एमआरएसए का जोखिम

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 22, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Hot teaनए शोध यह बताते हैं की गर्म चाय और कॉफी पीने से आपकी नाक में  एमआरएसए के संक्रमण के जोखिम को कम करता है ।ये गर्म पेय आपकी नाक में इस जीवाणु के होने की संभावना को 50% तक कम क्र देते है। इसके साथ ही जीवाणु के नाक में होने की संभावना वैसे वैसे कम होती गयी जैसे जैसे इस शोध के प्रतियोगियों ने ज्यादा से ज्यादा चाय या कॉफी पी ।



इस अध्ययन के लेखक एरिक माथेसन , एमडी के हिसाब से जो की चार्ल्सटन में मेडिकल यूनिवर्सिटी आफ साऊथ केरोलिना में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं उनके हिसाब से इन पेय में कुछ जीवाणु विरोधी तत्वों के होने की आशंका है ।युएसे में 2.5 मिलियन लोगो के मुख में एमआरएसए (मेथिसिलिन रसिस्तेंत स्तेफाय्लोकोक्स औरीयास ) होने की संभावना है तो इसलिए यह  शोध इस जीवाणु द्वारा किये गए रोग के निवारण में मदद क्र सकता  है ।



एमआरएसए सबसे ज्यादा उन लोगो को प्रभावित करता है  जिनमे की तंत्रिका तंत्र कमजोर होता है ।कई रोग हो सकते हैं जो की एमआरएसए की वजह से हो सकते हैं जो की खुले घावों से शरीर में घुस जाता है । यह जीवाणु कई एंटीबायोटिक के पार्टी प्रतिरोधक क्षमता विकसित क्र चुका है और अस्पताल में एमआरएसए से सम्बन्धित कई रोगों की घटनाये आ चुकी हैं ।यह जानकर बहुत खुशी होती है की जो जीवाणु एंटीबायोटिक से भी नहीं मर रहा है वो आपके सुबह के एक कप से नियंत्रित और सीमित हो जा रहा है । इस बारे में और शोध की ज़रूरत है की कैसे चाय और कॉफी एमआरएसए के नाक में जाने की संभावना को 50% तक कम कर देता है ।इस खोज से कई विशेषज्ञ बहुत ही आश्चर्यचकित हैं और चाय और कॉफी की एंटीबायोटिक गुण को ढूँढना चाहते हैं ।

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES2 Votes 12162 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर