पेट साफ न होने पर इस तरह से खाएं दही, कब्ज से मिलेगा छुटकारा

Yogurt in Constipation: कब्ज में दही का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। दही मल को नरम बनाता है, मल त्याग को आसान बनाता है।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jun 13, 2022Updated at: Jun 13, 2022
पेट साफ न होने पर इस तरह से खाएं दही, कब्ज से मिलेगा छुटकारा

Yogurt for Constipation Relief in Hindi: कब्ज आजकल की एक बेहद आम समस्या है। खराब जीवनशैली, तनाव, अनहेल्दी डाइट कब्ज के मुख्य कारण माने जाते हैं। इसके अलावा खाने में फाइबर की कमी भी कब्ज का कारण होता है। फाइबर मल त्याग को आसान बनाने में हमारी मदद करता है। कब्ज में सख्त, सूखा मल निकलता है, इस दौरान तेज दर्द महसूस होता है। कब्ज के दौरान आंतें पूरी तरह से खाली नहीं हो पाती हैं। साथ ही जिन लोगों को कब्ज रहती है, उन्हें भूख भी कम लगती है। इस स्थिति में लोग मल को नरम बनाने के लिए तरह-तरह के चूर्ण, पाउडर या फिर सिरप लेते हैं। लेकिन अगर आप नैचुरल तरीके से कब्ज दूर करना चाहते हैं, तो दही (Yogurt in Hindi) इसमें फायदेमंद हो सकता है। आज के इस लेख में हम आपको दही (Yogurt for Constipation) के बारे में बताने जा रहे हैं, जो पेट को साफ करने में मदद करता है।

yogurt for constipation

कब्ज के लिए दही के फायदे (Yogurt Benefits for Constipation)

दही पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसलिए इसे संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाता है। दही का उपयोग कब्ज को ठीक करने के लिए भी किया जा सकता है। कब्ज से परेशान लोगों के लिए दही का सेवन करना रामबाण हो सकता है। रामहंस चेरिटेबल हॉस्पिटल के आयुर्वेदिक डॉक्टर श्रेय शर्मा से जानें कब्ज के लिए दही के फायदों के बार में-

  • दही में प्रोबायोटिक्स होते हैं, इन्हें अच्छा बैक्टीरिया कहा जाता है। प्रोबायोटिक्स आंतों के स्वास्थ्य में सुधार करते हैं। इससे पेट को साफ होने में मदद मिलती है।
  • दही में मौजूद प्रोबायोटिक्स मल को नरम बनाते हैं। दही (Yogurt for Constipation Relief in Hindi) खाने से मल सख्त या कठोर नहीं बनता है। इससे मल त्याग आसानी से हो जाता है। 
  • दही में शीतल गुण होते हैं। इसे खाने से पेट को ठंडक मिलती है और इससे पाचन आसान होता है। दही पाचन में सहायता करने के लिए सबसे बेस्ट फूड है।
  • दही भोजन को पचाने में आंतों की मदद करता है। इससे खाना आसानी से डायजेस्ट हो जाता है और मल त्याग में कठिनाई नहीं होती है। 
  • दही में कैल्शियम भी होता है। यह हड्डियों को मजबूत बनाता है, साथ ही पोषक तत्वों का बेहतर अवशोषण भी करता है।
  • दही पेट के लिए हल्का होता है। अन्य डेयरी प्रोडक्ट्स की तुलना में दही को पचाना आसान होता है। 

कब्ज में दही कैसे खाएं? (How to Eat Yogurt in Costipation)

कब्ज के रोगियों के लिए दही खाना लाभकारी हो सकता है। रोजाना दही खाने से पुरानी कब्ज से भी छुटकारा (Yogurt for Constipation Relief in Hindi) पाया जा सकता है। आयुर्वेद के अनुसार दही का सेवन नाश्ते के बाद करना सबसे अधिक फायदेमंद होता है। आप दही को छाछ और लस्सी के रूप में पी सकते हैं।

इसके अलावा आप चाहें तो एक कटोरी दही में अलसी, सूरजमुखी के बीज डालें। अब इसका सेवन करें। इससे आपको फाइबर और प्रोबायोटिक्स मिलेगा और कब्ज से राहत मिलेगी। अगर आप रोजाना एक कटोरी दही खाएंगे, तो आपको कब्ज जल्दी से नहीं बनेगी। 

constipation problem

कब्ज से तुरंत राहत कैसे पाएं? (How to Get Rid From Constipation in Hindi) 

  • आप अपनी डाइट में फाइबर शामिल करके कब्ज से छुटकारा पा सकते हैं।  
  • आप रोजाना एक कटोरी दही का सेवन भी कर सकते हैं।
  • पोषक तत्वों से भरपूर और बैलेंस डाइट लें।
  • हैवी फूड्स जैसे मैदा, सोडा आदि लेने से बचें।
  • रोजाना एक्सरसाइज या योगासन करें। इससे कब्ज से काफी हद तक छुटकारा मिलेगा।
  • खाना खाने के बाद टहलने की आदत जरूर बनाएं। इससे अपच नहीं होती है।

अगर आपको भी कब्ज रहती है, तो आप अपनी डाइट में दही को शामिल कर सकते हैं। दही में प्रोबायोटिक्स होते हैं, जो मल को नरम बनाते हैं और आसानी से पेट साफ करने में मदद करते हैं। साथ ही जो लोग रोज दही खाते हैं, उनमें कब्ज की समस्या कम देखने को मिल सकती है। 

Disclaimer