डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए इन 3 तरीकों से करें त्रिफला का सेवन, जानें शुगर के मरीजों को मिलने वाले खास फायदे

डायबिटीज में आप त्रिफला को दिन के अलग-अलग समय में इन खास तरीकों से ले सकते हैं। इसे खाने से आप मोटापा और दिल की बीमारियों से भी बचे रहेंगे।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Sep 06, 2021
डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए इन 3 तरीकों से करें त्रिफला का सेवन, जानें शुगर के मरीजों को मिलने वाले खास फायदे

त्रिफला कुछ औषधीय गुणों से भरपूर है जो कि आपके स्वास्थ्य को कई तरह से फायदे पहुंचाता है। पर क्या आपने डायबिटीज में त्रिफला के फायदे (Triphala for diabetes) के बारे में जाना है। अगर नहीं तो, आज हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं। दरअसल, त्रिफला काली हरड़, बहेड़ा और आंवले से बना होता है। ये तीनों ही डायबिटीज के मरीजों के लिए अलग-अलग तरह से फायदेमंद है। हरड़ और बहेड़ा जहां पाचन एंजाइमों को रेगुलेट करता है वहीं आंवला एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर है जो कि ब्लड शुगर को संतुलित रखने में मदद करता है। इसलिए जब हम त्रिफला को लेते हैं तो, इसके अलग-अलग गुण डायबिटीज कंट्रोल करने के साथ दिल की बीमारियों से बचे रहने में मदद करते हैं। तो , आइए विस्तार से जानते हैं डायबिटीज में त्रिफला को लेने का खास तरीका और इसके फायदे (triphala churna benefits for diabetes)

Inside1triphalafordiabetes

image credit: Veda Wellness

डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए त्रिफला लेने का तरीका-How to take triphala for diabetes

1. सुबह पिएं त्रिफला का काढ़ा

त्रिफला का काढ़ा यूं तो सबके लिए फायदेमंद है पर डायबिटीज के मरीजों के लिए ये खास तौर पर फायदेमंद है। आपको इस काढ़े को कुछ खास तरीके से बनाना है जैसे कि

  • -रात में लोहे के एक बर्तन में त्रिफला डालें और इसमें 1 कप पानी मिला लें। 
  • -इस पेस्ट को लोहे के बर्तन में रात भर छोड़ दें।
  • - सुबह इस पेस्ट को निकालें, इसमें शहद और पानी मिलाएं।
  • - इस काढ़े को रोज सुबह खाली पेट पिएं।

2. दोपहर में छाछ के साथ 

छाछ में त्रिफला मिलाकर पीने के फायदे बहुत हैं। ये काफी पुराना नुस्खा भी है। इससे पेट साफ होता है जिससे डायबिटीज में कब्ज की समस्या से निजात मिलता है। त्रिफला की एक खास बात ये भी है कि ये मेटाबोलिज्म को सही रखता है और आप जो भी खाते हैं उसे पचाने में मदद करता है। इसलिए डायबिटीज के मरीजों को दोपहर में खाना खाने के बाद 1 गिलास छाछ में 1 चम्मच त्रिफला मिला कर जरूर लेना चाहिए।

इसे भी पढ़ें : डायबिटीज के मरीज खाएं ये 5 हेल्दी स्प्राउट्स, ब्लड शुगर रहेगा कंट्रोल और दूर होंगी कब्ज, अपच जैसी कई समस्याएं

3. रात में देसी घी के साथ

देसी घी में त्रिफला मिला कर इसे गर्म पानी के साथ लेना बहुत ही फायदेमंद है। इसलिए कि ये  सबसे पहले तो पेट की लेयरिंग और आंतों की लेयरिंग को साफ करता है और चिपके हुए नुकासनदेह पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है। इस तरह ये सबसे पहले शरीर को डिटॉक्स करने में मदद करता है। शरीर को समय समय से डिटॉक्स होने से ब्लड सर्कुलेशन सही रहता है और  ब्लड ग्लूकोज का स्तर काफी कम हो जाता है। जिसके कारण आप डायबिटीज से बच सकते हैं। 

डायबिटीज में त्रिफला के फायदे- Triphala for diabetes in hindi 

1. इंसुलिन का प्रोडक्शन बढ़ाता है

त्रिफाल पेनक्रियाज को हेल्दी रखने में मदद करता है। ये उन्हें उत्तेजित करता है और इंसुलिन के प्रोडक्शन को बढ़ाता है। इंसुलिन डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि ये शुगर को पचाने में मदद करता है और ब्लड शुगर कंट्रोल करता है। साथ ही त्रिफला के कुछ यौगिक ग्लूकोज को वसा में परिवर्तित किए बिना और कोशिकाओं में संग्रहीत किए बिना इसे शरीर में पचाने में मदद करते हैं। जिससे डायबिटीज कंट्रोल में रहती है। इसलिए इंसुलिन का प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए त्रिफला खाना फायदेमंद है। 

Inside2bloodsugar

image credit: Everyday Health

2.  कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करता है

त्रिफला के फायदे कई हैं जिनसें से एक ये है कि ये  कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने में मदद करता है। दरअसल, अक्सर डायबिटीज के मरीजों में  कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की समस्या रहती है जिससे उन्हें जल्दी ही दिल की बीमारी होने का खतरा रहता है। त्रिफला शरीर में फैट की मात्रा को कम करने में मदद करता है। त्रिफला ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद करता है और कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है। इस तरह ये बैड कोलेस्ट्ऱॉल को कंट्रोल करता है और गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने में मदद करता है। इसलिए अगर आप कभी फैटी फूड्स खा लें तो उसके बाद त्रिफला छाछ का सेवन जरूर करें। 

इसे भी पढ़ें : डायबिटीज मरीजों को अक्सर क्यों होती है सिर दर्द की समस्या? जानें कारण और सिर दर्द दूर करने के 5 उपाय

3. डायबिटीज में कब्ज की समस्या को दूर करता है

डायबिटीज के मरीजों में कब्ज की समस्या हमेशा रहती है। इसके कारण ब्लड शुगर बढ़ा रहता है और मरीज को खान-पान से जुड़ी दिक्कते भी होती हैं। ऐसे में त्रिफला पेट को साफ करने में मदद कर सकता है। ये आपके मल में थोक जोड़ता है और आंतों के काज काज को आसान बनाते हुए स्टूल को रेगुलेट करने में मदद करता है। इसलिए कब्ज की समस्या होने पर आपको त्रिफला सेवन जरूर करना चाहिए।  

त्रिफला में आंवला है जो एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर है। ये ब्लड शुगर को कम करता है और डायबिटीज के कारण होने वाली तंत्रिका क्षति को कम करने में मदद करता है। साथ ही त्रिफला में एक घटक टर्मिनलिया बेलिरिका में एंटी डायबिटीक गुणों से भरपूर है। यह पौधा गैलिक एसिड में समृद्ध है, जो कि एक फाइटोकेमिकल की तरह काम करता है और इंसुलिन प्रतिरोध में सुधार कर सकता है, जिससे कोशिकाओं को ब्लड शुगर को अवशोषित करने में मदद मिलती है।

Main image credit: Veda Wellness

Read more articles on Diabetes in Hindi

Disclaimer