पेट की चर्बी कम करने के लिए करें इन अंगों की मसाज

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 18, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • मसाज से पेट की चर्बी को नियंत्रित कर सकते हैं।
  • भूख नियंत्रण बिंदु को दबाकर अधिक खाने से बचें।
  • इसके दबाव से शरीर का मेटाबॉलिज्म ठीक रहता है।
  • एड़ी पर मसाज करने से पाचन तंत्र ठीक रहता है।

जिम में घंटों पसीना बहाने और डाइटिंग करने के बावजूद भी अगर आप से छुटकारा पाने में सफल नहीं हो पा रहें हैं। तो घबराने से अच्‍छा है कि दूसरे विकल्‍पों का सहारा लें, इसके लिए एक्यूप्रेशर मसाज बेहतरीन विकल्प हो सकता है। आप किसी अच्‍छे एक्‍यूप्रेशर प्रशिक्षक की मदद से शरीर के कुछ खास अंगों की मसाज के जरिये पेट की चर्बी और वजन को नियंत्रित कर सकते हैं।

belly fat in hindi

 

 

एक्यूप्रेशर शरीर के विभिन्न हिस्सों के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर दबाव डालकर किसी भी रोग को ठीक करने की विधि है। यह चीन की चिकित्सा पद्धति है। इस पद्धति के अनुसार, मानव शरीर पैर से लेकर सिर तक आपस में जुड़ा हुआ है। शरीर में मौजूद नसें, रक्त धमनियां, मांसपेशियां, स्नायु और हड्डियों के साथ अन्य कई चीजें आपस में मिलकर शरीर रूपी इस मशीन को बखूबी चलाती हैं। अत: किसी एक बिंदु पर दबाव डालने से उससे जुड़ा पूरा भाग प्रभावित होता है। आइए जानें शरीर के किस अंग की मसाज करने से पेट की चर्बी कम करने में मदद मिलती है।


कानों पर मसाज

प्रत्येक एक्यूप्रेशर सत्र की शुरुआत और अंत में भूख नियंत्रण बिंदु को दबायें। अपने कान पर दबाव बिंदु का पता लगाएं (जो भूख नियंत्रण बिंदु होता है)। इस बिंदु को दबाकर भूख पर नियंत्रण करना आसान होगा और आप ओवरईटिंग से बचेंगे। इस बिंदु कान के ऊपर स्थित मांसल फ्लैप हिस्सा होता है जो कान के केनाल के सामने मौजूद होता है। 3 मिनट के लिए इस जगह पर लगातार दबाव डालें। धीरे-धीरे प्रेशर बढ़ाएं और फिर छोड़ दें।

knee massage in hindi


घुटनों पर मसाज

घुटनों के बाईं ओर ठीक नीचे तीन बिंदु होते हैं जिन पर दबाव देने से शरीर का मेटाबॉलिज्म ठीक रहता है और शरीर में अतिरिक्‍त वसा इकट्ठा नहीं होता है। इसके लिए एक-एक करके इन पर बिंदुओं पर दबाव बनाएं और एक मिनट तक इन बिंदुओं पर मसाज करें।


हथेली की मसाज

हथेलियों में अंगूठे के पास वाले उभरे भाग पर व्यक्ति की सहन क्षमता के अनुसार दबाव दें। इस प्रक्रिया को तीन से पांच बार दोहराएं। इसके बाद अच्छी मात्रा में गुनगुना पानी का सेवन करें जिससे टॉक्सिन शरीर से निकल जाएं।


कंधे की मसाज

अगर व्यक्ति को भूख अधिक लगती हो तो दाहिने कंधे के मध्य भाग में हाथ की अंगुली व अंगूठे से दिन में 2 बार लगभग आधा मिनट तक दबाव देना चाहिए। लेकिन ध्यान रहे एक्यूप्रेशर के इस प्रयोग को खाली पेट ना करें।

Massage on heel in hindi


एड़ी पर मसाज

एड़ी की हड्डी यानी एंकल बोन पर अपनी चारों उंगलियों को रखें और धीरे-धीरे दबाव दें। एक मिनट तक तेज दबाव दें और फिर धीरे-धीरे छोड़ दें। इस मसाज से पाचन तंत्र ठीक रहता है।


शरीर के इन अंगों की मसाज करके आप न सिर्फ अपनी भूख पर नियंत्रण कर सकते हैं बल्कि पाचन क्रिया ठीक रख सकते हैं। सही खानपान व मसाज से प्रतिमाह लगभग 2-3 किलो वजन कम किया जा सकता है। हर दो माह में अपना वजन जरूर कराएं।



Image Courtesy : Getty Images

Read More Articles on Weight Loss in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES470 Votes 33542 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर