पाचन तंत्र मजबूत करने के साथ सूजन कम करता है हरड़, जानें इसके अन्य फायदे

ये फल विटामिन सी और खनिज से भरपूर होता है, जिससे कई स्वास्थय लाभ हैं।आइए, जानते हैं हरड़ के फायदे और इस्तेमाल करने के तरीके।

Vishal Singh
आयुर्वेदWritten by: Vishal SinghPublished at: Sep 22, 2017
पाचन तंत्र मजबूत करने के साथ सूजन कम करता है हरड़, जानें इसके अन्य फायदे

हरड़ सदियों से स्वास्थ्य लाभ के लिए जाना जाता है, इसे हरीतकी भी कहा जाता है। हरद, कदुक्‍कई, कराकाकाया, कदुक्‍का पोडी, हर्रा के नामों से भी जाना जाता है. यह एक ऊंचा पेड़ का फल है। वहीं, आयुर्वेद में इसे हरद, कदुक्‍कई, कराकाकाया, कदुक्‍का पोडी, हर्रा के नामों से भी जाना जाता है। हरड़ (Harad) को आयुर्वेद में कई बीमारियों को दूर करने के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। 

हरड़ (Harad) फल विटामिन सी और खनिज से भरपूर होता है, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। आयुर्वेद में हरड़ को बुखार, पेट फूलना, उल्टी, पेट गैस और बवासीर जैसी समस्याओं से राहत दिलाने में इस्तेमाल किया जाता है। इसका सेवन कर आप अपने आप अपनी कई समस्याओं को दूर कर सकते हैं। आइए जानते हैं कि ये आपके लिए कितना और कैसे फायदेमंद है। 

harad

हरड़ के फायदे ( Health Benefits Of Harad In Hindi)

पाचन क्रिया को करता है मजबूत

पेट संबंधित समस्या या फिर पाचन में किसी तरह की समस्या होने पर आप हरड़ का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये आपके खाने को जल्द पचाने और आपकी पाचन क्रिया (digestion process) को मजबूत करने का काम करता है। आपको बता दें कि हरड़ (Harad) के सेवन से गैस, अपच की समस्यां से भी निजात मिलती है। इसका सेवन करने के लिए आप हरड़ को आधा कप पानी में मिलाकर पिएँ इससे आपकी पाचन संबंधित परेशानी दूर हो जाएगी। हरड़ का सेवन करने से कब्ज से राहत मिलती है, ये कब्ज को दूर करने में भी गुणकारी होता है। इसे आप चुटकीभर नमक के साथ खाएं या फिर 1/2 ग्राम लौंग अथवा दालचीनी के साथ इसका सेवन करें, इससे आपकी कब्ज की समस्या भी दूर हो जाएगी।  

इसे भी पढ़ें: सुबह खाली पेट पिएं गुड़ का शरबत, कई बीमारियों का है रामबाण इलाज

उल्टी में मिलेगी राहत

अगर आपको उल्टी (Vomiting) आ रही है या फिर उल्टी जैसा मन हो रहा है तो आप तुरंत हरड़ का सेवन करें। ये आपकी आने वाली उल्टी को रोकने के साथ आपको उससे छुटकारा दिलाएगा। इसके साथ ही अगर आपका जी मिचला रहा है और उलटी जैसा मन हो रहा है तो हरड़ आपके काम आ सकती है। अक्सर ऐसा कई लोगों के साथ होता है जब वो सफर करते हैं तो उन्हें उबकाई महसूस होती है ऐसे में उन लोगों को अपने साथ हमेशा हरड़(Harad) रखनी चाहिए। उबकाई से राहत पाने के लिए आप हरड़ के पाउडर को शहद के साथ मिलाकर खा सकते हैं इससे आपकी उबकाई भी रुकेगी और उल्टी भी नहीं आएगी। 

शरीर से सूजन करे दूर

किसी चोट या फिर अंदरुनी सूजन (Swelling) को दूर करने के लिए भी हरड़ (Harad) को काफी फायदेमंद माना जाता है। ये आपकी सूजन को दूर कर दर्द से भी राहत दिलाने का काम करता है। सूजन के दौरान हरड़ के सेवन करने से आपको काफी आराम मिलता है। इसके लिए आप हरड़ को गोमूत्र में मिलाकर इस्तेमाल कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: फटी एड़ियों से एक रात में आराम दिलाएगा केले और शहद से बना ये मास्क, पाएं सुंदर और मुलायम पैर

बवासीर

बवासीर एक गंभीर और काफी परेशान करने वाली बीमारी है, बवासीर के रोगियों के लिए हरड़ इस्तेमाल फायदेमंद साबित हो सकता है। यह मलद्वार या गुदा के चारों तरफ की नसों के फूलने या उन पर सूजन आ जाने से होता है. इसमें गुदा पर मस्से जैसे उभार हो जाते हैं, जो मलत्याग करते समय दर्द का अहसास कराते हैं. कैसे करें हरड़ का इस्तेमाल- हरड़(Harad) को गर्म पानी में उबाल लें फिर इसे थोड़ा ठंड़ा होने के बाद इसका सेवन कर सकते हैं। नियमित रूप से इसका सेवन करने से आपको कुछ ही दिनों में फर्क महसूस होगा। 

Read More Articles On Ayurveda in Hindi

Disclaimer