इन घरेलू उपायों से रखें हृदय को स्वस्थ

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 29, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • दिल है तो जहान है, इसलिए दिल को रखें स्वस्थ।
  • दिल के लिए हमेशा डॉक्टर के पास ना दौड़ें।
  • दिल को स्वस्थ घरेलू उपायों से भी रख सकते हैं।
  • मौसमी फल व सब्जि़यों औऱ शहद कारगर है।

दिल की बीमारी से बहुत सारी बीमारियों को न्योता मिलता है। इसलिए लोग दिन को स्वस्थ रखने के लिए बहुत सारे जतन करते हैं। लेकिन दिल को स्वस्थ रखने के लिए इतने जतन करने की जरूरत नहीं है। कुछ आसान घरेलू उपायों से भी आप अफने दिल को स्वस्थ रख सकते हैं। जैसे की बचपन में लगी चोटों का ईलाज हमारे घरों में ही मिल जाया करता था। जबकि आज तो तुरंत डॉक्टर के पास दौड़ते हैं। आज भी अगर आप अपनी दादी या नानी से अपनी स्वास्‍थ्‍य समस्याओं का जि़क्र करेंगे, तो वो आपको कई नुस्खे बतायेंगी। सबसे अच्छी बात यह है कि आप भी घर बैठे इन घरेलू उपचारों से लाभ पा सकते हैं।

Hearth health


ऐसा भी हो सकता है कि समय की बाध्यता से या किन्हीं अन्य कारणों से आपने यह नुस्खे ना अपनाये हों, तो आज इन्हें आज़मा कर देखें:

•    मौसमी फल व सब्जि़यों - आजकल कम उम्र में भी उच्च रक्तचाप की समस्या हो जाती है। अगर आपको उच्च रक्तचाप की समस्या है, तो मौसमी फल व सब्जि़यों का सेवन करें।


•    अंगुर - अंगूर से हृदय गति बेहतर रहती है और किसी भी प्रकार के दर्द में भी आराम मिलता है।


•    अनार - अनार से नये सेल्स  का निर्माण होता है और हृदय की बीमारियों से बचने के लिए भी यह अच्छा  है।


•    प्याज़ - प्याज़ के सेवन से रक्त में कोलेस्ट्राल का स्तर ठीक रहता है और आक्सिडेशन की प्रक्रिया ठीक से होती है।


•    शहद - रक्त संचार के लिए शहद भी अच्छा है। शहद का प्रयोग आप दूध में मिलाकर कर सकते हैं।


•    संतरा का  जूस - उच्च रक्तरचाप नियंत्रित रखने के लिए संतरे के जूस को नारियल के पानी में मिला कर दिन में दो से तीन बार लें।


•    नींबू पानी - रक्तचाप बढ़ रहा है, तो नीबू पानी पीयें। एक गिलास पानी में आधे नीबू को निचोड़ कर इसे हर दो घंटे पर पीयें।


•    ताजा आंवला - एक बड़े चम्मच से ताज़ा आंवले के रस और शहद का मिश्रण बनाकर इनका सेवन करें।


 
अब अपनी समस्याओं का ईलाज आप अपने घर पर ही कर सकते हैं, लेकिन अपनी स्थितियों की गंभीरता को समझते हुए चिकित्सक के पास जाना ना भूलें।

 

Read more articles on Heart health in hindi.

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES55 Votes 25350 Views 3 Comments
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर