जिम में ओवरट्रेनिंग से बचने के उपाय

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 26, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

स्‍वस्‍थ और सुडौल शरीर बनाने की इच्‍छा सभी की होती है। इसके लिए लोग जिम में जमकर पसीना बहाते हैं। कुछ लोग कम समय में ही शरीर को 'वी शेप' देना चाहते हैं, इसके लिए जिम में ज्‍यादा कसरत करते हैं। जिम में व्‍यायाम करने से शरीर स्‍वस्‍थ तो होता  है। लेकिन अति हर चीज की बुरी होती है, फिर चाहे वो जिम में जाकर व्‍यायाम करना ही क्‍यों न हो। रोजाना ओवरट्रेनिंग करना सेहत को काफी नुकसान पहुंचा सकता है। जानते हैं ओवरट्रेनिंग के नुकसान-

overexercising in hindi




हड्डियों की कमजोरी

व्‍यायाम करने से हड्डियां मजबूत होती हैं। लेकिन आजकल के युवा जल्‍दी से जल्‍दी अपने शरीर को वी शेप देना चाहते हैं जिसके लिए जरूरत से ज्‍यादा व्‍यायाम करते हैं। इसके कारण हड्डियों पर दबाव बढ़ता है और हड्डियां मजबूत होने के बजाय कमजोर हो जाती हैं। बढ़ती उम्र के साथ-साथ हड्डियों में दर्द होना आम समस्‍या हो जाती है। इसके अलावा गठिया रोग होने की भी संभावना होती है।

 

ऐसा क्‍यों होता है

व्‍यायाम करने से शरीर पर दबाव बढ़ता है। जिम में कसरत करने के बाद जब आदमी आराम की मुद्रा में आता है तब यही दबाव हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत बनाता है। लेकिन ओवरट्रेनिंग करने से शरीर को पर्याप्‍त आराम नहीं मिल पाता। इस‍का परिणाम यह होता है कि हड्डियां व मांसपेशियां मजबूत होने के बजाय कमजोर होने लगती हैं। इसके कारण थकान होने लगती है और शरीर में ऊर्जा का स्‍तर घटने लगता है।


ओवरट्रेनिंग के अन्‍य नुकसान

ज्‍यादा कसरत करने से खून का दबाव बढ़ता है और शरीर से इंसुलिन और एचडीएल कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर घटता है। इसके चलते दिल की बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है।

 

ओवरट्रेनिंग की पहचान

अगर आप हर रोज जिम जाकर पसीना बहाते हैं लेकिन इसी बीच कोई गैप हो जाता है तो और इस गैप के कारण आप तनाव और थकान महसूस करते हैं तो यह ओवरट्रेनिंग का नतीजा हो सकता है। इसके अलाव एक्‍सारइज करने के बाद कुछ देर तक आप चिड़चिड़ापन महसूस कर रहे हैं तो यह ज्‍यादा व्‍यायाम करने का नतीजा है।


ऐसे बचें ओवरट्रेनिंग से

शरीर की बनावट के अनुसार ही व्‍यायाम कीजिए। कसरत के दौरान शरीर की मुद्रा को ठीक रखिए। एक घंटे से ज्‍यादा देर तक व्‍यायाम करने से बचिए। कम से कम आठ घंटे की भरपूर नींद लीजिए। सप्‍ताह में एक दिन शरीर को आराम दीजिए। अगर व्‍यायाम के बाद लगातार थकावट महसूस हो तो कुछ दिनों के लिए व्‍यायाम करना छोड़ दीजिए।

 

व्‍यायाम शरीर को फिट बनाने के लिए किया जाता है, लेकिन आपकी जल्‍दबाजी और गलती इसे फिट बनाने के बजाय अस्‍वस्‍थ बना सकती है। इसलिए शरीर को स्‍वस्‍थ्‍य और शेप में लाने के लिए पूरा समय दीजिए। कोशिश यह कीजिए कि आप जिस जिम में एक्‍सरसाइज कर रहे हैं वहां पर ट्रेनिंग देने वाला कुशल ट्रेनर हो। इससे आपका शरीर स्‍वस्‍थ और सुडौल तो होगा साथ ही कोई गंभीर बीमारी भी नहीं होगी।

 

Image Source : Getty Images 

Read More Articles on Health and fitness in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES6 Votes 15481 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर