दो बच्चों के बाद कभी 80 Kg था वजन, अब वजन घटाकर अपनी उम्र से आधी दिखती है ये महिला, जानें कैसे पाया टोन्‍ड फिग

गुरूग्राम की रहने वाली पूजा दो बच्चों की मां हैं। 80 किलो वजन बढ़ जाने के बावजूद इन्होंने बिना जिम या डाइटिंग के, सिर्फ 5 बदलाव करके 11 किलो वजन घटाया

Naina Chauhan
Written by: Naina ChauhanPublished at: Nov 27, 2020Updated at: Nov 27, 2020
दो बच्चों के बाद कभी 80 Kg था वजन, अब वजन घटाकर अपनी उम्र से आधी दिखती है ये महिला, जानें कैसे पाया टोन्‍ड फिग

एक गृहणी के लिए उसका परिवार ही सब कुछ होता है यही कारण है कि ज्यादातर हाउस वाइफ फैमिली के आगे अपनी सेहत का ध्यान नहीं रख पाती हैं। उनका सारा ध्यान अपने पति और बच्चों पर केन्द्रित हो जाता है। कभी-कभार अगर वे अपने बारे में सोचती भी हैं तो अन्य जिम्मेदारियों के चलते पीछे हट जाती हैं। लेकिन आज हम आपके लिए ऐसी महिला की कहानी लाए हैं, जिन्होंने अपने घर की जिम्मेदारियों के साथ अपनी सेहत की जिम्मेदारी को भी समझा और बिना जिम या फिटनेस सेंटर जाए अपना वजन घटाकर अन्य महिलाओं के लिए एक मिसाल पेश की है। ये है गुरूग्राम की रहने वाली मिसेज पूजा पाल सिंह की वेट लॉस स्टोरी (Weight Loss Story), जिन्होंने दो बच्चे होने के बाद और 80 किलो वजन बढ़ जाने के बावजूद अपने आपको फिट रखने का जज्बा दिखाया। पूजा ने बिना जिम जाए और बिना किसी डाइटिंग किए सिर्फ योग और वॉकिंग की मदद से अपना वजन 11 किलो घटाया है। तो आइए आपको बताते हैं कि पूजा ने अपना वजन कैसे घटाया और कैसे आप उनसे इंस्पिरेशन लेकर घर पर रहकर भी खुद को फिट रख सकती हैं।

 insidereal

वर्ष 2015 में किया स्वयं को सेल्फ मोटीवेट:

 इसे भी पढ़ें : Fat to Fit : बैंक की नौकरी छोड़कर फिटनेस की दुनिया में लोगों के लिए इंस्पेरेशन बन रही हैं मिसेज निशा खजुरिया

कहा जाता है सेल्फ मोटिवेशन से व्यक्ति अपनी पूरी जिंदगी बदल सकता है तो कुछ ऐसी ही कहानी ही मिसेज पूजा पाल सिंह जी की। कई बार जब हमारा शरीर थुलथुला हो जाता है तो हमारा कॉन्फिडेंस खत्म होने लगता है। लेकिन अगर खुद को मोटीवेट किया जाये तो स्वयं को फिट रखना मुश्किल नहीं है। और पूजा इसका उदहारण हैं। इन्होंने 2015 में स्वयं को वजन कम करने के लिए सेल्फ मोटीवेट किया और इसके लिए दृढ़ निश्चय किया। पूजा 2 बच्चों की मां हैं इसलिए उनकी देखरेख और घर-परिवार के कामों के बाद उनके पास इतना समय नहीं बचता था कि वो जिम जा सकें। घर में बच्चे होने के कारण डाइटिंग भी पॉसिबल नहीं थी क्योंकि बिना तेल-मसाले वाला खाना बच्चों को बोरिंग लगता था और बच्चों की अलग-अलग डिमांड्स रहती थीं।

इन परिस्थितियों में भी पूजा को अपनी फिटनेस का ख्याल आया, तो उन्होंने घर के कामों को स्मार्टली मैनेज करते हुए दिन में अपने लिए 2 घंटे का समय निकाला और अपना एक रूटीन निश्चित किया। और बच्चों के साथ स्वयं के लिए समय निकालना बहुत मुश्किल होता है लेकिन इसके बाद भी पूजा जी ने स्वयं के लिए समय निकाला और वॉक एवं योग को अपने जीवन का हिस्सा बनाया। और धीरे-धीरे उन्हें स्वयं में फर्क नज़र आने लगा, जिससे वे काफी मोटीवेट हुई और उन्होंने इससे जारी रखा। तो चलिए देखते हैं वजन कम करने के इस सफ़र में पूजा जी ने क्या-क्या अपनाया। खास बात यह है कि अक्सर हममें से ज्यादातर लोग ऐसे रूटीन बनाते हैं, लेकिन उस पर लंबे समय तक टिके नहीं रह पाते हैं। लेकिन पूजा ने अपने फिटनेस के जज्बे को कायम रखते हुए इस रूटीन को जारी रखा।

insideweightloss

घर पर किया सिंपल वर्कआउट

  • 1. सुबह 1 घंटे की वॉक एवं शाम को 1 घंटे की वॉक।
  • 2. इसके साथ ही घर पर ही हल्का-फुल्का वर्कआउट शुरू किया, जिसमें इन्होंने योग को विशेष महत्व दिया।

रोज के खाने में किए छोटे-छोटे बदलाव

पहले पूजा अपने खाने के बारे में ज्यादा नहीं सोचती थीं। बच्चों के थोड़ा बड़े हो जाने के बाद तो उन्हें अपने खानपान के बारे में सोचने का मौका ही नहीं मिलता था। उस पर मजेदार बात ये है कि पूजा को कुकिंग का शौक है। इसलिए पूजा अक्सर ही अपनी फैमिली के लिए कुछ न कुछ बनाती रहती थीं और खुद भी खाती थीं। लेकिन जब पूजा को अपने आपको फिट रखने का एहसास हुआ, तो उन्होंने अपने खाने में बस कुछ छोटे-छोटे बदलाव किए और उन्हें इनका रिजल्ट देर से ही सही, लेकिन दिखा। 

    • उन्होंने रात के खाने में मीठी चीजों की मात्रा बहुत कम कर दी।
    • दिन की शुरुआत सादे पानी से की। पूजा सुबह उठकर खाली पेट 1 बड़ा ग्लास पानी पीती हैं।
    • खाने में रोटी-सब्जी से ज्यादा सलाद का सेवन शुरू कर दिया।

बस ये तीन बदलाव और रेगुलर वॉक और योगासन की मदद से पूजा ने कुछ समय में ही अपना वजन 11 किलो तक कम कर लिया। यही कारण है कि पूजा उन सभी गृहणियों के लिए एक उदाहरण हैं, जो समय की कमी के कारण अपने आपको फिट न रख पाने का दोष देती हैं। आप भी पूजा की इस फिटनेस स्टोरी से इंस्पिरेशन लेकर अपने डेली रूटीन में कुछ छोटे-छोटे बदलाव कीजिए। याद रखें फिट शरीर ही आपके स्वस्थ जीवन का आधार है। आप इस रियल वेट लॉस स्टोरी को अपने दोस्तों और फैमिली के लोगों के साथ भी शेयर करें, ताकि वो भी इंस्पायर हो सकें। वेट लॉस से जुड़ी ऐसी ही और भी दिलचस्प कहानियों और टिप्स के लिए जुड़े रहें ओनलीमायहेल्थ के साथ।

Read More Article On Fitness In Hindi

Disclaimer