इन घरेलू उपायों से रखें हृदय को स्वस्थ

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 29, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • दिल है तो जहान है, इसलिए दिल को रखें स्वस्थ।
  • दिल के लिए हमेशा डॉक्टर के पास ना दौड़ें।
  • दिल को स्वस्थ घरेलू उपायों से भी रख सकते हैं।
  • मौसमी फल व सब्जि़यों औऱ शहद कारगर है।

दिल की बीमारी से बहुत सारी बीमारियों को न्योता मिलता है। इसलिए लोग दिन को स्वस्थ रखने के लिए बहुत सारे जतन करते हैं। लेकिन दिल को स्वस्थ रखने के लिए इतने जतन करने की जरूरत नहीं है। कुछ आसान घरेलू उपायों से भी आप अफने दिल को स्वस्थ रख सकते हैं। जैसे की बचपन में लगी चोटों का ईलाज हमारे घरों में ही मिल जाया करता था। जबकि आज तो तुरंत डॉक्टर के पास दौड़ते हैं। आज भी अगर आप अपनी दादी या नानी से अपनी स्वास्‍थ्‍य समस्याओं का जि़क्र करेंगे, तो वो आपको कई नुस्खे बतायेंगी। सबसे अच्छी बात यह है कि आप भी घर बैठे इन घरेलू उपचारों से लाभ पा सकते हैं।

Hearth health


ऐसा भी हो सकता है कि समय की बाध्यता से या किन्हीं अन्य कारणों से आपने यह नुस्खे ना अपनाये हों, तो आज इन्हें आज़मा कर देखें:

•    मौसमी फल व सब्जि़यों - आजकल कम उम्र में भी उच्च रक्तचाप की समस्या हो जाती है। अगर आपको उच्च रक्तचाप की समस्या है, तो मौसमी फल व सब्जि़यों का सेवन करें।


•    अंगुर - अंगूर से हृदय गति बेहतर रहती है और किसी भी प्रकार के दर्द में भी आराम मिलता है।


•    अनार - अनार से नये सेल्स  का निर्माण होता है और हृदय की बीमारियों से बचने के लिए भी यह अच्छा  है।


•    प्याज़ - प्याज़ के सेवन से रक्त में कोलेस्ट्राल का स्तर ठीक रहता है और आक्सिडेशन की प्रक्रिया ठीक से होती है।


•    शहद - रक्त संचार के लिए शहद भी अच्छा है। शहद का प्रयोग आप दूध में मिलाकर कर सकते हैं।


•    संतरा का  जूस - उच्च रक्तरचाप नियंत्रित रखने के लिए संतरे के जूस को नारियल के पानी में मिला कर दिन में दो से तीन बार लें।


•    नींबू पानी - रक्तचाप बढ़ रहा है, तो नीबू पानी पीयें। एक गिलास पानी में आधे नीबू को निचोड़ कर इसे हर दो घंटे पर पीयें।


•    ताजा आंवला - एक बड़े चम्मच से ताज़ा आंवले के रस और शहद का मिश्रण बनाकर इनका सेवन करें।


 
अब अपनी समस्याओं का ईलाज आप अपने घर पर ही कर सकते हैं, लेकिन अपनी स्थितियों की गंभीरता को समझते हुए चिकित्सक के पास जाना ना भूलें।

 

Read more articles on Heart health in hindi.

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES55 Votes 24191 Views 3 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Indu Shekhawat02 Jun 2013

    Bahut gyanvardhak, deshi ilaaz.

  • Pramod02 Jun 2013

    How to control high bloodpressure?

  • jagjeet jaswal28 Dec 2011

    my wife's age 34, 2-3 days before night 10-45pm to 01-45 am heart palpitation is very fast after that she's normal heart beat but she feels tired after that dates menopause 2-3 days later, some office work load please advise what i do for my wife. please suggest me? please...........

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर