घुटनों के बल करें ये 3 योगासन, दर्द में मिलेगी राहत

Yoga Poses on Knee: आप घुटनों के बल बैठकर भी कुछ योगासनों का अभ्यास कर सकते हैं। जानें, घुटनों के बल किए जाने वाले आसन-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Dec 14, 2022 15:12 IST
घुटनों के बल करें ये 3 योगासन, दर्द में मिलेगी राहत

Yoga Poses on Knee in Hindi: योग, प्राणायाम और मेडिटेशन करना हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद होता है। योग करने से शरीर की इम्यूनिटी बूस्ट होती है, तनाव कम होता है। योग करने से आप मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ रह सकते हैं। योग कई तरीकों से किया जा सकता है। योग को बैठकर, लेटकर या फिर खड़े होकर भी किया जा सकता है। कुछ योगासन पेट के बल किए जाते हैं, तो वहीं, कुछ योगासन पीठ के बल किए जाते हैं। इसके अलावा कुछ योगासन ऐसे भी हैं, जो घुटनों के बल बैठकर किए जा सकते हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर घुटनों के बल बैठकर कौन से योगासन किए जा सकते हैं? या फिर घुटनों के बल किए जाने वाले आसन कौन से हैं? 

घुटनों के बल किए जाने वाले आसन- Yoga Poses on Knee in Hindi

1. वज्रासन

वज्रासन को घुटनों के बल बैठकर किया जाता है। वज्रासन को पाचन तंत्र के लिए काफी अच्छा माना जाता है। वज्रासन योग का एक बहुत ईजी आसन है। वज्रासन को करने के लिए सबसे पहले आप घुटनों के बल जमीन पर बैठ जाएं। अपने पीठ और सिर को बिल्कुल सीधा रखें। अपने दोनों पैरों के अंगूठे को साथ में मिलाएं। दोनों एड़ियों को अलग-अलग रखें। अपने नितंबों को एड़ियों पर टिकाएं। इसके बाद अपनी दोनों हथेलियों को घुटनों पर रखें। अपनी दोनों आंखें बंद करें और लंबी गहरी सांस लेते रहें। इस अवस्था में 5-10 मिनट तक बैठ रहें। अगर आपको वज्रासन में बैठने से दर्द होता है, तो आप इसे 2 मिनट के बाद भी छोड़ सकते हैं। वज्रासन में बैठने से आपके पाचन में सुधार होगा, घुटने मजबूत बनेंगे और दर्द में भी आराम मिलेगा। आप इस आसन को रोजाना कर सकते हैं। लेकिन अगर आपको घुटनों या पैरों में तेज दर्द है, तो आपको वज्रासन करने से बचना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें- रोज करें पेट के बल किए जाने वाले ये 3 आसन, बैली फैट होगा कम

2. वीरासन

वीरासन भी घुटनों के बल किए जाने वाले आसनों में से एक है। वीरासन दो शब्दों वीर और आसन से मिलकर बना है। इसमें वीर का मतलब बहादुर और आसन का मतलब बैठना होता है। यानी इस आसन में इस तरह बैठना होता है, जैसा पहले के जमाने में यौद्धा बैठते थे। इसे हीरो पोज के रूप में भी जाना जाता है। वीरासन करने से आपका मन, तन और आत्मा शांत रहती है। 

वीरासन करने के लिए सबसे पहले आप एक योग मैट बिछा लें। इस मैट पर घुटनों के बल बैठ जाएं। इसके बाद अपने दोनों हाथों को दोनों घुटनों पर रख लें। अपने दोनों घुटनों को पास-पास लाएं। फिर अपनी टखनों को जांघों से बाहर की तरफ रखें। इसके बाद धीरे-धीरे नितंब को जमीन पर रखें। अगर आपकों वीरासन करने में कोई दिक्कत हो रही है, तो आप अपने हिप्स के नीचे एक छोटा टकिया भी रख सकते हैं। इस अवस्था में कुछ देर रुकें और फिर धीरे-धीरे सामान्य स्थिति में आ जाएं। आप इस आसन को दो से तीन बार कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- पीठ के बल लेटकर रोज करें ये 3 योगासन, दर्द से मिलेगी राहत

3. मकरासन

आप घुटनों के बल बैठकर मकरासन का भी अभ्यास कर सकते हैं। इसे क्रोक्रोडाइल पोज के रूप में भी जाना जाता है। इसमें मकर का मतलब मगरमच्छ और आसन का मतलब बैठने की मुद्रा होती है। इस अवस्था में व्यक्ति मगरमच्छी की तरह शांत अवस्था में रहता है। इस आसान की रोजाना प्रैक्टिस करने से आपके घुटने मजबूत बनेंगे, आपकी इम्यूनिटी बूस्ट होगी और घुटनों के दर्द में भी आराम मिलेगा। 

मकरासन करने के लिए सबसे पहले आप साफ जमीन पर योग मैट बिछा लें। इस मैट पर पेट के बल लेट जाएं। अपने पैरों को सीधा रखें और दोनों पैरों के बीच बराबर दूरी बनाकर रखें। इसके बाद अपने सीने और सिर को ऊपर उठाएं। अपनी दोनों कोहनियों को जमीन पर रखें और हथेलियों को ऊपर की तरफ सीधा कर लें। अपनी ठोड़ी को हथेली पर रखें। दोनों आंखों को बंद कर लें और फिर धीरे-धीरे सांस लें। इससे आपका मन शांत होगा, साथ ही आपका मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य बेहतर बना रहेगा।  

आप मकरासन, वीरासन और वज्रासन का भी अभ्यास कर सकते हैं। इस आसनों को आप घुटनों के बल बैठकर कर सकते हैं। इन आसनों का अभ्यास करने से आपके घुटने मजबूत बनेंगे, आपकी पाचन क्षमता बढ़ेगी और साथ ही घुटनों के दर्द में भी आराम मिलेगा।

Disclaimer