धीरे-धीरे वॉक करने के बजाय तेज गति से सिर्फ 7 मिनट पैदल चलें, 30% तक कम हो जाएगा जल्दी मौत का खतरा

रोजाना सिर्फ 7 मिनट भी तेज गति से पैदल चल लेते हैं, तो आपके जल्दी मृत्यु की संभावना 30% तक कम हो जाती है। जानें वॉक करने से क्या-क्या फायदे मिलते हैं।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavUpdated at: Aug 18, 2020 10:38 IST
धीरे-धीरे वॉक करने के बजाय तेज गति से सिर्फ 7 मिनट पैदल चलें, 30% तक कम हो जाएगा जल्दी मौत का खतरा

मॉर्निंग वॉक (Morning Walk) के नाम पर पार्क या रोड पर आपने लोगों को धीरे-धीरे मस्ती में चलते हुए, एक-दूसरे से बात करते हुए चलते हुए जरूर देखा होगा। अगर आप भी ऐसे ही वॉक (Walking) करते हैं, तो समझ लें कि इस तरह धीरे-धीरे चलने (Slow Walking) से आपको वॉक करने के वो सभी लाभ नहीं मिलते हैं, जिनकी उम्मीद में आप रोज वॉक करने निकल पड़ते हैं। वॉकिंग एक बेहतरीन एक्सरसाइज (Exercise) है, खासकर उन लोगों के लिए जो और कुछ नहीं कर सकते हैं। रोजाना 30-40 मिनट की वॉक करने से आपका शरीर स्वस्थ रह सकता है। लेकिन शरीर को ज्यादा से ज्यादा फायदा मिले, इसके लिए जरूरी है कि आप सही तरीके से वॉक करें। हाल में ही कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के हेल्थ एक्सपर्ट्स ने 96,476 ब्रिटिश लोगों पर एक शोध किया और उसी के आधार पर वॉकिंग से जुड़ी कुछ दिलचस्प बातें बताई हैं।

brisk walk benefits for health

तेज गति से चलना शरीर के लिए ज्यादा फायदेमंद (Brisk Walking Has More Health Benefits)

इस शोध को करने वाले एक्सपर्ट्स के अनुसार अगर बात लंबे और स्वस्थ जीवन की आती है, तो एक्सरसाइज तो बेहद जरूरी है ही, साथ ही एक्सरसाइज की इंटेंसिटी (गति) भी बहुत मायने रखती है। इसका अर्थ है कि कोई भी एक्सरसाइज तेज गति से की जाए, तो उसका लाभ शरीर को ज्यादा मिलता है। एक्सपर्ट्स की इस रिपोर्ट के अनुसार अगर आप 12 मिनट ढुलमुल गति से (धीरे-धीरे) चलते हैं, तो इसके बजाय यदि 7 मिनट तेज गति से पावर वॉक कर लें, तो आपके जल्दी मौत होने की संभावना 30% तक कम हो जाएगी। शोधकर्ताओं ने अपने इस रिसर्च पेपर में बताया कि हाई वॉल्यूम एक्टिविटी से एनर्जी ज्यादा खर्च होती है, जिससे मॉर्टैलिटी (मृत्यु की संभावना) कम हो जाती है।

इसे भी पढ़ें: पैदल चलना क्यों है सबसे आसान और फायदेमंद एक्सरसाइज? जानें 5 मिनट से 40 मिनट तक पैदल चलने के 5 फायदे

आसान भाषा में समझें, क्या कह रहे हैं एक्सपर्ट्स

यहां यह ध्यान देना जरूरी है कि एक्सपर्ट्स क्या कहना चाहते हैं। इस रिसर्च के द्वारा एक्सपर्ट्स का यह कहना है कि मान लीजिए आप 200 कैलोरीज बर्न करने के लिए 5 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से 1 घंटे तक चलते हैं, तो यही 200 कैलोरीज बर्न करने के लिए अगर आप 8 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से सिर्फ 40 मिनट भी चलें, तो आपको 1 घंटे धीमी गति से चलने के मुकाबले, 40 मिनट तेज गति से चलना ज्यादा फायदा पहुंचाएगा।

तेज गति से चलने से कैसे कम हो जाता है जल्दी मौत का खतरा? (Walking Prevents Early Death Risk)

अगर आप रोजाना 30-40 मिनट तेज गति से पैदल (ब्रिस्क वॉक) चलते हैं, तो इससे आपके शरीर को ढेर सारे लाभ मिलते हैं, जिनके कारण आपको कई बीमारियां होने की संभावना कम हो जाती है। रिपोर्ट्स बताती हैं कि दुनियाभर में सबसे ज्यादा मौतें इन्हीं बीमारियों के कारण होती हैं, इसलिए अगर आप इन बीमारियों के खतरे को कम कर लेते हैं, तो अप्रत्यक्ष रूप से आपकी जिंदगी बढ़ती ही है।

इसे भी पढ़ें: क्या खाना खाने के बाद थोड़ी देर टहलने से सच में नहीं बढ़ता वजन? जानें खाने के बाद कितने कदम चलना चाहिए आपको

health benefits of walking in hindi

पैदल चलने के स्वास्थ्य लाभ ( (Health Benefits of Walking Daily)

मायो क्लीनिक के अनुसार तेज गति से पैदल चलने से आपको निम्न लाभ मिलते हैं।

  • आपका वजन नियंत्रित रहता है और हेल्दी वजन मेनटेन करने में आपको मदद मिलती है।
  • हार्ट अटैक, हाई ब्लड प्रेशर, टाइप 2 डायबिटीज आदि गंभीर और जानलेवा बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।
  • आपकी हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत बनती हैं।
  • आपका मूड सही रहता है और स्ट्रेस कम होता है।
  • आपके शरीर में बैलेंस और पोश्चर अच्छा होता है।

ध्यान रखें आप जितनी तेजी से पैदल चलेंगे, आपको उतने ज्यादा स्वास्थ्य लाभ होंगे।

Read More Articles on Health News in Hindi

Disclaimer