वजन घटाने और दिल की बीमारियों को दूर रखने में मददगार है ब्रिस्‍क वॉकिंग, जानें तरीका और फायदे

ब्रिस्‍क वॉकिंग आपके वजन को कम करने और दिल की बीमारियों को दूर रखने में मददगार हैैै। 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtUpdated at: Dec 17, 2019 15:30 IST
वजन घटाने और दिल की बीमारियों को दूर रखने में मददगार है ब्रिस्‍क वॉकिंग, जानें तरीका और फायदे

जिंदगी भाग-दौड़ मे हर कोई इतना व्‍यस्‍त है कि जिसमें लोगों के पास कसरत करने के लिए भी समय निकाल पाना मुश्किल होता है। इसके अलावा, लंबे समय तक काम करने से आप शरीरिक और मानसिक रूप से इतना थक जाते हैं, कि आप एक्‍सरसाइज के लिए समय ही नहीं निकाल पाते। शायद यही वजह है कि ब्रिस्‍क वॉकिंग लोगों के बीच धीरे-धीरे एक लोकप्रिय एक्‍सरसाइज का ऑप्‍शन के रूप में उभर रहा है। 

ब्रिस्‍क वॉकिंग क्‍यों जरूरी है? 

ब्रिस्‍क वॉकिंग यानि तेज चलना, यह बाकी प्रकार की एक्‍सरसाइज के विपरीत है, जिनमें बहुत अधिक पैराफर्नेलिया की आवश्यकता होती है। वॉकर को जाने के लिए केवल अच्छे जूते की आवश्यकता होती है, इसके अलावा, आपको तेज़-गति से चलना होता है। ब्रिस्‍क वॉकिंग यानि तेज चलना आपको एक पसीने में तोड़ देता है और इसे सबसे अच्छे कार्डियो वर्कआउट में से एक माना जाता है। 

इसके अलावा, आप इसे दिन के किसी भी समय कर सकते हैं क्‍योंकि इसके लिए कोई 'वर्कआउट टाइम' की आवश्यकता नहीं है। आपके चलने की गति को तेज करने वाली यह एक्‍सरसाइज आपके दिल और फेफड़ों को चुनौती देने के लिए बेहतर है। 

Brisk-walk

यह कैसे किया जाता है?

ब्रिस्क वॉकिंग के बारे में बहुत सारे कंफ्यूजन या बहुत से भ्रम हैं। कुछ लोग सोचते हैं कि तेज गति से चलना सामान्य से तेज है। लेकिन असल में व्यायाम के इस रूप को समझने के लिए, आपको अपनी हृदय गति को लक्षित करने की आवश्यकता होती है। 

इसे भी पढें:  वजन घटाने में कितना फायदेमंद है तबाता वर्कआउट(Tabata Workout), जानें इसके फायदे और करने का तरीका

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार, मध्यम तीव्रता वाले व्यायाम के लिए आपकी लक्षित हृदय गति अधिकतम 50 से 70 प्रतिशत है, और जोरदार गतिविधि के लिए आपकी लक्षित हृदय गति लगभग 70 से 85 प्रतिशत है।

दिल की अधिकतम दर 220 बीट प्रति मिनट (बीपीएम) होती हैहै। अपनी हृदय गति को मापने के लिए अपनी तर्जनी और बीच की उंगली का उपयोग करें, उन्हें कलाई पर रखकर अपनी नाड़ी महसूस करें और बीट्स की संख्या गिनें। 30-वर्ष के आयु वर्ग के लोगों के लिए लक्ष्य 95-162 बीपीएम होना चाहिए।

आप टॉक टेस्ट भी कर सकते हैं, जिससे आपको चलते समय अपने बातों को समझना होगा। यदि आप बात करते समय थोड़ा सांस लेते हैं, तो आप मध्यम गति से चल सकते हैं। और यदि आप पूरी तरह से सांस से बाहर हैं, तो आपकी गति संभवतः तेज है।

इसे भी पढें: चाहते हैं चौड़ी छाती और अच्‍छी मसल्‍स, तो रोजाना करें ये 4 अपर बॉडी वर्कआउट्स

ब्रिस्क वॉकिंग के फायदे 

ब्रिस्क वॉकिंग किसी भी प्रकार की शारीरिक गतिविधि के समान ही वजन घटाने में मददगार है। 

वहीं ब्रिस्क वॉकिंग यानि तेज चलना, यह भी सुनिश्चित करता है, आपकी कैलोरी बर्न हो और ज्‍यादा से ज्‍यादा एक्‍सट्रा फैट कम हो।

तेज चलना दिल की बीमारियों के खतरे को कम करने में मदद कर सकता है, बशर्ते इसे सप्ताह में कम से कम पांच दिन किया जाए।

ब्रिस्क वॉकिंग आपके ब्‍लड शुगर को कम करने और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करने में भी मदद करता है।

Read More Article On Exercise And Fitness In Hindi 

Disclaimer