Doctor Verified

प्रेगनेंसी में लापरवाही से हो जाता है यूटीआई, न दोहराएं ये 5 आदतें

UTI During Pregnancy: प्रेगनेंसी में यूटीआई होने के पीछे कुछ गलत आदतें हो सकती हैं। जानते हैं इनके बारे में।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Dec 02, 2022 14:57 IST
प्रेगनेंसी में लापरवाही से हो जाता है यूटीआई, न दोहराएं ये 5 आदतें

प्रेगनेंसी का दौर नाजुक होता है। इस दौरान क‍िसी भी तरह का इंफेक्‍शन, शरीर पर बुरा प्रभाव डाल सकता है। प्रेगनेंसी में होने वाला एक संक्रमण है यूटीआई। यूटीआई का अर्थ है यूर‍िनरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन। यूटीआई मूत्रमार्ग में होने वाला इंफेक्‍शन है। इससे ब्‍लैडर और यूरेथ्रा और क‍िडनी आद‍ि भी प्रभाव‍ित होती है। ये एक तरह का बैक्‍टीर‍ियल इंफेक्‍शन है जो ई कोलाई बैक्‍टीर‍िया के कारण होता है। प्रेगनेंसी में यूटीआई की समस्‍या, 20 से 50 वर्ष की उम्र में ये समस्‍या मह‍िलाओं को ज्‍यादा होती है। प्रेगनेंसी में यूटीआई, 6 से 24वे हफ्ते के बीच में ज्‍यादा होने का खतरा रहता है। प्रेगनेंसी में यूटीआई की समस्‍या होने के पीछे 5 गलत आदतें हो सकती हैं। जानते हैं इन आदतों के बारे में। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।   

uti infection in women

प्रेगनेंसी में यूटीआई है हान‍िकारक  

प्रेगनेंसी में यूटीआई होने पर क‍िडनी प्रभाव‍ित हो सकती है। क‍िडनी प्रभाव‍ित होने से अर्ली ड‍िलीवरी या समय से पूर्व ड‍िलीवरी का खतरा बढ़ जाता है। प्रेगनेंसी में यूटीआई, गर्भस्‍थ श‍िशु को भी प्रभाव‍ित करता है। यूटीआई के कारण श‍िशु का वजन कम रह जाएगा और उसे जन्‍म के समय कई बीमार‍ियों का खतरा बढ़ सकता है। प्रेगनेंसी में आपको इन 5 गलत आदतों से बचना चाह‍िए-      

1. साफ अंडरगार्मेंट्स न पहनना 

हर क‍िसी को साफ और आरामदायक फैब्र‍िक वाले अंडरगार्मेंट्स पहनने चाह‍िए। ठंड हो या गरम मौसम, आपको कॉटन की पैंटी ही पहनना चाह‍िए। कई मह‍िलाएं, साफ अंडरगार्मेंट्स नहीं पहनती ज‍िसके कारण प्रेगनेंसी में यूटीआई हो जाता है। इसके अलावा आपको कठोर साबुन के प्रयोग से भी बचना चाह‍िए। इनमें मौजूद केम‍िकल्‍स, यूटीआई को बढ़ावा देते हैं।     

इसे भी पढ़ें- क्यों बढ़ जाती है गर्भावस्था में यूटीआई की आशंका? लक्षण और बचाव बता रही हैं एक्सपर्ट         

2. पेशाब रोकने की आदत 

अगर आप पेशाब रोकती हैं, तो इस आदत को तुरंत छोड़ दें। यूर‍िन इंफेक्‍शन का खतरा सबसे ज्‍यादा उन मह‍िलाओं को होता है जो लंबे समय तक वॉशरूम नहीं जाती। प्रेगनेंसी में मूत्र मार्ग और वजाइनल एर‍िया को साफ रखें। इससे कीटाणु अंदर नहीं जाएंगे और आप संक्रमण से बच जाएंगी।     

3. प्रेगनेंसी में सफाई का ख्‍याल न रखना  

प्रेगनेंसी के दौरान सफाई का ध्‍यान रखने से आप कई संक्रम‍ित रोगों से शरीर का बचाव कर सकती हैं। ज्‍यादा सफाई की आदत नहीं है, तो प्रेगनेंसी में आसानी से बीमारी की चपेट में आ सकती है। प्रेगनेंसी में सफाई का ख्‍याल न रखने से त्‍वचा रोग, बैक्‍टीर‍ियल संक्रमण जैसे यूटीआई और अन्‍य संक्रमण हो जाते हैं। रोजाना स्नान नहीं ले सकतीं, तो शरीर को साफ रखने के ल‍िए स्‍पंज की मदद लें।        

4. सार्वजन‍िक शौचालयों में ज्‍यादा जाना 

प्रेगनेंसी में लंबी यात्रा से बचें ताक‍ि आपको सार्वजन‍िक शौचालयों का प्रयोग न करना पड़े। सार्वजन‍िक शौचालयों में जाने से मह‍िलाओं को यूटीआई होने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। अगर मजबूरी में सार्वजन‍िक शौचालय का प्रयोग करना भी पड़े, तो अपने साथ टॉयलेट सीट सैनेटाइजर रखें। इसके इस्‍तेमाल से यूटीआई के खतरे को कम कर सकते हैं।  

5. प्रेगनेंसी में चाय-कॉफी का ज्‍यादा सेवन करना 

अगर चाय या कॉफी लवर हैं, तो आपको बता दें प्रेगनेंसी में कैफीन का ज्‍यादा सेवन नहीं करना चाह‍िए। कैफीन के कारण मूत्र मार्ग में जलन हो सकती है। कैफीन के ज्‍यादा सेवन से ड‍िहाइड्रेशन की समस्‍या होती है। ड‍िहाइड्रेशन के कारण आप जल्‍दी यूटीआई की चपेट में आ सकती हैं।

ऊपर बताई इन 5 आदतों को छोड़ देंगी, तो प्रेगनेंसी में यूटीआई की समस्‍या से बच सकती हैं। लेख पसंद आया हो, तो शेयर करना न भूलें।     

Disclaimer