सहकर्मियों के साथ वॉक पर जाने के फायदे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 08, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • सहकर्मियों के साथ आउटडोर वॉक होती है फायदेमंद।
  • पांच मिनट की चहलकदमी भर से होता है काफी लाभ।
  • देर तक बैठे रहने का संबंध एंडोथेलियल प्रक्रिया से है।
  • चहलकदमी करने से एंडोथेलियल प्रक्रिया धीमी हो जाती है।

ये तो आपने सुना ही होगा कि ऑफिस या घर पर लगातार अधिक समय के लिए कुर्सी पर बैठे रहना आपकी कमर और सेहत के लिए हानिकार साबित हो सकता है। तो आपको बीच-बीच में थोड़ा टहलते रहना चाहिए। और इस बात को हाल में जर्नल ऑफ इकोसाइकॉलजी में प्रकाशित एक शोध और ज्यादा मजबूत कर देती है। इस शोध के अनुसार ग्रुप में वॉक करने की आदत, तनाव को कम करती है और मूड को भी बूस्ट करती है। ऐसे में यदि दफ्तर में सहकर्मियों के साथ थोड़ी देर वॉक पर जाया जाए तो न सिर्फ मानसिक तथा शारीरिक स्वास्थ बेहतर होता है, बल्कि आपसी संबंध में भी मधुरता आती है। इस अध्ययन के अंतर्गत चले इस स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत 1,991 प्रतिभागियों का को चलवाकर उनका विश्लेषण किया गया। तो चलिये जानें कि यह अध्ययन तथा इस जैसे नये अध्ययन क्या कहते हैं।  

 

Walk Outside With Your Coworkers in Hindi

 

इस अध्ययन की वरिष्ठ लेखक तथा मिशिगन मेडिकल स्कूल विश्वविद्यालय में परिवार चिकित्सा की एसोसिएट प्रोफेसर सारा वारबर तथा उनके दल नें इस अध्ययन के दौरान पाया कि प्रतिभागियों का वह समूह जो आउटडोर वॉक पर गया था, उसने कम अवसाद और तनाव की सूचना दी। साथ ही इन लोगों में वॉक पर न जाने वाले समूह की तुलना में समग्र मानसिक विकास होता देखा गया। साथ में आउटडोर वॉक खासतौर पर उन लोगों के लिए लाभप्रद थी, जोकि हाल ही में किसी तनावपूर्ण अनुभव, जैसे गंभीर बीमारी, वैवाहिक जीवन की समस्या या बेरोजगारी आदि से गुज़रे थे।  


क्यों है ये फायदेमंद

ओरेगोन हेल्थ एंड साइंस यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने भी दावा किया था कि, उन्होंने अपने एक शोध में पाया कि पांच मिनट की चहलकदमी भर से लंबे समय तक बैठने से पैरों की धमनियों पर पड़ने वाला कुप्रभाव को कम किया जा सकता है। ऐसा इसलिए  क्योंकि जब लोग लंबे समय तक एक जगह बैठे रहते हैं, तो मांसपेशियां सुस्त पड़ जाती हैं और हृदय को रक्त संचार नहीं हो पाता, जिस कारण रक्तवाहिकाओं या धमनी द्वारा रक्तस्राव की क्षमता पर बुरा प्रभाव पड़ता है और पैरों की धमनियों में रक्तस्राव बाधित हो  जाता है।

 

Walk Outside With Your Coworkers in Hindi

 

 

इंडियाना यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के शोधार्थी तोसार के अनुसार यह देखा गया कि लंबे समय तक बैठे रहने का संबंध एंडोथेलियल प्रक्रिया से भी होता है, जो हृदय संबंधी रोगों का कारक होता है। और काफी समय तक बैठे रहने के दौरान बीच-बीच में थोड़ी चहलकदमी करते रहने से एंडोथेलियल प्रक्रिया धीमी पड़ जाती है। दरअसल एंडोथेलियल प्रक्रिया एक घंटे तक लगातार बैठे रहने से प्रभावी होती है। इसलिए सलाह दी जाती है कि हर एक घंटे में थोड़ी देर के लिए थोड़ी चहलकदमी कर ही लेनी चाहिए।



तो अगर आप रोज लंबे समय तक डेस्क पर काम करते हैं, तो पहर घंटे के बाद आपको अपने सहकर्मियों के साथ पांच मिनट की वॉक कर लेनी चाहिए। इससे आपका व आपके सहकर्मियों का मानसिक व शारीरिक स्वास्थ्य बेहतर रहेगा और आपके संबंधों में भी सुगमता आएगी।




Read More Articles On Sports & Fitness In Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES2 Votes 1167 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर