पैरों में सूजन दूर करने के लिए फायदेमंद हैं ये 5 योग

अगर आपके पैरों में सूजन है तो उसे दूर करने के ल‍िए आप कुछ योगा पोज ट्राय कर सकते हैं, आइए जानते हैं उनके बारे में

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jun 16, 2021Updated at: Jun 16, 2021
पैरों में सूजन दूर करने के लिए फायदेमंद हैं ये 5 योग

अक्‍सर लोग पैरों में सूजन की श‍िकायत करते हैं। हमारे शरीर में बीमार‍ियों का असर ब्‍लड सर्कुलेशन पर पड़ता है ज‍िसके कारण आपको पैरों में कभी-कभी सूजन नजर आती है। नसों पर दबाव पड़ने से पैरों में दर्द, सूजन या जलन की समस्‍या हो सकती है। पैरों की सूजन दूर कैसे करें? पैरों की मसल्‍स को र‍िलैक्‍स करने का सबसे अच्‍छा तरीका है योग करना। योग करने से पैरों की मसल्‍स लचीली बनेंगी और ब्‍लड सर्कुलेशन सुधरेगा ज‍िससे पैरों की सूजन या दर्द ठीक हो जाएगा। कुछ लोगों को तुरंत असर नजर आता है और कुछ केस में आपको योग करने के कुछ द‍िन बाद असर महसूस होगा। कुछ आसान योगासन हैं ज‍िन्‍हें आप पैरों में सूजन दूर करने के ल‍िए कर सकते हैं। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के रवींद्र योगा क्लीनिक के योगा एक्सपर्ट डॉ रवींद्र कुमार श्रीवास्तव से बात की।

garland pose

1. मलासन से दूर करें पैरों की सूजन (Garland pose or malasana)

मलासन संस्कृत शब्‍द है ज‍िसका पहला शब्‍द है मला यानी माला या हार और दूसरा शब्‍द है आसन मतलब पोज या योग। मलासन को गारलैंड पोज भी कहा जाता है। इस योग को करने से आपके पैरों की सूजन दूर हो जाएगी। 

मलासन योग को करने का तरीका:

  • मलासन को करने के ल‍िए आप जमीन पर या मैट ब‍िछाकर उस पर खड़े हो जाएं। 
  • आपको अपने हाथों को उठाना है और जोड़े लें, जैसे प्रार्थना की मुद्रा होती है। 
  • अपने पैरों को एक-दूसरे से थोड़ी दूरी पर रख लें। 
  • इसी पोजिशन में आपको धीरे-धीरे बैठना है। 
  • सांस भरें और छोड़ते हुए आगे की ओर झुकना है।
  • आपको अपनी बॉडी के ऊपरी ह‍िस्‍से को ज्‍यादा फैलाकर बैठना है। 
  • इन आसन में आपको कुछ सेकेंड तक रहना है। 
  • फ‍िर धीरे-धीरे सामान्‍य अवस्‍था में आ जाएं और हाथों को सीधा कर लें। 

2. पैरों की सूजन दूर करने के ल‍िए करें अधोमुख श्वानासन (Downward facing dog pose or adho mukha svanasana)

dog pose

अधोमुख श्वानासन संस्कृत शब्‍द है ज‍िसमें अधो का मतलब है आगे की ओर, मुख का मतलब है चेहरा, श्वान का मतलब है कुत्‍ता और आसान का मतलब है पोज। इस आसान में आपको ऐसा पोज बनाना होता है जैसे कुत्‍ता अपने शरीर को आगे की ओर करके ख‍िंचता है। इस आसान को करने से मांसपेशि‍यां फ्लेक्‍स‍िबल बनती हैं और पैरों की सूजन दूर होती है। 

अधोमुख श्वानासन को करने का तरीका:

  • आप जमीन पर सीधा खड़े हो जाएं। 
  • हाथों को जमीन की ओर झुकाएं। 
  • झुकते समय ह‍िप्‍स को ऊपर और घुटनों को सीधा कर लें। 
  • हाथों को कंधे से पहले झुका होना चाह‍िए।
  • सांस छोड़ते हुए घुटनों को धनुष के आकार में मोड़ें। 
  • आपकी एड़‍ियां जमीन से ऊपर होनी चाह‍िए।
  • आपका स‍िर जमीन की ओर होना चाह‍िए। 
  • हाथों को जमीन पर इस तरह रखें क‍ि उंगल‍ियां अच्‍छी तरह जमीन पर फैली हों। 
  • घुटनों को जमीन पर झुकाते हुए, ह‍िप्‍स को ऊपर की ओर उठाकर रखना है। 
  • इस पोज में कुछ सेकेंड ठहरकर सामान्‍य अवस्‍था में आ जाएं। 

इसे भी पढ़ें- दांतों को स्वस्थ रखने के लिए 5 आसान योगासन

3. सेतु बंधासन या ब्र‍िज पोज (Bridge pose or setu bandhasana)

bridge pose

सेतु बंधासन एक संस्कृत शब्‍द है जिसमें सेतु का मतलब है पुल और बंध का मतलब हैं बांधना। इस आसान को ब्र‍िज पोज भी कहते हैं क्‍योंक‍ि इस आसान को करते समय शरीर पुल की अवस्‍था में बन जाता है। सेतुबंधासन को करने से पैरों की सूजन तो दूर होती ही है साथ ही कमर दर्द से भी राहत म‍िलती है। 

सेतु बंधासन को करने का तरीका:

  • इस आसान को करने के ल‍िए आप आराम से जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं। 
  • घुटनों को मोड़ लें और ह‍िप्‍स और जमीन के बीच दूरी बना लें। 
  • ह‍िप्‍स और घुटनों को ऊपर उठाएं। 
  • हाथों को अपने शरीर के नीचे लेकर जाएं।
  • आपकी हथेल‍ियां जमीन से टच करनी चाह‍िए।
  • सांस लें और पीठ के को भी जमीन से ऊपर उठाने की कोश‍िश करें।  
  • आपको अपने पैरों के घुटने और एड़‍ियों को एक सीध में रखना है। 
  • अपने शरीर के भार को बैलेंस करें, पर बॉडी पर ज्‍यादा जोर न दें। 
  • इस मुद्रा को 30 सेकेंड के ल‍िए करें और फ‍िर सामान्‍य अवस्‍था में आ जाएं।

4. व‍िपरीत करणी योग (Legs up the wall pose or viparita karani)

leg up the wall pose

गर्भवती मह‍िलाओं के पैरों में अक्‍सर सूजन देखी जाती है ज‍िसे दूर करने के ल‍िए मह‍िलाएं व‍िपरीत करणी योग कर सकते हैं। गर्भवती मह‍िलाओं के अलावा भी ज‍िन लोगों को पैरों में दर्द या सूजन है वो इस आसान को कर सकते हैं। इस योग को करने से लेग्स-अप-द-वॉल कहा जाता है। इस योग को करने से रीढ़ की हड्डी भी मजबूत होती है और शरीर लचीला बनता है। 

व‍िपरीत करणी योग को करने का तरीका:

  • व‍िपरीत करणी योग को करने के ल‍िए फर्श पर पीठ के बल लेट जाएं। 
  • आपको अपने हाथ और पैरों को जमीन पर सीधा रखना है। 
  • अपने पैरों को ऊपर की ओर उठाएं और वॉल पर ट‍िकाकर 90 ड‍िग्री का एंगल बना लें। 
  • सपोर्ट के ल‍िए आप अपने ह‍िप्‍स को ऊपर की ओर उठाएं। 
  • इस पोज‍िशन में कुछ सेकेंड तक रुकें और फ‍िर सामान्‍य अवस्‍था में आ जाएं। 

इसे भी पढ़ें- रोज पश्चिम नमस्कार आसन करने से मिलेंगे कई फायदे, जानें करने का तरीका

5.चेयर पोज या उत्‍कटासन से दूर करें पैरों की सूजन (Chair pose or utkatasana)

chair pose

 उत्‍कटासन या चेयर पोज करने ने पैरों की सूजन दूर होती है। इस पोज को करना शुरूआत में थोड़ा मुश्‍क‍िल हो सकता है पर बाद में आपको आदत हो जाएगी। इस आसान को करने की अवस्‍था कुर्सी में बैठने जैसी होती है इसल‍िए इस योग को चेयर पोज भी कहते हैं। 

उत्कटासन योग को करने का तरीका:

  • उत्‍कटासन को करने के ल‍िए आप जमीन पर खड़े हो जाएं। 
  • आपको अपने हाथों को सीधा रखना है और पैरों को एक-दूसरे के पास रखना है। 
  • सांस को अंदर लेते हुए हाथों को ऊपर की ओर उठाएं और स‍िर के ऊपर की ओर ले जाकर जोड़ लें।
  • अपने घुटनों को आपको मोड़ना है और ह‍िप्‍स को नीचे लेकर जाना है। 
  • इस पोज में आप ऐसे नजर आएंगे जैसे क‍िसी कुर्सी पर बैठे हैं। 
  • इस अवस्‍था में आपकी गर्दन और रीढ़ की हड्डी सीधी रहेगी। 
  • अस आसन को आप अपनी क्षमता अनुसार कुछ सेकेंड के ल‍िए कर सकते हैं। 
  • इसके बाद सामान्‍य अवस्‍था में आ जाएं। 

ये योगासन पैरों में हल्‍की सूजन के ल‍िए फायदेमंद हैं लेक‍िन अगर आपके पैरों में सूजन के साथ ब्‍लड क्‍लॉट या असहनीय दर्द है तो इंतजार करने के बजाय तुरंत अस्‍पताल जाकर इलाज करवाएं।  

Read more on Yoga in Hindi 

Disclaimer