध्ययनों की मानें, तो रेटिनोइड (Retinoid) स्ट्रेच मार्क्स के निशान की उपस्थिति को कम करने में मदद कर सकता है। विटामिन-ए भी एक रेटिनोइड ही है। इसका मतलब है कि विटामिन-ए से भरपूर खाद्य पदार्थ आपके स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करने में मदद कर सकते हैं। वहीं सिर्फ विटामिन-ए की बात करें, तो इसमें फ़ाइब्रोब्लास्ट (fibroblasts) को उत्तेजित करने की क्षमता होती है। ये उन कोशिकाएं के विकास में मददगार होती हैं, जो टिशू के विकास के लिए जिम्मेदार होते हैं। यही टिशूज त्वचा की चाइटिंग और स्वस्थ रखने में भी हमारी मदद करते हैं। तो, स्वस्थ और चमकती त्वचा पाने के लिए अपने आहार में विटामिन- ए से भरपूर खाद्य पदार्थों को शामिल करना सुनिश्चित करें। इसके अलावा आप इन 5 प्रभावी प्राकृतिक तत्वों की मदद से स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा पा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : ब्रेस्ट के स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के 3 नैचुरल तरीके, जानें क्यों होते हैं स्ट्रेच मार्क्स?

खीरा और नींबू से बना स्किन पेस्ट

नींबू में हीलिंग गुण होते हैं और यह निशान को कम करने में भी मदद कर सकता है। वहीं खीरे का रस आपकी त्वचा को निखार देगा। इसलिए समान मात्रा में नींबू का रस और खीरे का रस लें और इसे अच्छे से मिक्स करें। अब अपने प्रभावित क्षेत्रों पर मिश्रण को लागू करें। फिर इसे तब तक छोड़ दें जब तक यह त्वचा से भिगो न जाए। बाद में इसे गर्म पानी का उपयोग करके धो लें। इसके बाद तील का तेल लगाकर उस जगह की मालिश कर दें।

एलोवेरा का इस्तेमाल करें

एलोवेरा हमेशा से ही अपने हीलिंग गुणों के लिए जाना जाता है। यह आपकी त्वचा को मुलायम भी कर सकता है। इसके लिए शरीर के खिंचाव के निशान पर ताजा एलोवेरा जेल लागू करें और 20-30 मिनट के लिए छोड़ दें। गर्म पानी के साथ फिर इसे धो लें। इसे रोजाना करें और आप निशान धीरे-धीरे कम होते देखेंगे।

insidesugarscrub

कोको बटर

मक्खन त्वचा के मुद्दों के लिए एक लोकप्रिय घरेलू उपाय है। यह आपके स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करने में भी मदद कर सकता है। इसे प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं और रात भर छोड़ दें। वहीं आप चाहें, तो स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए देसी घी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस बस हर रात सोने से पहले अपने मार्क्स पर लगा लें और फिर इससे शरीर की मालिश कर लें। धीरे-धीरे आपको इससे शरीर पर असर नजर आएगा।

आपको गर्भावस्‍था के बारे में कितनी जानकारी है? तो खेलें ये आसान क्विज :

Loading...

इसे भी पढ़ें : प्रेगनेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स और त्वचा के धब्बों को मिटायेंगे ये आसान उपाय

शुगर स्क्रब

शुगर स्क्रब से अपनी त्वचा को एक्सफोलिएट करने से भी आपके स्ट्रेच मार्क्स को हल्का करने में मदद मिलती है। इसके लिए आप एक कप चीनी लें, 1/4 कप बादाम का तेल या नारियल का तेल और कुछ नींबू का रस मिलाएं। शॉवर लेने से पहले 8-10 मिनट के लिए स्ट्रेच मार्क्स पर धीरे से रगड़ें। इसे नियमित रूप से करें और आप जल्द ही परिणाम देखना शुरू कर देंगे। वहीं आप इससे अपने शरीर को नॉर्मल स्क्रब भी दे सकते हैं, ये आपके शरीर के डेड सेल्स को साफ करके त्वचा की टाइटिंग में आपकी मदद करेगा।

नारियल तेल या नारियल का पानी

शोध ये साबित करते हैं कि नारियल का तेल त्वचा के घाव को तेजी से ठीक कर सकता है। इतना ही नहीं नारियल का पानी भी अगर स्ट्रेच मार्क्स पर लगाया जाए तो ये हल्का हो सकता है। इसे लगाने के लिए नारियल तेल को अपने शरीर के उस हिस्से पर रगड़ें जहां खिंचाव के निशान हैं। रोजाना ऐसा करने से लाल रंग की उपस्थिति कम करने में मदद मिलेगी और आपको अहसास होगा कि ये त्वचा की टाइटनिंग में भी बहुत मददगार है।

Read more articles on Home-Remedies in Hindi

Disclaimer