माइंड डाइट को माना जाता है दिमाग के लिए बहुत फायदेमंद, जानें इस डाइट में क्या खाएं और क्या नहीं

माइंड डाइट में कुछ खास चीजें खाई जाती हैं, जिन्हें दिमाग के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। ये डाइट अल्जाइमर, डिमेंशिया से बचाव में भी मददगार है।

Monika Agarwal
स्वस्थ आहारWritten by: Monika AgarwalPublished at: Apr 09, 2022Updated at: Apr 09, 2022
माइंड डाइट को माना जाता है दिमाग के लिए बहुत फायदेमंद, जानें इस डाइट में क्या खाएं और क्या नहीं

डाइट का मतलब है खानपान की आदत। आपकी डाइट हमेशा ऐसी होनी चाहिए, जो आपके शरीर और दिमाग को स्वस्थ और फिट रखे। आजकल ज्यादातर लोगों ने डाइट को फिजिकल हेल्थ से जोड़कर देखना शुरू कर दिया है। जबकि आपकी मेंटल हेल्थ के लिए भी अच्छी डाइट का होना बहुत जरूरी है। कई प्रकार की डाइट अल्जाइमर, डिमेंशिया जैसी बीमारियों को ठीक करने में या उससे बचाने में भी सहायक हो सकती हैं। माइंड डाइट (Mind Diet) भी ऐसी ही एक डाइट है, जो आपके मस्तिष्क के लिए बहुत फायदेमंद मानी जाती है। माइंड डाइट मेडिटेरेनियन और डैश डाइट का एक मिला हुआ स्वरुप है। यह डाइट डिमेंशिया और दिमाग की सेहत कम होने जैसी स्थितियों से बचाने में मदद करती है। वैसे तो हर डाइट में कोई न कोई समानता पाई जाती है, लेकिन इस डाइट में केवल वही चीजें शामिल की जाती हैं जिनका दिमाग पर सही प्रभाव पड़ता है।

माइंड डाइट से दिमाग को मिलने वाले लाभ (Benefits Of Mind Diet)

माइंड डाइट में प्लांट बेस्ड फूड्स पर ज्यादा फोकस किया जाता है। यह डाइट सैचुरेटेड फैट युक्त अधिक होती है। इसमें अधिकतर बेरीज और हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल किया जाता है। फ्लेवोनॉइड्स से युक्त खाना खाने से मूड भी अच्छा रहता है। ब्लूबेरी, ब्लैक बेरी और स्ट्रॉबेरी दिमाग की सेहत को बेहतर बनाने में मदद करती हैं। आकाश हेल्थकेयर सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में सीनियर डाइटिशियन अनुजा गौर के मुताबिक केल, पालक जैसी पत्तेदार सब्जियों को खाने से इंफ्लेमेशन और ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से राहत मिलती है। यह दोनों ही अल्जाइमर के रिस्क फैक्टर होते हैं। इस डाइट के अधिकतर खाद्य पदार्थों में एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं जिसकी वजह से इंफ्लेमेशन कम होने में मदद मिलती है।

Mindful-diet

Image Credit- Freepik

माइंड डाइट में कौन कौन सी चीजें शामिल करनी चाहिए (Mind Diet Food)

1. हरी और पत्तेदार सब्जियां जैसे केल, पालक, लेट्यूस आदि की हफ्ते में 6 सर्विंग जरूर खाएं।

2. नट्स जैसे काजू, बादाम, पिस्ता आदि की हफ्ते में 5 सर्विंग जरूर खाएं।

3. बैरीज जैसे स्ट्रॉबेरी, ब्लूबेरी, रास्प बेरी, ब्लैक बेरी की हफ्ते में दो सर्विंग जरूर खाएं।

4. बींस जैसे ब्लैक बीन, पिंटो बीन, राजमा, का सेवन हफ्ते में 3 सर्विंग जरूर खाएं।

5. होल ग्रेन जैसे क्विनोआ, ओटमील, ब्राउन चावल, होल ग्रेन पास्ता और ब्रेड की भी हफ्ते में तीन सर्विंग का सेवन जरूर करें।

6. टूना, साल्मन और ट्राउट जैसी मछली का सेवन हफ्ते में एक बार जरूर करें।

7. पोल्ट्री जैसे चिकन और टर्की का भी हफ्ते में दो बार सेवन करें।

8. कुकिंग करते समय या किसी भी काम के लिए ऑलिव ऑयल का ही प्रयोग करें।

9. अल्कोहल का सेवन न करें।

इसे भी पढ़ें- अच्छी सेहत का सीक्रेट हैं ये 6 चीजें, हर किसी की डाइट में होना है जरूरी

Mindful-diet

Image Credit- FNP

माइंड डाइट के समय इन चीजों को करें सीमित (Things To Avoid)

1. रेड मीट जैसे स्टीक, ग्राउंड बीफ, पोर्क और लैम्ब आदि का सेवन हफ्ते में चार बार से ज्यादा न करें।

2. बटर और मार्ग्रिन का सेवन एक चम्मच से ज्यादा न करें।

3. मोजरेला, चेडार जैसे चीज़ को भी हफ्ते में एक ही बार खाएं।

4. केक, ब्राउनी और आइसक्रीम जैसी मीठी चीजों का सेवन हफ्ते में 5 बार ही सीमित रखें।

5. हफ्ते में एक बार ही फ्राइड फूड जैसे फ्रेंच फ्राइज़, चिकन नगेट्स, ऑनियन रिंग आदि या अपनी मन पसंद का जंक फूड खा सकते हैं।

वैसे तो माइंड डाइट में एक्सरसाइज करना शामिल नहीं लेकिन अगर आप एक्सरसाइज करना चाहते हैं तो उससे दिमाग और अधिक हेल्दी रहेगा। इससे ब्रेन तक ब्लड फ्लो में सुधार आता है। जिससे ब्रेन सेल्स को पर्याप्त पोषण मिल पाने में मदद मिलती है। एक्सरसाइज करने से याददाश्त कमजोर होने या चले जाने का भी खतरा काफी कम होता है।

Main Image Credit- Freepik
Disclaimer