प्रोफेशनल लाइफ में जब आए मुश्किल तो अपने व्यवहार को ऐसे बनाएं संतुलित

कभी-कभी ऐसी स्थितियां ऑफिस में आ जाती हैं जब हम अपने क्रोध पर काबू नहीं कर पाते। लेकिन यह सब प्रोफेशनल लाइफ में सही नहीं होता है।

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Nov 09, 2020Updated at: Mar 26, 2021
प्रोफेशनल लाइफ में जब आए मुश्किल तो अपने व्यवहार को ऐसे बनाएं संतुलित

अपने काम में हर कोई परफेक्ट होता है। लेकिन प्रोफेशनल काम में परफेक्ट होने के लिए अनेक पड़ाव को पार करना जरूरी होता है। कामयाबी हासिल करने के लिए केवल परफेक्ट होना या अपने काम में बढ़िया होना ही जरूरी नहीं है। इसके लिए आपके व्यवहार को भी सकारात्मक होना जरूरी है ऐसे में सॉफ्ट स्किल्स का विकास होना बेहद जरूरी है कई बार आपने देखा होगा ऑफिस में ऐसी परिस्थितियां बन जाती है जिस पर हम अपने गुस्से पर कम कंट्रोल नहीं कर पाते हैं लेकिन उस वक्त अगर धैर्य के साथ काम किया जाए तो आप परिस्थितियों को किसी और दिशा में मोड़ लेते हैं। आज हम इस लेख के माध्यम से आपको बताएंगे कि आप अपने व्यवहार को किस तरीके से संतुलित कर सकते हैं। पढ़ते हैं आगे...

personality tips

सरकर्मी पर क्रोध

कभी-कभी ऐसी स्थिति भी आ जाती है जब आप पर बहुत सारा काम होता है और आप अपने सहकर्मी के साथ उस काम को बांटने के लिए आग्रह करते हैं। पर वो आपसे साफ मना कर देता है तो ऐसी परिस्थिति में आपको उससे नाराज होने की जरूरत नहीं है। यह आपकी सॉफ्ट स्किल्स की परीक्षा है आप इस बात को नजरअंदाज करें और सोचें कि आपको किसी की जरूरत नहीं है। आप उस काम को स्वयं भी कर सकते हैं। ऐसे में शिकायत करने की गलती ना करें।

छुट्टी में ऑफिस वर्क

कभी-कभी ऐसी परिस्थिति बन जाती है कि आप छुट्टियों पर जा रहे हैं और छुट्टी के पहले दिन ही ऑफिस की तरफ से आपके पास बहुत सारा काम आ जाए। ऐसे में भी गुस्सा होने के बजाय धैर्य से काम लें। फोन करके किसी को उल्टा सीधा ना कहें। यह सोचें कि अगर सामने वाले व्यक्ति का फोन आया है तो कोई बहुत बड़ी बात रही होगी। अगर आप फोन रिसीव नहीं कर पा रहे हैं तो बाद में कॉल बैक जरूर करें।

क्रेडिट किसी और को मिलना

अक्सर आपने यह भी देखा होगा कि किसी प्रोजेक्ट पर आपने पूरी मेहनत की है लेकिन क्रेडिट किसी और को मिल गया और आप खुद को बहुत बेबस महसूस कर रहे हों। ऐसे में नाराज होना स्वभाविक है। ऐसे समय में संयम से काम लेना जरूरी है। सबसे पहले जिस इंसान ने आप का क्रेडिट लिया है उससे अकेले में बात करें और बताएं कि इस बात से आपको बेहद दुख पहुंचा है और अगर कोई बार-बार इस तरह की चीजें करें तो तो मजबूरी में अपने वरिष्ठ अधिकारी को बता दें।

इसे भी पढ़ें- खत्म होने वाली हैं मैटरनिटी लीव? ऐसे मैनेज करें बच्चे की जिम्मेदारी और काम का स्ट्रेस

जब सीनियर करें गुस्सा 

अक्सर ऑफिस में ऐसे भी परिस्थिति आ जाती है जब आपने किसी प्रोजेक्ट पर अपना हंड्रेड परसेंट दिया है लेकिन आपके सीनियर को वह काम पसंद नहीं आया और उसे लेकर आपकी डांट भी लग गई। ऐसे में यह कारण भी हो सकता है कि आपके सीनियर का किसी और वजह से मूड खराब हो रहा हो पर उसका गुस्सा आप पर निकल गया हो। ऐसे में यह आपके धैर्य की परीक्षा होती है। ऐसी परिस्थिति बने तो हमेशा शांत रहें और जब बाद में गुस्सा शांत हो जाए तो उसके सामने अपनी बात को रखने की कोशिश करें। किसी से शिकायत करने के लिए ना जाएं। यह आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है।

इसे भी पढ़ें- दिनचर्या में इन 7 बदलावों से आप अपनी सोच को बना सकते हैं पॉजिटिव, समय खुद को अपडेट करने का

पीठ पीछे बुराई करने वाले

ऑफिस में आपको ऐसे लोग भी मिलेंगे जो आपके पीठ पीछे बेहद बुराई करते। होंगे वह लोग आपके सामने तो आपके दोस्त बनकर रहते हैं लेकिन पीठ पीछे आपकी बुराई करते हैं। ऐसे लोगों से सावधान रहना आपकी जिम्मेदारी है। अगर आपके आसपास ऐसे लोग हैं तो उनसे दोस्ती ना बढ़ाएं और अगर उनकी बातें से आपको दुख हो तो किसी से शिकायत करने की बजाय उससे बात करें या उस से दूरी बनाना शुरू कर दें।

Read More Articles on Mind Body in hindi

Disclaimer