Doctor Verified

एलर्जिक रिएक्शन की समस्या को नजरअंदाज करना पड़ सकता है भारी, जानें इसके लक्षण और बचाव

Allergic Reaction in Hindi: एलर्जिक रिएक्शन की समस्या कमजोर प्रतिरक्षा और गलत खानपान के कारण हो सकती है, जानें इसके लक्षण और बचाव।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Oct 18, 2022 12:34 IST
एलर्जिक रिएक्शन की समस्या को नजरअंदाज करना पड़ सकता है भारी, जानें इसके लक्षण और बचाव

Allergic Reaction in Hindi: शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली जब किसी बाहरी वायरस या बैक्टीरिया के आक्रमण के खिलाफ कमजोर पड़ जाती है, तो आप इनका शिकार हो जाते हैं। आमतौर पर हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली उन वायरस और बैक्टीरिया पर आक्रमण करती है, जो शरीर के लिए खतरा होते हैं। लेकिन जब ऐसे वायरस या पदार्थ जो शरीर के लिए खतरा नहीं माने जाते हैं, उनकी वजह से आपके शरीर को नुकसान पहुंचता है, तो यह एलर्जी का कारण बन जाता है। अगर आपको एलर्जी की समस्या है तो आपको खानपान, लाइफस्टाइल और साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। किसी भी तरह की चीज को छूने, खाने या पहनने से पहले आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वह आपके शरीर में एलर्जिक रिएक्शन पैदा कर सकता है या नहीं। एलर्जिक रिएक्शन की समस्या किसी को भी हो सकती है और खानपान आदि की वजह से यह ट्रिगर हो सकती है। आइए विस्तार से जानते हैं इसके बारे में।

क्या है एलर्जिक रिएक्शन की समस्या?- What is Allergic Reaction in Hindi

शरीर का इम्यून सिस्टम या प्रतिरक्षा प्रणाली आपको बैक्टीरिया या वायरस के अटैक से बचाने का काम करते हैं। लेकिन जब ऐसे पदार्थ आपके इम्यून सिस्टम से बचकर शरीर में प्रवेश कर जाते हैं, तो इसकी वजह से आपको एलर्जिक रिएक्शन का सामना करना पड़ता है। उदाहरण के लिए कुछ लोगों को खाद्य पदार्थों से एलर्जी होती है, तो कुछ लोगों को धूल, मिट्टी या किसी विशेष सुगंध से एलर्जी होती है। इन खाद्य पदार्थों या ऐसी चीजों के जरिए जब ये वायरस या बैक्टीरिया शरीर में प्रवेश करते हैं, तो आपकी समस्याएं बढ़ जाती हैं। बाबू ईश्वर शरण सिंह हॉस्पिटल के सीनियर फिजिशियन डॉ समीर कहते हैं कि शरीर में वायरस या बैक्टीरिया के जाने पर बचाव के लिए प्रतिरक्षा एंटी-बॉडी का निर्माण होता है। इन एंटी-बॉडी का काम शरीर में एलर्जी या वायरस के अटैक को कम करना या रोकना है। जब आपकी एंटी-बॉडी ऐसे पदार्थों को पहचान नहीं पाती है, तो एलर्जिक रिएक्शन की स्थिति बनती है।

Allergic Reaction in Hindi

इसे भी पढ़ें: जमीन पर खड़े होते ही आने लगता है चक्कर? हो सकती है ग्रेविटी एलर्जी, जानें इसके बारे में

एलर्जिक रिएक्शन के कारण- What Causes Allergic Reaction in Hindi

एलर्जिक रिएक्शन की समस्या कई कारणों से हो सकती है। इसके पीछे कोई एक कारण जिम्मेदार नहीं होता है। कुछ लोगों में एलर्जिक रिएक्शन की समस्या आनुवांशिक कारणों से होती है, तो वहीं कुछ लोगों में यह समस्या कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली के कारण होती है। आमतौर पर एलर्जिक रिएक्शन की समस्या इन कारणों से ट्रिगर होती है-

  • जानवरों या पालतू जानवर के बाल
  • खाद्य पदार्थ जैसे नट्स, मूंगफली, दूध, अंडे और गेहूं
  • कुछ दवाओं के सेवन के कारण
  • आनुवांशिक कारणों से
  • फूलों के पराग के कारण
  • मधुमक्खी के डंक मारने से
  • धूल, मिट्टी और प्रदूषण
  • कीड़े के काटने से

एलर्जिक रिएक्शन के लक्षण- Allergic Reaction Symptoms in Hindi

एलर्जिक रिएक्शन की समस्या में दिखने वाले लक्षण हर व्यक्ति में अलग-अलग हो सकते हैं। इसके लक्षण कुछ लोगों में बहुत कम दिखाई देते हैं, लेकिन गंभीर रूप से एलर्जिक रिएक्शन होने पर दिखने वाले लक्षण गंभीर हो सकते हैं। एलर्जिक रिएक्शन की समस्या में दिखने वाले कुछ प्रमुख लक्षण इस तरह से हैं-

  • स्किन पर खुजली, लाल चकत्ते
  • एलर्जिक राइनाइटिस
  • नाक बंद होना, छींक आना
  • आंख में दर्द और पानी आना
  • पेट में दर्द और ऐंठन
  • दस्त और उल्टी
  • सीने में जकड़न
  • भोजन करने में परेशानी 
  • चिंता और घबराहट
  • सांस लेने में दिक्कत
  • चेहरे, आंखों या जीभ में सूजन
  • चक्कर आना

एलर्जिक रिएक्शन से बचाव के टिप्स- How To Prevent Allergic Reactions?

एलर्जिक रिएक्शन की समस्या के लक्षण दिखने पर आपको डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए। इसके अलावा खानपान और रहन-सहन से जुड़ी आदतों में बदलाव कर आप इस समस्या का शिकार होने से बच सकते हैं। एलर्जिक रिएक्शन की समस्या से बचने के लिए आपको एलर्जेन के संपर्क में आने से बचना चाहिए। इसके अलावा ऐसे पदार्थ जिनसे एलर्जी ट्रिगर होती है उनके संपर्क में आने से बचें।

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer