ध्यान के सुझाव

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 15, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

meditation ke sujhav in hindiतृतीय आँख चक्र ध्यान ज्ञान की तरफ जाने वाला एक रास्ता है। तीसरी आँख पलको के ठीक बीच में होती है जो की आँखों के बिलकुल ऊपर स्थित होती है। यह हमारी मनोचिकित्सक काबिलियत को बढाने में मदद करता है और इसी के साथ यह हमारे अतिरिक्त संवेदना को सशक्त करती है। यह नील रंग के साथ सम्बन्धित है।

[इसे भी पढ़े- घर पर मेडिटेशन कैसे करें]

 

चक्र ध्यान में तीसरी आँख को खोलने के निम्न तरीके है

 

  • शुरू करने के लिए अपने हाथो को 60 डिग्री के कोण पर उठाये। यह पक्का कर ले की आपके हाथ बिलकुल सीधे हो जिनको की आप सिर्फ कलाई से ही मोडे ।अपनी हथेलियों को बहार की तरफ निकाले और चेहरे को ऊपर की तरफ करके रखे। एक ही आसन पर लम्बे समय तक बैठने मी आपको तकलीफ होगी। इसलिए इसससे बचने के लिए आप अपने पैरों की आलती पालती मारकर बैठ  सकते हैं।
  • अपने ध्यान को तृतीय आँख चक्र की तरफ केंद्रित करे, जो की आपकी पलको के बीच में है। आप उस हिस्से में कुछ प्रकार  के दवाब को बनता हुआ महसूस कर सकते हैं।
  • उसी जलग पर ध्यान केंद्रित करते समय, सांस लेना शुरू करे। आपको सांस अंदर और बहार 16 हिस्सों में लेना होगा मतलब की आपको अपनी सांस को 16 हिस्सों में बांटना होगा। 16 बार सांस खीचने से एक बार आप सांस का कश अंदर लेंगे और इसी तरह 16 बार सांस बहार करने से एक बार वास निकालेंगे। अगर आप अपनी सांस को 16 हिस्सों में विभाजित करने में तकलीफ महसूस कर रहे हैं तो 8 हिस्सों से चालू करे और धीरे धीरे बढाए।

[इसे भी पढ़े- ध्‍यान की तकनीक]

  • इस तरह से पूरे ध्यान में सांस लेते रहे। यह सोचने की कोशिश करे की शक्ति का केन्द्र आपके माथे पर है, जो हर बार आपके सांस लेने के वक़्त सचेत होता है।
  • आपके लिए हम यह सुझाव देना चाहते हैं की आप इस ध्यान को रोजाना करे और एक ही समय पर करे और एक ही जगह पर करे क्योंकि इससे आपका शरीर उस जगह के वातावरण के प्रति अनुकूल हो जाएगा। इस ध्यान को करना बहुत कठिन है और इसको करने के लिए आपको कठोर इच्छा शक्ति और ताकत चाहिए पड़ेगी। पर इसको नियमित रूप से करने से आपको बहुत फायदा होगा। यहाँ पर तृतीय आँख चक्र करने के कुछ फायदे हैं:
  • धीरे धीरे आपकी तीसरी आँख का चक्र खुल जाएगा और आप कुछ चीज़े ऎसी देखने लगेंगे जिनको की आपने पहले कभी भी नहीं देखा होगा। पर ऐसा होने में थोड़ा समय लगेगा और इसको करने के लिए आपको बहुत मेहनत करनी होगी। आपकी छटवी इंद्री बहुत बढ़ जायेगी और किसी चीज़ को बारीकी से देखने की आपकी काबिलियत भी बढ़ जायेगी।

[इसे भी पढ़े- मेडिटेशन]

  • इससे एक तनाव भरे दिन के बाद आपको अपने दिमाग को राहत देने में भी मदद मिलेगी और इससे आप में फिर से शक्ति भर जायेगी।
  • यह आपकी इच्छा शक्ति और ध्यान करने की काबिलियत भी बढ़ेगी। इन आत्मिक फायदों के अलावा इससे आपकी द्रष्टि भी बढ़ेगी साथ ही आपका शवासन तंत्र भी विकसित होगा। हालाँकि तीसरी आँख चक्र ध्यान करना बहुत कठिन है, तीसरी आँख चक्र ध्यान के कई फायदे हैं।

 

Read More Article On- Alternative therapy in hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES178 Votes 28465 Views 8 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • lalita12 Sep 2012

    good article with great sujhav

  • meena12 Sep 2012

    nice article about meditation great......

  • meena12 Sep 2012

    nice article about meditation great......

  • meena12 Sep 2012

    nice article about meditation great......

  • Devender23 Jun 2012

    dhyan ke liye Osho ki books"1 OSHO DHYAN YOG 2 OSHO DHYAN SUTR 3 KRANTI SUTR," this is very intersting book about meditation & sprituality these books are avilable at any bus stand book stall

  • RAJNEESH01 Jun 2012

    PLZ MUJHE ye btaye k dhayan kisi diye ki rosni par b kr sakte h kya?

  • Neeraj24 May 2012

    Kripya mujhe dhyan or sadhna se relatete koi site ya book ka naam bataiye..jisme dhyan k bare me sab kuch ho...plz help me

  • dinesh14 May 2012

    mai is bat ka chotasa anubhav le chuka hu per nitya nem jururi hai.

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर