Home Remedies: कमर या कंधे के दर्द में आजमाएं ये 5 उपाय, तुरंत रिलैक्‍स होंगी मसल्‍स और मिलेगा आराम

Home Remedies: एक्‍सरसाइज या भारी वजन उठाने से कमर अकड़ जाए या कंधे दर्द करने लगें, तो मसल्‍स को रिलैक्‍स करने के लिए ये उपाय आजमाएं। 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtUpdated at: Dec 05, 2019 13:34 IST
Home Remedies: कमर या कंधे के दर्द में आजमाएं ये 5 उपाय, तुरंत रिलैक्‍स होंगी मसल्‍स और मिलेगा आराम

कई बार आप अपनी मसल्‍स में एक जकड़न या खिंचाव महसूस करते होंगे। मांसपेशियों में खिंचाव की वजह से दर्द होना काफी आम है और यह शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है। मांसपेशियों की जकड़न या सूजन को मांसपेशियों में ऐंठन भी कहा जाता है और यह कई कारणों से हो सकता है। जैसे लंबे समय तक एक ही स्थिति में बैठे रहना, दौड़ना, व्यायाम करनाया फिर कुछ भारी समान उठा लेना। इतना ही नहीं गर्भवती महिलाओं के शरीर के वजन में अचानक वृद्धि के कारण भी इस स्थिति का खतरा होता है। वास्तव में मांसपेशियों में ऐंठन काफी दर्दनाक होती है और इस वजह से ज्यादातर लोग राहत के लिए दवाओं का विकल्प चुनते हैं। लेकिन यहां हम आपको मसल्‍स के स्‍ट्रेस को कम करने और उन्‍हें रिलैक्‍स करने के लिए कुछ प्राकृतिक उपचार बता रहे हैं, जो आपके दर्द को कम करने और राहत प्रदान करने में मदद कर सकते हैं। 

Heat and Cold Therapy

हीट और कोल्‍ड थेरेपी 

हीट और कोल्‍ड थेरेपी लेने से आपकी मसल्‍स को आराम मिलता है और मांसपेशियों की जकड़न कम हो सकती है। यदि मांसपेशियों में खिंचाव की वजह से जकड़न है, तो सूजन को कम करने के लिए पहले 24 से 48 घंटों के लिए कोल्‍ड थेरेपी की सलाह दी जाती है। इसके बाद आप ब्‍लड सर्कुलेशन को बढ़ाने और उपचार प्रक्रिया को तेज करने के लिए दर्द वाले हिस्‍से पर गर्म सेक ले सकते हैं। (तनाव को दूर करने और त्‍वचा को चमकदार बनाए रखने में मददगार है कैंडल मसाज थेरेपी)

Turmeric

हल्‍दी 

हल्दी में करक्यूमिन नामक एक प्राकृतिक रासायनिक यौगिक पाया जाता है। इसमें एंटी इंफ्लामेटरी गुण होते हैं, जो एक एक गहन कसरत के बाद लेने से आपकी मसल्‍स रिलैक्सिंग में मददगार है। इसलिए यदि आप एक्‍सरसाइज के बाद हल्दी वाला दूध पीते हैं, तो आपकी मांसपेशियों को आराम करने में मदद मिलती है। लेकिन स्तनपान कराने या गर्भवती महिलाओं को बहुत अधिक करक्यूमिन के सेवन से बचना चाहिए।

इसे भी पढें: इन 5 समस्याओं में बेहद फायदेमंद है हल्‍दी, घी और काली मिर्च का ये चमत्कारी मिश्रण, जानें सेवन का तरीका 

एसेंशियल ऑयल मसाज

मालिश करने से मांसपेशियों का तनाव कम हो जाता है, लेकिन अगर यह मसाज एसेंशियल ऑयल के साथ की जाए, तो यह और भी प्रभावी है। मांसपेशियों की जकड़न में आराम के लिए आप पुदीने और लेमनग्रास ऑयल का उपयोग करें। यह दो सबसे प्रभावी एसेंशियल ऑयल हैं, जो आपको दर्द से राहत दे सकते हैं। अध्ययनों से पता चलता है कि ये तेल सूजन को कम करते हैं, दर्द से राहत देने के लिए सबसे अच्‍छा विकल्‍प हैं।

Essential Oil For Relaxing Muscles

ब्लूबेरी

ब्लूबेरी एंटीऑक्सिडेंट और पॉलीफेनोल से भरपूर फल है। इसमें एंटी इंफ्लामेटरी गुण होते हैं, जो आपके डैमेज टिश्‍यू की रिकवरी में सहायक होते हैं। अध्ययन बताते हैं कि वर्कआउट से पहले और बाद ब्लूबेरी स्मूदी पीने से क्षतिग्रस्त ऊतकों की मरम्‍मत में लगने वाले समय में कमी आ सकती है।

इसे भी पढें: तनाव ही नहीं वजन घटाने के लिए भी फायदेमंद हैं इन 5 एसेंशियल ऑयल से मालिश

Cherry Juice  

चेरी जूस 

चेरी का जूस एंटीऑक्सिडेंट और विरोधी इंफ्लामेटरी कंपाउंड्स के साथ पैक है, जो मांसपेशियों को आराम करने के लिए उत्कृष्ट माना जाता है। इसलिए चेरी का रस पीने से मसल्‍स में होने वाले दर्द को दूर करने और क्षतिग्रस्त ऊतकों की मरम्मत में मदद मिलती है। इसीलिए एथलिटिक्‍स को मैराथन दौड़ने के बाद चेरी का रस पीने की सलाह दी जाती है क्‍योंकि इससे दर्द को कम करने में मदद मिल सकती है।

Read More Article On Home Remedies In Hindi 

Disclaimer